विजिलेंस जांच में फंसे बड़े अफसर, चार्जशीट तैयार

Ashok KumarAshok कुमार Updated Tue, 13 Oct 2015 11:56 AM IST
विज्ञापन
vigilence completed inquiry in AN sharma case.

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
विजिलेंस ने अवैध संपत्ति को वैध बनाने के आरोप में रिटायर्ड आईपीएस एएन शर्मा, एचएएस एमपी सूद, बिल्डर अजय गोयल, नगर निगम के एक अधिकारी और संपत्ति के मालिक रह चुके हमिंद्र लाल के खिलाफ चार्जशीट तैयार कर दी है।
विज्ञापन

चालान को कोर्ट में पेश करने के लिए विजिलेंस ने मामले में आरोपी एचएएस अफसर एमपी सूद के खिलाफ सरकार से अभियोजन मंजूरी मांगी है। ब्यूरो ने 2013 में हमिंद्र लाल के खिलाफ मामला दर्ज किया था। शिमला में उपायुक्त रह चुके स्वर्गीय महेंद्र लाल के बेटे हमिंद्र लाल की संपत्ति से जुड़ा यह मामला है।
कसुम्पटी एरिया के नजदीक निर्माण के बाद यह जांच शुरू हुई थी। एसपी (एसआईयू) डीडब्ल्यू नेगी ने कहा कि चार्जशीट में नगर निगम के दो पूर्व आयुक्त एएन शर्मा, एमपी सूद, अजय गोयल, हमिंद्र लाल और नगर निगम के एक तत्कालीन अधिकारी को आरोपी बनाया है। चार्जशीट तैयार हो गई तैयार है। अभियोजन मंजूरी के लिए फाइल सरकार को भेजी गई है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

जानिए ये है पूरा मामला

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us