लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Himachal Pradesh ›   Congress candidates win by huge victory in shimla

Shimla: जिला की आठ सीटों में से सात पर कांग्रेस का कब्जा, भाजपा ने 15 साल बाद शिमला शहरी सीट गंवाई

अमर उजाला ब्यूरो, शिमला Published by: शिमला ब्यूरो Updated Fri, 09 Dec 2022 12:12 PM IST
सार

शिमला की आठ विधानसभा सीटों पर भाजपा सिर्फ चौपाल सीट पर ही जीत हासिल कर पाई।  

Congress candidate win a large victory in shimla
Congress candidate win a large victory in shimla
विज्ञापन

विस्तार

 जिला शिमला में कांग्रेस ने अपना दबदबा कायम कर लिया है। जिले की आठ विधानसभा सीटों में से सात पर कांग्रेस ने जीत हासिल की है। भाजपा का सुरेश भारद्वाज को शहरी सीट से हटाकर कसुम्पटी से उतारने का फैसला भी गलत साबित हुआ। 15 साल बाद शहरी सीट से भाजपा के पांव उखड़ गए। यहां से कांग्रेस प्रत्याशी जनारथा ने जीत हासिल की। जिले कांग्रेस को 11.95 फीसदी वोट अधिक मिले। कांग्रेस को 49.09 फीसदी और भाजपा को 37.14 फीसदी मत मिले। जिला शिमला में 5,85,175 मतदाता हैं और 69.81 फीसदी मतदान हुआ था।



चौपाल सीट को छोड़कर जिले की बाकी सात सीटों पर कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बड़ी जीत हासिल की है। जिले की कसुम्पटी विधानसभा सीट से कांग्रेस के अनिरुद्ध सिंह ने लगातार तीसरी जीत हासिल कर हैट्रिक लगाई है। अनिरुद्ध सिंह के सामने इस बार भाजपा ने शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज के रूप में सशक्त प्रत्याशी मैदान में उतारा था। बावजूद इसके अनिरुद्ध सिंह ने 8,655 मतों के भारी अंतर से जीत हासिल की।


शिमला ग्रामीण से विक्रमादित्य सिंह लगातार दूसरी बार विजयी रहे। उन्होंने भाजपा प्रत्याशी रवि मेहता को 13,860 मतों से हराया। साल 2012 में बने इस विधानसभा क्षेत्र में इस बार भी भाजपा खाता नहीं खोल पाई। शिमला शहरी सीट भी कांग्रेस ने 15 साल बाद आखिरकार अपने कब्जे में ले ली है। इस सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी हरीश जनारथा ने भाजपा के संजय सूद को 3037 मतों से हराया।

जनारथा को पिछले दो चुनाव में हार मिली थी। तीसरे प्रयास में जनता ने उनको विधायक बना दिया है। ठियोग सीट पर भी कांग्रेस ने वापसी की है। कड़ा मुकाबला होने के बावजूद कांग्रेस प्रत्याशी कुलदीप सिंह राठौर ने यहां भाजपा के अजय श्याम को 5269 मतों से हराया। बीते चुनाव में माकपा के राकेश सिंघा ने इस सीट पर जीत हासिल की थी। रामपुर सीट पर कांग्रेस ने अपना कब्जा बरकरार रखा है। रोचक मुकाबले में कांग्रेस के नंदलाल ने भाजपा के कौल नेगी को 567 मतों से हराया।

रोहड़ू और जुब्बल कोटखाई में फिर जीती कांग्रेस
रोहड़ू सीट पर कांग्रेस के मोहनलाल ब्राक्टा ने इस बार भी बड़ी जीत हासिल की है। उन्होंने भाजपा की शशिबाला को 19,339 मतों के बड़े अंतर से हराया है। जुब्बल कोटखाई सीट पर कांग्रेस के रोहित ठाकुर ने भाजपा के चेतन बरागटा को 5069 मतों से हराया। 2017 में इस सीट पर भाजपा के नरेंद्र बरागटा ने जीत हासिल की थी। हालांकि, बाद में हुए उपचुनाव में रोहित ठाकुर जीते थे। रोहित ने इस बार भी जीत का सिलसिला कायम रखा है।

चौपाल में जीती भाजपा
जिले की चौपाल इकलौती सीट है जिस पर भाजपा जीत हासिल करने में कामयाब हो पाई है। यहां पार्टी प्रत्याशी बलवीर सिंह वर्मा ने कांग्रेस के रजनीश किमटा को 5033 मतों से हराया। पिछले चुनाव में भी बलवीर सिंह वर्मा ने ही जीत हासिल की थी।
विज्ञापन

पिछले चुनाव में यह थे समीकरण
साल 2017 में हुए चुनाव में जिले में कांग्रेस ने चार, भाजपा ने तीन जबकि माकपा ने एक सीट पर कब्जा जमाया था। इस बार कांग्रेस ने सात सीटें जीती हैं। माकपा का जिला शिमला में खाता नहीं खुल पाया। भाजपा तीन से घटकर एक सीट पर आ गई है।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00