आपका शहर Close

सोशल मीडिया पर अपनों का शिकार हो रहीं महिलाएं

अमित सिंह/अमर उजाला, नोएडा

Updated Sat, 07 Oct 2017 09:38 AM IST
women are targeting on Facebook by relatives
सोशल मीडिया एक तरफ अभिव्यक्ति और सामाजिक दायरा बढ़ाने की आजादी देता है तो वहीं कई बार कुछ लोगों के लिए बड़ा खतरा भी बन जाता है। विशेष तौर पर महिलाओं के लिए। सोशल मीडिया पर महिलाओं के प्रोफाइल पर आपत्तिजनक पोस्ट और उनकी फर्जी प्रोफाइल बनाने की शिकायतें बढ़ती जा रही हैं।
इससे भी ज्यादा चौंकाने वाली बात ये है कि इस तरह के 90 फीसदी मामलों में आपत्तिजनक पोस्ट या फर्जी प्रोफाइल बनाने वाला कोई जानकार ही होता है। इतना ही नहीं साइबर क्राइम के इस मामले का शिकार होने वाली 50 फीसदी पीड़िताओं को उनके फर्जी प्रोफाइल या आपत्तिजनक पोस्ट की जानकारी काफी देरी से मिलती है।

इन्हें अक्सर इनके सोशल मीडिया के दोस्त इस संबंध में जानकारी देते हैं। मतलब पीड़िता जब तक पुलिस या सोशल मीडिया से शिकायत कर कोई कार्रवाई करती है, तब तक काफी देर हो चुकी होती है।

अनजान फोन कॉल से पता चला फर्जी प्रोफाइल का
नोएडा के सेक्टर-27 में पति से अलग रहने वाली एक महिला का फेसबुक पर अश्लील प्रोफाइल बनाने का मामला कुछ दिनों पहले सामने आया था। किसी ने महिला के फेसबुक से उसकी फोटो लेकर उसका एक फर्जी अश्लील प्रोफाइल बना दी थी। इस फर्जी प्रोफाइल पर महिला का मोबाइल नंबर भी डाल दिया गया था। इसके बाद महिला को अनजान नंबरों से ऊटपटांग फोन आने शुरू हो गए। ऐसे ही एक नंबर पर महिला ने जब कॉलर को पुलिस से शिकायत करने की चेतावनी दी, तो उसने बताया कि फेसबुक पर उसका अश्लील प्रोफाइल बना है। उसे वहीं से उसका नंबर मिला था। इसके बाद महिला ने साइबर क्राइम सेल में शिकायत की। जांच में फर्जी प्रोफाइल बनाने वाला उसका एक पड़ोसी निकला था।

ब्लैकमेल करने के लिए भी बनाते हैं फर्जी प्रोफाइल
नोएडा साइबर क्राइम सेल के प्रभारी निरीक्षक विवेक रंजन राय के मुताबिक सोशल मीडिया पर फर्जी प्रोफाइल बनाने का मकसद संबंधित शख्स को बदनाम करना होता है। कई बार इसे ब्लैकमेल करने के लिए भी बनाया जाता है। इस तरह के मामलों में पीड़िता को काफी नुकसान होता है, क्योंकि आरोपी उसके बारे में बहुत कुछ जानता है।

सोशल मीडिया कंपनियों से नहीं मिलती जानकारी
इस तरह के मामलों में पुलिस के सामने जांच में सबसे बड़ी चुनौती होती है कि फेसबुक, व्हाट्स ऐप, इंस्टाग्राम, ट्विटर जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म उन्हें आसानी से ब्योरा उपलब्ध नहीं कराते हैं। ऐसे बहुत से मामले हैं, जिन मामलों में साइबर सेल द्वारा संबंधित सोशल मीडिया को कई बार ई-मेल करने पर भी उनकी तरफ से पूरी जानकारी उपलब्ध नहीं कराई गई। काफी प्रयास करने पर संबंधित प्रोफाइल को बंद कर दिया जाता है।

पुलिस बल और संसाधनों की कमी 
साइबर क्राइम के मामलों में परेशानी तकनीकी ही नहीं व्यावहारिक भी है। दरअसल, नोएडा जैसे हाईटेक शहर में भी सोशल मीडिया की अच्छी जानकारी रखने वाले पुलिसकर्मियों की संख्या काफी कम है। इसके अलावा साइबर क्राइम के मामलों की जांच के लिए केवल इंस्पेक्टर या उनसे सीनियर रैंक के अधिकारी ही अधिकृत हैं। नोएडा साइबर सेल में केवल एक इंस्पेक्टर हैं, जबकि यहां प्रतिदिन पांच-छह शिकायतें आती हैं। अगर किसी मामले में आरोपी का पता लग जाए तो उसे पकड़ने, तलाश करने या दबिश देने के लिए भी साइबर सेल के पास पर्याप्त पुलिस बल व संसाधन उपलब्ध नहीं है।

