मोगा में एडिशनल जिला मैजिस्ट्रेट को धमकाने के आरोप में केस दर्ज

Panchkula Bureauपंचकुला ब्‍यूरो Updated Wed, 26 Sep 2018 10:28 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
सभी केंद्र
विज्ञापन

मोगा में एडिशनल जिला मजिस्ट्रेट को धमकी, केस दर्ज
आरोपी ने पुलिस वाला होने की धमकी देते कहा, तू जो करना कर ले
पंचायती चुनाव के दौरान कांग्रेस विधायकों के खिलाफ दी थी धमकी देने की शिकायत
दविंदर पाल सिंह
मोगा। थाना सिटी पुलिस ने एडिशनल जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) को सरकारी रिहायश पर धमकाने के आरोप में केस दर्ज किया है। दूसरी तरफ एडीएम कम एडीसी ने बताया कि उन्होंने सत्ताधारी पार्टी के विधायकों खिलाफ शिकायत दी लेकिन 15 दिन बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई है। एडिशनल जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) जगविंदर सिंह ग्रेवाल ने बताया कि 23 सितंबर को सुबह 10 बजे दो युवकों ने उनकी सरकारी रिहायश में जबरन दाखिल होने की कोशिश की। इन्होंने कहा कि वह कोठी में पहले काम करके गए हैं और टाइलें देखनीं हैं। एडीसी ने बताया कि इस मौके इन युवकों से नाम पूछा तो उन्होंने बताने से इंकार कर दिया। उन्होंने बताया कि एक ओर नौजवान बाइक के पास खड़ा था। इस दौरान उन्होंने फोन पर पुलिस को शिकायत करनी चाही तो नौजवान ने धमकी देते कहा कि वह भी पुलिस वाला ही है, ‘तू जो करना कर ले ’। यह नौजवान बॉडी बिल्डर लग रहा था। एडीसी ने कहा वह इन दोनों नौजवानों को सामने आने पर पहचान सकते हैं।
इस मौके एडिशनल जिला मजिस्ट्रेट (एडीएम) कम एडीसी जगविंदर सिंह ग्रेवाल ने कहा कि उन्होंने सत्ताधारी पार्टी के दो विधायकों और हलका बाघापुराना से कांग्रेस विधायक के खिलाफ धमकाने की दी शिकायत लेकिन 15 दिन बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई। यह शिकायत उन्होंने राज्य सरकार के आला अधिकारियों को भी की लेकिन अब तक शिकायत के संबंध में कोई जांच नहीं की गई, न ही उनसे संपर्क किया गया। एडीसी ग्रेवाल ने शिकायत में कहा कि पंचायती चुनाव के दौरान एमएलए मोगा, धर्मकोट, बाघापुराना एमएलए के बेटे के अलावा 20-25 अन्य ने जिला सचिवालय में उनके ऑफिस में घुसकर विरोधी उम्मीदवारों के पेपर रद्द करने के लिए दबाव डाला। इस मौके उनके 400-500 अन्य साथी बाहर मौजूद थे। उन्होंने बताया कि इस हालात में उनको चुप चाप दफ्तर से निकलना पड़ा था। अब इस मामले को घर में धमकाने के मामले से भी जोड़ा जा रहा है।
फोटो कैप्शन - एडीएम जगविंदर सिंह ग्रेवाल
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us