तहखाने में लड़कियां, चल रहा था 'गंदा धंधा'

संजय त्रिपाठी/लखनऊ Updated Tue, 22 Oct 2013 02:35 AM IST
विज्ञापन
high profile sex racket busted in lucknow

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें
एक एनजीओ की सूचना पर सर्विलांस सेल की टीम ने सीओ अलीगंज के नेतृत्व में रविवार शाम मड़ियांव क्षेत्र के एक आलीशान घर पर छापा मारकर हाईप्रोफाइल सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है।
विज्ञापन

सेक्स रैकेट संचालिका के साथ सात कॉलगर्ल और उनके आठ ग्राहक गिरफ्तार किए गए। कमरों से अश्लील साहित्य, शराब व ढेरों आपत्तिजनक वस्तुएं बरामद हुई हैं।
एनजीओ 'द एलाइंस' की सूचना पर सीओ अलीगंज अखिलेश नारायण सिंह व सर्विलांस सेल के प्रभारी नागेंद्र चौबे की टीम ने मड़ियांव के बसंत विहार खदरी स्थित लालबहादुर मिश्रा उर्फ चच्चू के मकान पर छापा मारा।
होटलनुमा बने मकान के विभिन्न कमरों से सात कॉलगर्ल सात ग्राहकों के साथ आपत्तिजनक हालत में मिलीं। इसके अलावा लालबहादुर की पत्नी एक ग्राहक के साथ थी। कमरों में अश्लील साहित्य और शराब बरामद हुईं।

मौके से आठ ग्राहक गिरफ्तार किए गए। पूछताछ में खुलासा हुआ कि सभी लोग छह सौ से पांच हजार रुपये में रंगरेलियां मनाने आए थे। लालबहादुर फरार है, जबकि रैकेट संचालिका उसकी पत्नी व दो बेटियां बंदी बनाई गई हैं।

तहखाने में बंधक बनाई जाती थीं लड़कियां
होटलनुमा बने आलीशान मकान में एक तहखाना भी मिला। विभिन्न स्थानों से खरीदी नाबालिग लड़कियों को उसमें बंधक बनाकर देह व्यापार के लिए मजबूर किया जाता था। पहली बार उन्हें पेश करने के लिए ग्राहक से ऊंची कीमत वसूली जाती थी।
 
रैकेट से जुड़ी हैं आसपास के जिलों की युवतियां
पुलिस का कहना है कि देह व्यापार के आरोप में गिरफ्तार संचालिका व उसकी दो बेटियों के अलावा रायबरेली, बाराबंकी, हरदोई, बिहार, पश्चिम बंगाल की युवतियां शामिल हैं। इनमें दो नाबालिग हैं।

रायबरेली की युवती अपने डेढ़ वर्ष के बच्चे व बाराबंकी की युवती दो माह के बच्चे को साथ लेकर सुबह आती थी और दिन में दो-चार ग्राहकों से संबंध बनाने के बाद लौट जाती थी।

साठ हजार में खरीदी थी मासूम
देह व्यापार करते पकड़ी गई एक नाबालिग से पूछताछ में खुलासा हुआ कि दो साल पहले 12 वर्ष की उम्र में पिता ने उसे 60 हजार में सेक्स रैकेट संचालिका को बेच दिया था।

संचालिका ने उसके सामने खुद को ग्राहकों के सामने पेश करके ट्रेनिंग दी और देह व्यापार में उतार दिया। ग्राहक से उसके दो से पांच हजार रुपये वसूलती थी।

धंधे में इस्तेमाल हो रहे तीन मकान सील
सीओ अलीगंज अखिलेश नारायण सिंह के मुताबिक, सेक्स रैकेट संचालिका को इससे पहले दो बार गिरफ्तार किया जा चुका है। जमानत पर छूटने के बाद वह नए सिरे से धंधा कर रही थी।

इस बार देह व्यापार में इस्तेमाल हो रहे उसके तीन मकान सील किए गए हैं। संचालिका के पति के साथ रैकेट से जुड़ी कॉलगर्ल व अन्य लोगों की तलाश जारी है।

डायरी व मोबाइल से खुलेंगे राज
सर्विलांस सेल प्रभारी नागेंद्र चौबे ने बताया कि विभिन्न आपत्तिजनक वस्तुओं के साथ डायरी व मोबाइल बरामद किए गए हैं। इससे सेक्स रैकेट से जुड़े लोगों का पता लगाया जा रहा है।

नौकरी के बहाने देह व्यापार कर रही कई युवतियों के बारे में जानकारी मिली है। लड़कियों को बहला फुसलाकर देह व्यापार में धकेलने वाले लोगों का पता लगाया जा रहा है। गिरोह के तार अन्य प्रदेशों से जुड़े होने की आशंका है।

कई इलाकों में खोले थे अड्डे
एक महिला ने पुलिस टीम को जानकारी दी कि सेक्स रैकेट संचालिका इससे पहले अहिबन्नापुर, अलीगंज के सेक्टर-क्यू व इंदिरानगर में किराए के मकान में देह व्यापार करती थी।

खासी दौलत कमाने के बाद उसने बसंत विहार में होटलनुमा मकान बनवाया। ग्राहकों के लिए हर सुविधा के साथ तहखाना भी बनवाया था। इस महिला ने इलाके के पुलिसकर्मियों पर साठगांठ का आरोप लगाया।

लखनऊ की और खबरों के लिए यहां आएं....
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us