जानकारी का अभाव है मुख्य वजह
यूपी एसटीएफ के एसपी व साइबर क्राइम विशेषज्ञ डॉ. त्रिवेणी सिंह के अनुसार सोशल मीडिया की रेस में शामिल होने की होड़ मची है। बहुत से लोग सोशल मीडिया पर प्रोफाइल बना लेते हैं, लेकिन लंबे समय तक उसे देखते भी नहीं हैं। ज्यादातर यूजर्स को साइट पर मौजूद सुरक्षा विकल्पों की जानकारी ही नहीं होती है। ऐसे में इंटरनेट और सोशल मीडिया के प्रति लोगों को जागरूक करना बेहद आवश्यक है। स्कूल-कॉलेज इसका अच्छा माध्यम हो सकते हैं।

कैसे करें बचाव
- बच्चों को सोशल मीडिया से दूर रखें।
- सोशल मीडिया अकाउंट पर अपना पूरा (मिडिल या लास्ट) नाम, घर का पता, मोबाइल नंबर, व्यक्तिगत ई-मेल आईडी आदि न लिखें। इससे आपकी पहचान चोरी होने का खतरा होता है।
- सोशल मीडिया पर मजबूत प्राइवेसी सेंटिंग रखें। इससे अनजान व्यक्ति, जो आपकी फ्रैंड लिस्ट में नहीं है आपका प्रोफाइल नहीं देख सकेगा।
- अपनी सही लोकेशन या घर में अकेले होने की जानकारी बिल्कुल शेयर न करें।
- आपत्तिजनक पोस्ट की तुरंत वेबसाइट पर शिकायत करें। सभी सोशल साइट्स पर इसका विकल्प मौजूद रहता है।
- बेहतर पासवर्ड बनाएं, जिसमें शब्द, अंक और विशेष साइन का इस्तेमाल करें। 
- सोशल मीडिया पर कोई ऐसी चोज पोस्ट न करें जो भविष्य में आपके लिए परेशानी का सबब बन सकती हो।
- लॉग इन अलर्ट और टू स्टेप लॉग इन विकल्प का चुनाव करें।
- उन्हीं सोशल वेबसाइट पर अकाउंट बनाएं, जिन्हें आप नियमित देख या प्रयोग कर सकें। प्रयोग न होने वाले सोशल मीडिया अकाउंट को डिलीट कर दें।
- अकाउंट रिकवरी के लिए उन सुरक्षा सवालों का चुनाव न करें, जिसकी जानकारी आपकी प्रोफाइल पर न हो। आप खुद अपना सुरक्षा सवाल भी तैयार कर सकते हैं।

नोएडा साइबर सेल को इस वर्ष प्राप्त शिकायतें
सोशल मीडिया क्राइम
फेसबुक - 205
व्हाट्स ऐप - 17
आपत्तिजनक कॉल या मैसेज - 15
अन्य अपराध - 184
Comments

Browse By Tags

noida news

स्पॉटलाइट

मांग में सिंदूर, हाथ में चूड़ा पहने अनुष्का की पहली तस्वीर आई सामने, देखें UNSEEN PHOTO और VIDEO

  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

अब संजय दत्त के साथ नजर आएंगी नरगिस, शुरू की फिल्म की शूटिंग

  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

अनुष्‍का के लिए विराट ने शादी में सुनाया रोमांटिक गाना, कुछ देर पहले ही वीडियो आया सामने

  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

विराट-अनुष्का का रिसेप्‍शन कार्ड सोशल मीडिया पर हुआ वायरल, देखें कितना स्टाइलिश है न्योता

  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

विराट की शादी का ट्वीट 65 हजार से ज्यादा हुआ रीट्वीट, अनुष्का के एक्स ब्वॉयफ्रेंड ने नहीं दी बधाई

  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

Most Read

चित्रकूट में डबल मर्डर से सनसनी, खून से लथपथ हालत में मिलीं बुजुर्ग दंपति की लाशें

Double Murder in Chitrakoot
  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

SPA की आड़ में चल रहा था देह व्यापार, ऑनलाइन तलाशे जाते थे ग्राहक

sex racket was running on the name of spa
  • सोमवार, 11 दिसंबर 2017
  • +

पूर्व मंत्री गायत्री प्रसाद प्रजापति के बेटे सहित सात पर केस दर्ज

case filed against gayatri prajapati son.
  • मंगलवार, 12 दिसंबर 2017
  • +

महिला ने कहा साहब टॉयलेट बनवा दीजिए, जवाब मिला पहले यौन संबंध बनाइए

Chhattisgarh Instead of making toilet municipal officer demanded to Sex with women in Raigarh
  • शनिवार, 9 दिसंबर 2017
  • +

NSG कमांडो ने पत्नी और साली को गोली मारकर खुद भी की आत्महत्या

Manesar: nsg commando commits suicide in nsg camp after shooting wife and sister in law
  • बुधवार, 6 दिसंबर 2017
  • +

हनीमून मनाकर घर लौट रहे थे दो जोड़े, हादसे में नवविवाहिता की मौत

newly married girl died in road accident near pathankot
  • सोमवार, 11 दिसंबर 2017
  • +
Top
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper
Your Story has been saved!