बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

लखनऊ में प्रधान पद पर आठ गुना तो बीडीसी पर पांच गुना दावेदारों ने ठोकी ताल

Lucknow Bureau लखनऊ ब्यूरो
Updated Fri, 09 Apr 2021 01:46 AM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
लखनऊ। जिले में पंचायत चुनाव प्रक्रिया के तहत विभिन्न पदों पर आठ ब्लॉकों में दो दिन चली नामांकन प्रक्रिया में प्रधानी के पदों पर आठ गुना और क्षेत्र पंचायत सदस्य (बीडीसी) के पदों पर पांच गुना से अधिक नामांकन पत्र दाखिल हुए हैं। वहीं जिला पंचायत सदस्य के 25 वार्डों की सीटों के लिए 18 गुना से अधिक 451 उम्मीदवारों ने पर्चा दाखिल किया है। इसी तरह ग्राम पंचायत सदस्य के छह हजार से अधिक पदों के लिए 7528 दावेदार सामने आए हैं। नामांकन पत्रों की जांच नौ व 10 अप्रैल को होगी, जबकि 11 अप्रैल को नाम वापसी के बाद चुनाव चिन्ह आवंटन किया जाएगा।
विज्ञापन

दो दिनों में ब्लॉकवार विभिन्न पदों पर कुल नामांकन
ब्लॉक सदस्य ग्राम पंचायत प्रधान ग्राम पंचायत सदस्य क्षेत्र पंचायत
मोहनलालगंज 1225 744 538
बीकेटी 1186 817 645
मलिहाबाद 1114 544 526
चिनहट 225 163 129
काकोरी 821 451 381
माल 1169 588 437
सरोजनीनगर 794 456 355
गोसाईंगंज 994 517 487
योग 7528 4280 3498
विभिन्न पदों पर सीटों का विवरण
ग्राम पंचायत प्रधान पद - 494
क्षेत्र पंचायत सदस्य - 628
ग्राम पंचायत सदस्य - 6218
जिला पंचायत सदस्य - 25
कुल बिके नामांकन पत्र - 19,738
नामांकन दाखिल- 15306
भाजपा के दो प्रत्याशियों ने नहीं किया नामांकन
पंचायत चुनाव की नामांकन प्रक्रिया के आखिरी दिन गुरुवार को भाजपा को तगड़ा झटका लगा है। पार्टी द्वारा जारी जिला पंचायत सदस्यों की सूची में से दो घोषित प्रत्याशियों ने नामांकन नहीं कराया है। इससे इन वार्डों में विपक्षी पार्टियों के प्रत्याशियों के जीतने की उम्मीद है। हालांकि, एक वार्ड से भाजपा सांसद कौशल किशोर की विधवा बहू ने निर्दल प्रत्याशी के रूप में अपना नामांकन करा दिया है। भाजपा जिलाध्यक्ष श्रीकृष्ण लोधी ने बताया कि गोसाईंगंज के वार्ड संख्या के 24 से घोषित प्रत्याशी पवन कुमार वर्मा को कोरोना हो जाने से उन्होंने नामांकन नहीं कराया, जबकि विकास खंड माल के वार्ड संख्या 7 के प्रत्याशी ने किन्हीं कारणों से नामांकन नहीं कराया है। हालांकि, सांसद की बहू सरिता रावत ने इस वार्ड से अपना नामांकन पत्र भर दिया है। चूंकि सांसद जी पार्टी के है इस नाते उनकी बहू भी पार्टी की ही मानी जाएगी। पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से बात कर सांसद बहु को पार्टी की आधिकारिक प्रत्याशी बनाने पर विचार किया जाएगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X