विज्ञापन

दिल्ली से रोजाना गायब हो रहे चार बच्चे

New Delhi Updated Sun, 14 Oct 2012 12:00 PM IST
ख़बर सुनें
नई दिल्ली। महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा का दम भरने वाली दिल्ली पुलिस शायद इन आंकड़ों से चौंक जाए, लेकिन यह हकीकत है कि राजधानी से रोजाना औसतन चार बच्चे गायब हो रहे हैं। पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक पिछले सालों की तुलना में बच्चे लापता होने के मामले दोगुने हो गए हैं। पीड़ित परिवार पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हैं, वहीं पुलिस अधिकारी काम का अधिक बोझ होने की दुहाई दे रहे हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
दिल्ली पुलिस के आंकड़ों के अनुसार वर्ष 2006 में दिल्ली से 405 बच्चे गायब हुए थे। 2012 में 12 अक्तूबर तक 1032 बच्चे गायब हो चुके हैं। दिल्ली के सभी 11 जिलों में बाहरी दिल्ली में अब तक सबसे अधिक 175 और दक्षिण-पूर्व जिले से 155 बच्चे गायब हुए हैं। पुलिस के एक अधिकारी का कहना है कि ज्यादातर मामलों में बच्चे अपनी मर्जी से नाराज होकर घर से चले जाते हैं। समय बीतने के बाद वह घर वापस लौट आते हैं। ऐसे मामलों में भी मजबूरन पुलिस को अपहरण का मामला दर्ज करना पड़ता है।
बच्चों के अपहरण के बढ़ते मामलों पर परिजनों का कहना है कि पुलिस एफआईआर दर्ज कर मामलों को भूल जाती है। परिवार खुद अपने बच्चों को तलाश करता है या वह खुद अपनी किस्मत से घर पहुंच जाते हैं। दबी जुबान में एक अधिकारी ने बताया कि स्टाफ की कमी और काम के दबाव में ऐसा होता है।

बच्चों के गायब होने के बाद एफआईआर दर्ज कर उनकी तलाश के लिए हर संभव प्रयास किए जाते हैं। ज्यादातर बच्चे ग्रामीण और जेजे कैंप इलाकों से गायब हो रहे हैं
राजन भगत, प्रवक्ता, दिल्ली पुलिस

इस वर्ष अब तक बच्चे गायब होने के मामले

मध्य जिला 55
ईस्ट जिला 112
उत्तरी जिला 29
नई दिल्ली जिला 17
उत्तरी-पूर्वी जिला 92
बाहरी जिला 175
उत्तर-पश्चिम जिला 104
दक्षिण-पूर्व जिला 155
दक्षिण-पश्चिम जिला 90
पश्चिमी जिला 117
दक्षिण जिला 86

2006 से 2012 के बीच गायब बच्चे

वर्ष बच्चे गायब
2006 405
2007 474
2008 615
2009 694
2010 857
2011 946
2012 1032

(आंकड़ों का स्रोत दिल्ली पुलिस वेबसाइट)

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

ज्योतिरादित्य सिंधिया: अचानक हुई राजनीति में एंट्री, कैसे बने राहुल गांधी के जिगरी

ग्वालियर राजघराने के महाराजा और गुना लोकसभा सीट से सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया का कद आज भारत की राजनीति में काफी बड़ा है। लेकिन उनकी पहली पसंद राजनीति नहीं थी। एक हादसे के बाद उन्हें राजनीति में आना पड़ा। देखिए सिंधिया का सफरनामा

10 दिसंबर 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election