बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

साढ़े सात लाख की फिरौती देने के बाद छूटा डॉक्टर, अब हुआ है ये बड़ा खुलासा

रमेश शुक्ला सफर/अमर उजाला, अमृतसर(पंजाब) Updated Sun, 21 May 2017 09:18 AM IST
विज्ञापन
डॉक्टर मनीष शर्मा
डॉक्टर मनीष शर्मा - फोटो : file photo

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
डॉक्टर का अपहरण करके जिन गैंगस्टरों गोपी घनश्यामपुरिया और हैरी चड्डा ने साढ़े सात लाख की फिरौती वसूली और रविवार को दोबारा 60 लाख रुपये की डिमांड रखी, वे छेहरटा में नकली पहचान के साथ छुपे हुए थे। यह जानकारी पुलिस के हाथ लगी है। 
विज्ञापन


सूत्रों के अनुसार पुलिस मान रही है कि गैंगस्टर किसी बड़ी वारदात के लिए पैसों का इंतजाम कर रहे हैं। जिस तरह से फिरौती वसूलने के बाद फिर से 60 लाख की रकम मांगी गई है उससे साफ जाहिर होता है कि गैंगस्टरों ने जो प्लान बनाया है उसमें कई ऐसे लोग निशाने पर हैं जिनसे गैंगस्टर फिरौती वसूलने के मंसूबे पाले हैं। गैंगस्टर रेकी करके सारी प्लानिंग कर रहे हैं। 


 पुलिस ने दोनों गैंगस्टरों को गिरफ्तार करने के लिए एसटीएफ की मदद मांगी है। एसटीएफ के साथ-साथ सभी सुरक्षा और खुफिया एजेंसियां भी दोनों गैंगस्टरों तक पहुंचने की कवायद में हैं। दोनों गैंगस्टर विक्की गौंडर के साथी हैं।  हैरी और चड्डा दोनों एक साथ कई वारदात को अंजाम दे चुके हैं।

इनमें गुरदासपुर में एक साथ तीन लोगों के मर्डर और 17 मई को रंजीत एवेन्यू में आईलेट्स अकादमी चलाने वाले शख्स को अगवा करने की कोशिश शामिल है। सूत्रों के अनुसार गैंगस्टरों ने अमृतसर के करीब छह डॉक्टरों से फिरौती वसूली है। वहीं डॉ. मनीष को गनमैन दे दिए गए हैं, घर के बाहर सिक्योरिटी लगा दी गई है।  
विज्ञापन
आगे पढ़ें

घर में कैद हुआ परिवार

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us