लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   ram rahim convicted in sadhvi rape case, violence may be in haryana

खुफिया इनपुट: राम रहीम को सजा हुई तो हरियाणा में फिर हो सकती है हिंसा

मोहित धुपड़/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Mon, 28 Aug 2017 09:36 AM IST
रोहतक में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
रोहतक में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
विज्ञापन
राम रहीम साध्वी रेप केस में दोषी करार दिए गए हैं। खूफिया एजेंसियों के मुताबिक, जब उन्हें सजा सुनाई जाएगी तो हरियाणा में फिर से हिंसा और उपद्रव हो सकता है।


खुफिया एजेंसियों ने हरियाणा सरकार को ये इनपुट दिया है कि अब रोहतक में डेराप्रमियों ने जुटना शुरू कर दिया है। हालांकि सुनारिया जेल (जहां दोषी डेरामुखी को रखा गया है) रोहतक से करीबन 12 किलोमीटर दूर आउटर इलाके में स्थिति है, लेकिन उसके बावजूद काफी संख्या में डेराप्रेमी रोहतक शहर में जुटने लगे हैं।


इसलिए 28 अगस्त को जिस दिन सुनारिया जेल में दोषी बाबा को सजा का एलान होगा, फिर से डेरा प्रेमी बवाल कर सकते हैं। इस पर डीजीपी बीएस संधू ने कहा कि रोहतक में डेरा प्रेमी जुट रहे हैं, यह जानकारी मिल गई है, लेकिन उसी हिसाब से इंतजाम इतने पुख्ता किए जा रहे हैं कि पंचकूला उपद्रव जैसी पुनरावृत्ति नहीं होगी।

उनके अनुसार रोहतक में मौजूद डेरा प्रेमियों पर भी पैनी नजर रखी जा रही है। सुनारिया जेल की सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है। देर रात रोहतक पहुंची बीएसएफ की दो कंपनियों को सुनारिया जेल के चारों तरफ तैनात कर दिया गया। सीआईएसएफ के जवान जेल के चारों तरफ तैनात थे।

सेना को स्टैंड-बाय रखा गया है

रोहतक में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
रोहतक में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
रोहतक पुलिस के जवान भी तैनात किए गए हैं, ताकि जवानों को भौगोलिक स्थिति या किसी को पहचानने में दिक्कत न आए। अर्द्धसैनिक बलों के अलावा सेना को स्टैंड-बाय रखा गया है। एक घंटे के नोटिस पर सेना रोहतक पहुंच जाएगी।

सुनारिया जेल में जेल अधीक्षक सुनील सांगवान के अलावा पलवल जेल के अधीक्षक दीपक शर्मा और रेवाड़ी जेल के अधीक्षक सुरेंद्र दलाल को तैनात किया गया है। आईजी जेल जगजीत सिंह भी यहीं पर हैं। वहीं दूसरी ओर सिरसा का डेरा सच्चा सौदा सरकार के निशाने पर है। हाईकोर्ट के तेवरों के बाद हरियाणा सरकार ने सख्ती बरतने का मूड बना लिया है।

सात सौ एकड़ में फैले सिरसा डेरे को मिलिट्री और पैरा मिलिट्री फोर्स ने पूरी तरह से घेर लिया है। हालांकि ,फोर्स अभी डेरे के भीतर नहीं घुसी है, लेकिन डेरे के आसपास उन इलाकों को खाली करवाया जा रहा है। डेरे के आसपास घेराबंदी कर लोगों पर दबाव बनाया जा रहा है कि वे डेरे से खुद ही शांतिपूर्वक बाहर निकल जाएं।

डेरे में साजिश की प्लानिंग को लेकर अलर्ट

रोहतक में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
रोहतक में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम
उधर, केंद्रीय खुफिया एजेंसी आईबी ने फिर से सरकार को अलर्ट किया है कि डेरे के भीतर काफी संख्या में डेरा अनुयायी मौजूद हैं और काफी आक्रोशित भी हैं। खुफिया एजेंसियां अब इस बात की जानकारी जुटाने में लगी हैं कि इस उपद्रव के बाद डेरे के भीतर अब क्या योजना चल रही है? क्या डेरे में किसी बड़ी साजिश की प्लानिंग तो नहीं की जा रही है?

डेरे के भीतर किसी प्रकार के घातक हथियारों का जमावड़ा तो नहीं? डेरे के भीतर वास्तव में कितने अनुयायी हैं? क्या ये अनुयायी शांतिपूर्वक डेरे से बाहर निकलना चाहते हैं? कुछ ऐसी बात तो नहीं, जो डेरामुखी को सजा सुनाने के बाद फिर से बड़े उपद्रव का कारण बन जाए? हरियाणा सीआईडी विभाग की टीमें भी पूरी तरह सिरसा में सक्रिय है और डेरे के भीतर की गतिविधियों को जुटाने में लगी हुई हैं।

डेरे से बाहर आने चाहते हैं कुछ समर्थक
हरियाणा के डीजीपी बीएस संधू ने स्वीकार किया कि डेरे के भीतर की गतिविधियों पर पैनी नजर रखी जा रही है। मिलिट्री और पैरामिलिट्री फोर्स के बूते डेरे के बाहर पूरा दबाव बनाया जा रहा है। डीजीपी हरियाणा के अनुसार करीबन तीन हजार लोग डेरे से बाहर शांतिपूर्वक आ चुके हैं और अभी भी उनकी स्वेच्छा अनुसार उन्हें बाहर निकाला जा रहा है। डीजीपी के अनुसार अभी डेरे केभीतर कोई फोर्स नहीं घुसी, लेकिन अंदर की पूरी जानकारी जुटाई जा रही है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00