सरकारी अस्पताल ने आधार कार्ड ना होने पर बीमार बच्ची के इलाज में की देरी, हुई मौत

ब्यूरो/अमर उजाला, फरीदाबाद Updated Fri, 08 Dec 2017 10:57 AM IST
eleven months old girl child dead due to late medication in bk hospital in faridabad
bk hospital - फोटो : अमर उजाला
बीके सिविल अस्पताल मेें बुधवार सुबह लाई गई 11 माह की इलाज के दौरान मौत हो गई। बच्ची के माता पिता ने आरोप लगाया कि आधार कार्ड न होने की वजह से अस्पताल में दाखिल नहीं किया, इलाज न मिलने से उसकी मौत हो गई।
अस्पताल प्रशासन के मुताबिक बच्ची को मरणासन्न हालत में भर्ती कराया गया था, काफी प्रयास के बावजूद बच्ची को नहीं बचाया जा सका। मौत का शिकार हुई 11 माह की बच्ची डबुआ निवासी बबलू की बेटी थी।

बबलू के मुताबिक बेटी को चार दिन से उल्टी दस्त आ रहे थे। बच्ची को एयरफोर्स रोड स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बुधवार को बच्ची की हालत खराब होने पर अस्पताल वालों ने उसे बीके सिविल अस्पताल ले जाने की सलाह दी।

इस पर दंपती बच्ची को बीके सिविल अस्पताल लेकर पहुंचे। बबलू की पत्नी कमलेश का आरोप है कि यहां बच्ची को लेकर पहुंचे तो ओपीडी कार्ड बनवाने को कहा गया। कार्ड बनवाने गए तो आधार कार्ड मांगा गया।
आगे पढ़ें

Spotlight

Most Read

National

शादी के उपहार में आई शुभकामना ने बनाया दुल्हन को विधवा

ओडिशा के बोलांगिर जिले के पटनागढ़ में शादी की खुशी में अचानक मातम पसर गया यहां रिसेप्शन समारोह में किसी ने गिफ्ट पैक में विस्फोटक भेज दिया।

24 फरवरी 2018

Related Videos

अधिकारियों को मारना चाहिए, ठोकना चाहिए: आप विधायक

दिल्ली में आम आदमी पार्टी के विधायक नरेश बालियान ने एक विवादित बयान देकर चीफ सेक्रेटरी से मारपीट विवाद को हवा दे दी है।

23 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen