जाट आरक्षण पर भाजपा में रार: सैनी हुए मुखर, आलाकमान गंभीर

ब्यूरो/अमर उजाला, कुरुक्षेत्र(हरियाणा) Updated Sun, 03 Apr 2016 01:32 AM IST
jat researvation, raj kumar saini, jat protest, haryana govt, haryana, kurukshetra
बीजेपी सांसद राज कुमार सैनी - फोटो : फाइल फोटो
हरियाणा में जाटों को आरक्षण देने के विरोध में कुरुक्षेत्र से भाजपा सांसद राजकुमार सैनी के सरकार और जाटों पर हमले जारी है। आलाकमान की ओर से उनके प्रति कड़ा रुख दिखाने जाने के बावजूद वो बैकफुट पर आने के मूड में नहीं दिख रहे। सैनी ने शुक्रवार को यहां अपने निवास पर फिर कहा कि जाटों ने बंदूके बल पर आरक्षण लिया है।

उन्होंने कहा कि प्रांत के सीएम ने कहा कि मैंने कहा था इसलिए आरक्षण दिया गया। इस पर मेरा सवाल है कि क्या विशेष समुदाय प्रांत के सीएम की कुर्सी या फिर देश के प्रधानमंत्री की कुर्सी देने की बात करेगी तो क्या हम उन्हें दे देंगे। कभी नहीं देंगे...तो विशेष जाति के आह्वान पर आरक्षण क्यों दे दिया गया।

सैनी ने कहा कि विधानसभा में आरक्षण बिल पारित करते समय केवल 10 मिनट ही लगे। किसी भी मंत्री या फिर विधायक से किसी भी प्रकार की चर्चा नहीं कि गई। इससे जाहिर होता है कि आरक्षण की सारी जिम्मेदारी एक मात्र सरकार की है और सरकार सीएम चलाता है।

उन्होंने कहा कि जब कभी भी आरक्षण की बात होती थी तो किस बिरादरी को आरक्षण मिलना चाहिए और किस को नहीं इसके लिए पिछड़ा वर्ग आयोग से सलाह मशवरा किया जाता था लेकिन हरियाणा में विशेष जाति समुदाय को आरक्षण देने के मामलें में जल्दबाजी की गई। उन्होंने कहा कि वे ओबीसी के तयशुदा आरक्षण से छेडछाड़ के विरोध में वे आखिरी दम तक लड़ते रहेंगे।

लोकसभा में जेएनयू जैसे मुद्दों पर चर्चा, हरियाणा के दंगों पर क्यों नहीं
सैनी ने कहा कि लोकसभा में जेएनयू पर घंटो चर्चा की गई, लेकिन पिछले दिनों पूरे हरियाणा को जला दिया गया इस पर एक मिनट भी चर्चा नहीं कि गई बल्कि शून्य काल में जब मैं बतौर सांसद इस मुद्दे पर बोलने के लिए उठा तो मेरा माइक तक बंद कर दिया गया ताकि कोई कुछ भी सुन न सकें।  

प्रो. विरेंद्र पर सैनी ने कहा कि यह सब कुछ प्रायोजित था। जिस व्यक्ति ने ऑडियों के द्वारा आरक्षण की आग को भड़काने का काम किया है इसके अलावा और किसी भी प्रकार के सबूत की आवश्यकता ही नहीं है।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

14 साल के इस बच्चे ने कराई चार कैदियों की रिहाई, दान में दी प्राइज मनी

14 साल के आयुष किशोर ने चार कैदियों की रिहाई के लिए दान कर दी राष्ट्रपति से मिली प्राइज मनी।

22 जनवरी 2018

Related Videos

और भी उलझा जींद गैंगरेप-मर्डर केस, अब इस एंगल से जांच कर रही है हरियाणा पुलिस

हरियाणा के जींद में हुआ गैंगरेप और मर्डर अब और भी उलझ गया है। दरअसल पुलिस जिस शख्स को केस में आरोपी मान कर जांच कर रही थी, उसकी डेड बॉडी कुरुक्षेत्र में बरामद हुई है। अब पुलिस कई अन्य एंगल से मामले की जांच कर रही है।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper