जिंदा को मृत बताकर सड़क पर कर दिया पोस्टमार्टम, अब पुलिस को 'मुर्दे' की तलाश

अमर उजाला टीम डिजिटल/जयपुर  Updated Fri, 09 Feb 2018 03:48 PM IST
Sog rajasthan Fraud gang arrested for taking death claim from insurance company
एसओजी की गिरफ्त में ठगी का शातिर गैंग - फोटो : Vishnu Sharma
एक्सीडेंट में मौत होती है, पुलिस मामला दर्ज करती है और पोस्टमार्टम भी होता है, लेकिन अब पुलिस को उस 'मुर्दे' की तलाश है जिसकी मौत हुई थी।
राजस्थान पुलिस के स्पेशल आॅपरेशन ग्रुप (एसओजी) की टीम ने एक अंतरराज्यीय गैंग का पर्दाफाश किया है। यह गैंग जिंदा व्यक्ति को मृत बताकर फर्जी पोस्टमार्टम के बाद लाखों रुपये का इंश्योरेंस क्लेम लेने की धोखाधड़ी करती है। एसओजी ने ठगी में शामिल छह आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जबकि दो लोग फरार है। 

एसओजी एडीजी उमेश मिश्रा ने बताया कि रघुराज चौहान उम्र 36 साल और राजेश कुमार उम्र 48 साल निवासी पालम विहार, गुरुग्राम, हरियाणा हाल मैनेजर यूनियन बैंक आॅफ इंडिया है। तीसरा आरोपी एडवोकेट चतुर्भुज मीणा उम्र 48 साल निवासी नांगल राजावतान, दौसा है। चौथा आरोपी यशवंत सिंह उर्फ यश चौहान निवासी उत्तरप्रदेश हाल ओखला, नई दिल्ली है। पांचवां आरोपी रमेशचंद्र जाटव उम्र 49 साल निवासी हिंडौन सिटी, करौली हाल सहायक पुलिस निरीक्षक थाना रामगढ़ पचवारा जिला दौसा है। जबकि छठा आरोपी डॉक्टर सतीश कुमार खंडेलवाल उम्र 54 साल निवासी आदर्श कॉलोनी, थाना कोतवाली जिला दौसा है। वह सरकारी अस्पताल में वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी है। इसके अलावा दिल्ली निवासी आॅटोरिक्शा चालक जितेंद्र सिंह व उसकी पत्नी फरार है। जिनकी तलाश की जा रही है।
आगे पढ़ें

जिसको मृतक बताया वह दिल्ली में चला रहा आॅटोरिक्शा

Spotlight

Most Read

Nainital

जहर खाने से किसान की मौत

जहर खाने से किसान की मौत

23 फरवरी 2018

Related Videos

सख्त हुई राजस्थान सरकार, बच्चियों से रेप करने वालों को देगी ये सजा

राजस्थान में छोटी बच्चियों के खिलाफ बढ़ते रेप के मामलों के मद्देनजर प्रदेश सरकार जल्द ही कठोर कानून ला सकती है।

20 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen