चुस्ती दिखाने पर सीआईए के 6 पुलिसकर्मी सस्पेंड

ब्यूरो/अमर उजाला, रोहतक(हरियाणा) Updated Tue, 07 Apr 2015 10:15 PM IST
6 policemen of cia team suspended
ख़बर सुनें
सीआईए पुलिस की एक टीम को हद से ज्यादा चुस्ती दिखाना व दूसरी टीम को सुस्ती दिखाना महंगा पड़ गया। एसपी ने सीआईए-1 के 6 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। साथ में विभागीय जांच के आदेश भी दिए हैं।
एसपी ने बताया कि एक सप्ताह पहले पुलिस ने शिवाजी कॉलोनी थाने के अंतर्गत अनाज मंडी में छापा मारकर 10 लाख की अवैध शराब पकड़ी। जांच के दौरान पता चला कि अवैध शराब के बारे में छापे से पहले ही सीआईए पुलिस को पता था।

बावजूद इसके न तो छापेमारी की गई और न ही आला अधिकारियों को बताया गया। इस मामले में एएसआई देवेंद्र सिंह, हवलदार गोरख व सिपाही हिम्मत सिंह को संस्पेंड किया गया है। उधर, दूसरे मामले में एसपी को पता चला कि सीआईए वन की एक टीम ने जींद जिले में जाकर नशीला पदार्थ पकड़ने के लिए छापेमारी की।

इस बारे में न तो जींद पुलिस को विश्वास में लिया गया और न ही जिले के आला अधिकारियों से अनुमति ली। इस लापरवाही पर एएसआई सतीश कुमार, हवलदार अमित व रघबीर सिंह को सस्पेंड किया गया है।

सभी 6 पुलिसकर्मियों के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश भी दिए गए हैं। पूरे मामले में सीआईए प्रभारी मनोज कुमार ने कुछ भी बताने से इंकार कर दिया है।

अमित भाटिया, डीएसपी ने कहा कि एसपी शशांक आनंद ने जांच के बाद सभी 6 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड किया है। एसपी चंडीगढ़ गए हुए हैं। ऐसे में मेरे पास कोई जानकारी नहीं है।

RELATED

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

Spotlight

Most Read

Lucknow

चेकिंग अभियान में पुलिस के हत्थे चढ़ा 50 हजार का इनामी बदमाश

सीतापुर पुलिस को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है। इमलिया सुल्तानपुर थाना क्षेत्र में शुक्रवार देर रात जारी चेकिंग अभियान के दौरान पुलिस की 50 हजार के इनामी बदमाश मेहदिया उर्फ मोहर सिंह से मुठभेड़ हो गई।

26 मई 2018

Related Videos

VIDEO: इस एलान के बाद अब मुसलमान सिर्फ मस्जिद में पढ़ सकेंगे नमाज

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने नमाज को लेकर बयान दिया है। खट्टर ने कहा है कि हरियाणा में सार्वजनिक जगहों पर नमाज नहीं पढ़ी जाएगी। सिर्फ मस्जिदों में ही नमाज पढ़ी जाए।

6 मई 2018

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे कि कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स और सोशल मीडिया साइट्स के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज़ नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज़ हटा सकते हैं और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डेटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy और Privacy Policy के बारे में और पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen