जटिल सियासी गणित में उलझी हैं यूपी की ये 27 सीटें, कम वोटों के उलटफेर से बदल जाएंगे चुनावी नतीजे

अखिलेश वाजपेयी/अमर उजाला, लखनऊ Updated Wed, 08 May 2019 02:09 PM IST
विज्ञापन
Lok sabha elections 2019 Political equations of 27 seats of Uttar Pradesh.
- फोटो : amar ujala
ख़बर सुनें
उत्तर प्रदेश में छठे और सातवें चरण को मिलाकर अब सिर्फ 27 संसदीय सीटों पर चुनाव होना शेष है। सीटों की संख्या कम होने के बावजूद इनके नतीजे न सिर्फ पक्ष बल्कि विपक्ष के लिए भी काफी महत्वपूर्ण हैं। एक तो इन सीटों की जटिल गणित आगे के मुकाबलों को काफी रोचक बनाती दिख रही है, वहीं, भाजपा के ही नहीं विपक्ष के भी कई दिग्गजों की साख दांव पर लगी है। इनमें से कुछ मैदान में तो कुछ बाहर हैं।
विज्ञापन

दरअसल, वाराणसी, आजमगढ़, गोरखपुर, फूलपुर, गाजीपुर, मिर्जापुर, संतकबीरनगर और देवरिया जैसी सीटों के नतीजे प्रदेश के राजनीतिक समीकरणों में उलटफेर का संकेत दे रहे हैं। वाराणसी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद चुनाव लड़ रहे हैं तो बगल की सीट आजमगढ़ से सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव मैदान में हैं। भाजपा ने यहां दिनेशलाल यादव निरहुआ को उतारा है। हालांकि आजमगढ़ में अखिलेश यादव के पक्ष में समीकरण काफी मजबूत दिख रहे हैं।
बावजूद इसके किन्हीं कारणों से यदि उनकी सीट फंसती है तो दिल्ली में मायावती के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को घेरने की उनकी कोशिशों को बड़ा झटका लग सकता है। गोरखपुर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्रतिष्ठा से जुड़ी सीट है तो फूलपुर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की साख से जुड़ी है। फूलपुर में 2014 में केशव मौर्य लगभग 3 लाख के अंतर से जीते थे पर, उप चुनाव में यह सीट भाजपा के हाथ से निकल गई थी। वैसे भी फूलपुर में भाजपा सिर्फ 2014 में ही जीत पाई है।
यह भी वजह
संतकबीरनगर और देवरिया की सीट का सामान्यत: तो बहुत महत्व नहीं था पर, जूता कांड के चलते पूर्वांचल की संतकबीरनगर से देवरिया तक की पट्टी में खेमेबाजी के चलते भाजपा के समीकरण बहुत उलझ चुके हैं। मिर्जापुर से अपना दल की अनुप्रिया पटेल की जीत-हार उनके दल का भविष्य निश्चित करेगी।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

बड़ी चुनौती: छह सीटों पर भाजपा प्रत्याशियों की जीत का अंतर एक लाख से कम था

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us