रोहतक में 800 लोगों को मलेरिया!

Rohtak Updated Mon, 24 Sep 2012 12:00 PM IST
रोहतक। जिले में मलेरिया बेकाबू हो गया है। अस्पतालों में मरीजाें की बढ़ती भीड़ से स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन में हड़कंप मचने लगा है। विभाग और प्रशासन अभी मलेरिया से निपटने के उपाय ही सोच रहा है और जिले में डेंगू ने भी दस्तक दे दी है। अब तक मलेरिया के 800 लोगों के पीड़ित होने की पुष्टि हो गई है वहीं डेंगू के भी पांच मरीजों का पता चला है। इनमें से एक मरीज की पीजीआई में उपचार के दौरान मौत होने की भी खबर है। उप जिला सिविल सर्जन ने भारी संख्या में लोगों को मलेरिया होने की पुष्टि करते हुए बताया कि बीमारी की रोकथाम के लिए जिले के गांवों-कस्बों में मरीजों को प्रारंभिक इलाज दिया जा रहा है।
जिले के विभिन्न सरकारी और निजी अस्पतालों में आठ सौ से अधिक मलेरिया रोगियों का इलाज चल रहा है। सरकारी अस्पताल के डाक्टरों ने बताया कि मलेरिया के रोगियों की संख्या रोजाना बढ़ रही है। जिले में स्वास्थ्य विभाग ने हालांकि कुछ दिन पहले मलेरिया पर नियंत्रण का दावा करते हुए कहा था कि जिले में मलेरिया को रोकने के लिए पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। लेकिन अब अचानक ही बीमारी के बेकाबू होने से स्वास्थ्य विभाग के हाथ-पैर फूल गए है। मलेरिया के साथ ही जिले में डेंगू के पांच मामले भी सामने आने से हालात चिंताजनक हो गए हैं। फिलहाल डेंगू से निपटने के लिए पीजीआई में अलग से वार्ड बना दिया गया है और वहां डाक्टरों की तैनाती के साथ ही आवश्यक दवाओं की व्यवस्था भी कर दी गई है। लेकिन सरकारी अस्पतालों में डेंगू के निपटने के लिए कोई विशेष व्यवस्था अभी तक नहीं की जा सकी है। ऐसे में मरीजों की संख्या बढ़ने पर स्थिति फिर विकट हो सकती है।
सिविल अस्पताल के उप जिला सिविल सर्जन डा. विजय सिंह का कहना है कि जिले में करीब आठ सौ लोग मलेरिया रोग से पीड़ित पाए गए हैं। उन्होंने कहा कि बीमारी की रोकथाम के लिए जिले से सभी गांव और कस्बों में मरीजों को प्रारंभिक इलाज उपलब्ध कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले में डेंगू के मामले भी सामने आ रहे हैं और अब तक डेंगू से एक मरीज की मौत हो चुकी है। उन्होंने आगे कहा कि स्वास्थ्य विभाग बीमारी पर काबू पाने के लिए पूरी तरह अलर्ट है।
उधर, पीजीआई रोहतक की प्रवक्ता सीमा दहिया ने बताया कि डेंगू के रोगियों को उचित इलाज मुहैया कराने के लिए पीजीआई पूरी तरह सजग है और अस्पताल में विशेष वार्ड की स्थापना की गई है। उन्होंने बताया कि पीजीआई डे केयर सेंटर में पुख्ता प्रबंध किए गए हैं और पीजीआई में डेंगू के उपचार के लिए दवाइयां भी पर्याप्त मात्रा में मौजूद हैं।

बाक्स
दिन में काटता है डेंगू का मच्छर
उप जिला सिविल सर्जन डा. विजय सिंह ने बताया कि डेंगू का मच्छर दिन में काटता है जबकि मलेरिया फैलाने वाले मच्छर रात के समय काटते हैं। उन्होंने कहा कि इन रोगों से बचने के लिए लोगों को चाहिए कि वे अपने आसपास के क्षेत्र का साफ सुधरा रखें और मच्छरों को न पनपने दें।

Spotlight

Most Read

National

'पद्मावत' के विरोध में मल्टीप्लेक्स के टिकट काउंटर में लगाई आग

रात करीब पौने दस बजे चार-पांच युवक जिन्होंने अपने चेहरे ढक रखे थे, मॉल में आए और टिकट काउंटर के पास पहुंच कर उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया।

20 जनवरी 2018

Related Videos

अब इस हरियाणवी गायिका की हत्या, पुलिस पर लगे गंभीर आरोप

हरियाणा के रोहतक जिले में एक खेत से महिला की लाश बरामद होने से सनसनी फैल गई। महिला की पहचान हरियाणवी गायिका ममता शर्मा के रूप में हुई। इस संबंध में ममता शर्मा के बेटे ने पुलिस को शिकायत भी दर्ज कराई थी।

19 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper