लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Haryana ›   Sirsa News ›   Sent four accused including XEN of Public Health Department to jail

नकली केबल मामला: पूछताछ के बाद पुलिस ने निशानदेही पर 10 हजार की नकदी की बरामद, भेजे जेल

Amar Ujala Bureau अमर उजाला ब्यूरो
Updated Fri, 02 Dec 2022 11:02 PM IST
Sent four accused including XEN of Public Health Department to jail
सिरसा। ट्यूबवेलों में घटिया सामान व केबल लगाने के मामले में पुलिस की ओर से पकड़े गए जन स्वास्थ्य विभाग के एक्सईएन सहित चार आरोपियों की रिमांड अवधि खत्म होने के बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है। पूछताछ के बाद पुलिस ने आरोपियों की निशानदेही पर 10 हजार की नकदी बरामद की है। पुलिस अब मामले से जुड़े अन्य आरोपियों व ठेकेदारों की गिरफ्तारी के लिए छापामार कार्रवाई कर रही है।

बता दें कि शहर थाना पुलिस ने बुधवार रात को पब्लिक हेल्थ विभाग के अधिकारी एक्सईएन रणजीत सिंह मलिक, सेवानिवृत्त एसडीओ कालूराम, कनिष्ठ अभियंता मोहन लाल व जेई सीताराम को गिरफ्तार किया था, जिन्हें कोर्ट में पेश करने के बाद पुलिस ने उन्हें एक दिन की रिमांड पर लिया। वहीं, इस मामले में ट्यूबवेल लगाने वाले पांच ठेकेदारों पर भी पुलिस की ओर से मामला दर्ज किया गया था। ठेकेदारों को गिरफ्तार करने के लिए अब पुलिस उनके निर्माणाधीन कार्यों व उनके आवास पर दबिशें डाल रही है। हालांकि अभी कोई भी ठेकेदार पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ पाया है। पुलिस ने मैसर्स एचएस कांट्रेक्टर, रणधीर सिंह ठेकेदार, हरमीत सिंह ठेकेदार, मैसर्स गणेश कंस्ट्रक्शन कंपनी, सुखविंद्र सिंह ठेकेदार के खिलाफ मामला दर्ज किया था। उक्त ठेकेदारों की ओर से ही आठ ट्यूबवेल लगाए गए थे।

नकली केबल मामले में पकड़े गए आरोपियों की रिमांड अवधि खत्म होने के बाद उन्हें जेल भेज दिया है। पूछताछ में निशानदेही पर चारों आरोपियों से 10 हजार की नकदी बरामद की गई है। मामले से जुड़े अन्य आरोपियों को पकड़ने के लिए धरपकड़ जारी है।
धर्मवीर, शहर थाना प्रभारी, सिरसा ।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

क्षमा करें यह सर्विस उपलब्ध नहीं है कृपया किसी और माध्यम से लॉगिन करने की कोशिश करें

;

Followed

;