बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

सुखना लेक में फिर खुदकुशी की कोशिश

ब्यूरो/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Tue, 07 Apr 2015 04:38 PM IST
विज्ञापन
try to commit suicide by man in sukhna lake, chandigarh

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
सुखना लेक में युवक ने कूदकर जान देने की कोशिश की। वहां खड़े कुछ लोगों ने उसे तत्काल बाहर निकाल लिया । पुलिस ने उसे पीजीआई में भर्ती कराया है। आरोपी की पहचान किशनगढ़ निवासी चंदन गुप्ता (29) के रूप में हुई है। वह किशनगढ़ में कुक का काम करता है।
विज्ञापन


प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि चंदन गुप्ता रेगुलेटरी एंड के पास खड़ा था। अचानक उसने रेगुलेटरी एंड की सीढ़ियों की तरफ जाकर पानी में छलांग लगा दी। वहीं दूसरी तरफ पुलिस का कहना है कि चंदन ने रेगुलेटरी की सीढ़ियों पर बैठा हुआ था। वह चक्कर आने की वजह से गिरा है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।


एक बड़ा सवाल
पुलिस पूरे सुखना लेक पर सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता होने का दावा कर रही है। बावजूद सबसे ज्यादा घटनाएं रेगुलेटरी एंड हो रही हैं। जबकि जिस तरफ लेक चौकी बनी है, उधर हादसे न के बराबर होते हैं। रेगुलेटरी एंड की साइड में किशनगढ़ पड़ता है। इसकेे साथ हाल ही के दोनों हादसों में किशनगढ़ निवासी शामिल थे।

पुलिस ने बदला बयान
सुखना लेक में 9वीं की छात्रा द्वारा छलांग लगाए जाने की लोगों द्वारा पुष्टि होने के बाद पुलिस ने अपना बयान बदल दिया। कार्यवाहक चौकी इंचार्ज लक्खा सिंह ने बताया कि छात्रा ने लेक में छलांग लगाकर जान देने की कोशिश की थी। जबकि घटना के दौरान पुलिस का कहना था कि छात्रा लेक पर टहल रही थी।

पैर फिसलने से वह रेगुलेटरी एंड में जा गिरी थी। उन्होंने बताया कि छात्रा जहां गिरी, वहां पर पानी नहीं था। अब या तो पुलिस झूठ बोल रही हो या फिर पब्लिक।

एक हफ्ते में दूसरी घटना
एक सप्ताह में खुदकुशी की दूसरी घटना ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगा दिया है। दोनों वारदातों में जान बचाने वाले राहगीर ही रहे। जबकि पुलिस दावा करती है कि सुरक्षा को लेकर पुलिस जवान पैनी नजर रखे हुए हैं। सबसे बड़ा सवाल यह है कि घटना के वक्त पुलिस जवान कहां रहते हैं। इसका जवाब किसी अधिकारी के पास नहीं है।

चंदन ने रेगुलेटरी में कूदकर खुदकुशी की कोशिश नहीं की है। वह सीढ़ियों पर बैठा हुआ था और चक्कर आने से वजह से गिरा है। उसका उपचार चल रहा है। उसने पुलिस को अपना बयान दर्ज कर रहा दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
- डा. गुर इकबाल सिंह सिद्धू, एएसपी

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us