चरस तस्करी में दो को 15 साल कैद

ब्यूरो/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Wed, 22 Jan 2014 06:18 PM IST
two to 15 years in prison for smuggling hashish
46 किलो चरस तस्करी के मामले में अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश शालिनी सिंह नागपाल की अदालत ने मंगलवार को नई दिल्ली के उत्तमनगर निवासी हंसराज और जयपुर (राजस्थान) के पवन को एनडीपीएस एक्ट की धारा के तहत 15 साल की सजा सुनाई है।

अदातल ने दोनों तस्करों पर डेढ़-डेढ़ लाख रुपये जुर्माना किया। अदालत ने मंगलवार को पवन और हंसराज को दोषी करार दिया था।

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो को 28 मार्च 2011 को सूचना मिली थी कि होंडा सिटी कार नं. डीएल 3 सीक्यू-2329 में दो तस्कर जम्मू से चरस लेकर चंडीगढ़ आ रहे हैं।

एनसीबी टीम ने ट्रिब्यून चौक के पास नाका लगाया। एनसीबी टीम ने गाड़ी को आता देख रुकने का इशारा किया। गाड़ी से दिल्ली के हंसराज और जयपुर के पवन उतरे। टीम ने जब कार की सीट फाड़ी तो अंदर से 25 पेकैट चरस बरामद हुई।

इसमें 46 किलो चरस थी। एनसीबी टीम ने हंसराज और पवन को गिरफ्तार कर एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया था।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

तेज धमाके के बाद खुला दिल्ली की 150 फुट लंबी सुरंग का राज, ये थी बनाए जाने की वजह

राजधानी दिल्ली के द्वारका में 150 फुट लंबी सुरंग मिलने से सनसनी मच गई है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: चंडीगढ़ का ये चेहरा देख चौंक उठेंगे आप!

‘द ग्रीन सिटी ऑफ इंडिया’ के नाम से मशहूर चंडीगढ़ में आकर्षक और खूबसूरत जगहों की कोई कमी नहीं है। ये शहर आधुनिक भारत का पहला योजनाबद्ध शहर है। लेकिन इस शहर को खूबसूरत बनाये रखने वाले मजदूर कैसे रहते हैं यह देख आप हैरान हो जायेंगे।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls