गलत ‌तरीके से एडमिशन देने पर मेडिकल कॉलेज 150 छात्रों को देगा दो-दो लाख मुआवजा

ब्यूरो/अमर उजाला, लखनऊ Updated Fri, 02 Dec 2016 10:52 AM IST
huge compensation on medical college.
demo pic
हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ ने गलत तरीके से एमबीबीएस में दाखिला देने पर छात्रों को 25-25 लाख रुपये मुआवजा देने का अपना ही आदेश बदलते हुए रकम दो लाख रुपये कर दी है।

जस्टिस अमरेश्वर प्रताप साही और जस्टिस देवेंद्र कुमार उपाध्याय ने छात्रों को उनकी फीस लौटाते हुए इस रकम पर 10 फीसदी ब्याज भी देने का आदेश दिया है।

मामला डॉ. एमसी सक्सेना कॉलेज ऑफ मेडिकल साइंस का है। उसने सुप्रीम कोर्ट की रोक के बावजूद 150 छात्रों को एमबीबीएस में दाखिला दिया था। हालांकि अदालत ने फैसला खारिज करने से इन्कार कर दिया।

सात नवंबर को हाईकोर्ट ने संस्थान को निर्देश दिया था कि वह दो महीने में हरविद्यार्थी को 25 लाख रुपये अदा करे। इसके तहत संस्थान को 37.5 करोड़ रुपये चुकाने थे। संस्थान ने इस फैसले के खिलाफ अपील की थी।

प्रतिवादी मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया के अधिवक्ता ज्ञानेंद्र कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि अदालत ने जस्टिस डॉ. देवेंद्र कुमार अरोड़ा के पूर्व में दिए निर्णय को बरकरार रखा। इसके अलावा संस्थान के तीन अन्य पूर्व विद्यार्थियों की अपील भी खारिज हो गई है।
आगे पढ़ें

सुप्रीम कोर्ट की रोक के बावजूद लिया था एडमिशन

Spotlight

Most Read

Chandigarh

पंजाब: कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने दिया इस्तीफा

पंजाब के कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत सिंह ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। राणा गुरजीत ऊर्जा एवं सिंचाई विभाग के मंत्री थे।

16 जनवरी 2018

Related Videos

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर दो पहिया वाहनों को भी देना होगा भारी टोल टैक्स

अगर आप लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस वे के जरिए 19 जनवरी या उसके बाद सफर करनेवाले हैं, वो भी अपने दो पहिया वाहन से तो ये खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर चलनेवाले दो पहिया वाहनों को भी 19 जनवरी आधी रात से भारी टोल टैक्स देना होगा।

16 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper