पठानकोट: राज मिस्त्री ने फंदा लगा की खुदकुशी, जहरीला पदार्थ निगलने से 19 वर्षीय युवती की मौत

संवाद न्यूज एजेंसी, पठानकोट (पंजाब) Published by: ajay kumar Updated Thu, 26 Aug 2021 09:22 PM IST

सार

पठानकोट के बारठ साहब में एक 35 वर्षीय राजमिस्त्री ने फंदा लगाकर अपनी जान दे दी। वहीं गांव हरियाल में जहरीला पदार्थ निगलने से युवती की मौत हो गई है। राज मिस्त्री ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा। इसी के आधार पर पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। 
प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

पंजाब के पठानकोट के बारठ साहब के रहने वाले 35 वर्षीय राजमिस्त्री अभिमन्यु ने पंखे से फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। पुलिस को मृतक अभिमन्यु के पास से पंजाबी में लिखा एक सुसाइड नोट मिला है। उसमें उसने पत्नी-साला समेत तीन लोगों को अपनी मौत का जिम्मेदार ठहराया है।
विज्ञापन


फिलहाल पुलिस ने सुसाइड नोट कब्जे में लेकर मां के बयान पर जांच शुरू कर दी है। वहीं, मृतक ने सुसाइड नोट में पत्नी के साथ झगड़े की वजह धर्म परिवर्तन बताया है। पुलिस ने पत्नी का धर्म परिवर्तन करवाने वाले व्यक्ति को भी नामजद किया है। मृतक की मां विमला देवी ने बताया कि कुछ दिन पहले घर में उसका बेटा और बहु में झगड़ा हुआ था। 


बहु ने अपने पिता और भाइयों को बुला लिया, जिसके बाद उसकी बहु अपने मायके चली गई। बहु ने बेटे के खिलाफ पुलिस से शिकायत कर दी। डर के मारे उसका बेटा घर नहीं आ रहा था। राखी पर भी बहन से राखी बंधवाने घर नहीं आया। विमला देवी ने बताया कि बुधवार रात को उसका बेटा रात 10 बजे घर आया और पूछा कि पुलिस तो नहीं आई। उसके बाद वह कमरे में सोने चला गया। 

घर में मौजूद उसका पोता अपने पिता अभिमन्यु से गेम खेलने के लिए मोबाइल फोन लेने गया तो देखा कि अभिमन्यु पंखे से लटक रहा था। उन्होंने शोर मचाया, जब तक बेटे को नीचे उतारा गया तो उसकी मौत हो चुकी थी। उधर, सदर थाना प्रभारी मनजीत कौर ने बताया कि पुलिस ने मृतक के पास से मिले सुसाइड नोट के आधार पर पत्नी दीपक माला, साला प्रवीण और दयाल के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

19 वर्षीय युवती ने निगला जहरीला पदार्थ, मौत 
पठानकोट के गांव हरियाल की युवती ने गलती से जहरीला पदार्थ निगल लिया जिससे उसकी मौत हो गई है। थाना मामून के एएसआई संजीव कुमार ने बताया कि मृतका की पहचान 19 वर्षीय कुसुम शर्मा निवासी हरियाल के रूप में हुई है।

मृतका की माता मीनू कुमारी ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि कुसुम काफी समय से डिप्रेशन में थी। बुधवार को उसने गलती से कोई जहरीला पदार्थ निगल लिया, जिससे उसकी तबीयत बिगड़ गई। उसे तुरंत मामून स्थित निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया। जहां पर उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। पुलिस ने मीनू कुमारी के बयान के आधार पर कार्रवाई करते हुए शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00