लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Bihar ›   Bihar Legislature Session: Today's name of supplementary budget and discussion, chances of uproar

Bihar : सदन में नेता प्रतिपक्ष ने उठाया शिक्षकों की बहाली का मुद्दा, संविदाकर्मी को नियमित करने की भी मांग

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, पटना Published by: आदित्य आनंद Updated Thu, 02 Mar 2023 02:41 PM IST
सार

Bihar: बिहार विधानसभा में आज तृतीय अनुपूरक बजट पेश किया जाएगा और यह पूरा दिन इस बार वित्त मंत्री की ओर से पेश बजट के नाम पर आरक्षित है। 

Bihar Legislature Session: Today's name of supplementary budget and discussion, chances of uproar
भाजपा विधायकों ने किया हंगामा। - फोटो : अमर उजाला

विस्तार

बिहार विधानसभा में आज तृतीय अनुपूरक बजट पेश किया जाएगा और यह पूरा दिन इस बार वित्त मंत्री की ओर से पेश बजट के नाम पर आरक्षित है। गुरुवार को सदन की कार्यवाही शुरू होती ही भाजपा नेता प्रतिपक्ष ने सेना का अपमान करने वाले मंत्री और भाजपा नेता को अपशब्द करने वाले पर कार्रवाई की मांग की। इधर, लंच के बाद सदन की कार्यवाही फिर शुरू हुई। नेता प्रतिपक्ष ने कई मुद्दों पर सरकार को घेरा। इसके बाद सदन की कार्यवाही स्थगित शुक्रवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई। 



नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा ने तमिलनाडु में बिहारी मजदूर की हत्या मामले पर सरकार से सवाल किए। रोजगार के सवाल पर सरकार को घेरा। कहा कि विश्वविद्यालय में बहाली करने की बात कही गई थी। 2 साल बीत गए अब तक बहाली नहीं हो पाई। आज विश्वविद्यालय की मान्याताओं पर खतरा उत्पन्न हो गया। क्या कारण है सरकार जवाब दें। एक तरफ शिक्षकों की नियुक्ति की बात करते हैं। दूसरी तरफ उनपर लाठीचार्ज कर उनकी आवाज को कुचला जा रहा है। उपमुख्यमंत्री आपको तो चुनावी वादा भी याद नहीं है। क्या आप सत्ता के सुख में डूबकर आप अपने वादे भी भूल गए। आप कहते थे कि संविदाकर्मी अनुभवी हो गए हैं उन्हें प्राथमिकता दी जाएगी। आप उन्हें क्यों नहीं नियमित करते हैं। संविदाकर्मियों को भविष्य को क्यों अधर में लटका दिया?


बिहारी मजदूर की हत्या मामले पर सरकार से सवाल
नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा ने तंज कसते हुए कहा किवित्त मंत्री जी मनसा श्रेय देने का नहीं बल्कि श्रेय लेने की रहती है। अनुशासित वित्तीय प्रबंधन ही किसी राज्य की विकासगाथा होती है। वित्तीय अनियमितता से राज्य की स्थिति खराब रहती है। 2005 से पहले बिहार की वित्तीय स्थिति अराजकता का प्रतीक था। पूरे देश में बिहार की वित्तीय अनियमितता कुख्यात था। इसी बीच महागठबंधन के विधायक खड़े होकर नेता प्रतिपक्ष से सवाल पूछने लगे। नेता प्रतिपक्ष ने उन्हें टोका कि बीच में भटकाने की कोशिश न करें।

जंगलराज वापस आया निवेशक ठहर गए
नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि 2005 के बाद हमारे वित्तीय मंत्री सुशील मोदी ने अनुशासन और अथक प्रयास के जरिए बिहार की वित्तीय अनियमितता को ठीक किया था। उद्योग को बढ़ावा देने के लिए हमारे पूर्व मंत्री शाहनवाज हुसैन ने अथक प्रयास किया। उन्होंने राज्य में इथनॉल प्लांट पर सफल और उसमें निवेश के लिए अथक प्रयास किया था। लेकिन वित्त मंत्री जी ने उनका नाम एक बाद भी नहीं लिया। भाजपा जबतक सरकार में थी तो निवेशक बिहार में आ रहे थे। लेकिन जब से फिर जंगलराज वापस आया निवेशक ठहर गए। अब वह बिहार नहीं आ रहे।

ग्राम रक्षा दल के समायोजन की मांग रखी
इसके बाद महागठबंधन और विपक्ष के नेताओं के बीच नोंकझाेंक होने लगी। इसी बीच प्रश्न काल के दौरान एक सवाल पर मंत्री और अध्यक्ष एक साथ बोल पड़े कि दिखवा रहे। भाजपा विधायकों ने आरोप लगाया कि सदन में विपक्ष की आवाज दबाने की कोशिश की जा रही है। इसके बाद भाजपा विधायकों ने वॉकआउट कर दिया।  इधर, ग्राम रक्षा दल के समायोजन की मांग रखी जा रही है। कई सदस्य इसकी मांग रख रहे हैं। इसमें कहा गया कि टाइम फिक्स करने की भी मांग की। 04 मार्च को दो बजे मंत्री के साथ बैठकर फैसला लेंगे।

Bihar Legislature Session: Today's name of supplementary budget and discussion, chances of uproar
विधानसभा परिसर में हंगामा करने माले विधायक। - फोटो : अमर उजाला
विधायक ने कहा कि विपक्षी सदस्य नंगा नाच कर रहे हैं
इसी बीच सदन में एक विधायक ने कहा कि विपक्षी सदस्य नंगा नाच कर रहे हैं तो अध्यक्ष बोले कि वह लोग जनता को दिखा रहे हैं कि वह कितने जिम्मेदार हैं। जनता देख रही है। इसके बाद प्रश्नोत्तर काल समाप्त हो गया। इधर, विपक्ष के विधायक अरुण शंकर प्रसाद, विजय खेमका, जय प्रकाश यादव, संजय सरावगी आदि की ओर कार्यस्थगन प्रास्ताव दिया गया था। तृतीय अनुपूरक बजट और वित्तीय वर्ष 2023-24 बजट को आधार बनाते हुए अध्यक्ष ने कार्यस्थगन प्रस्ताव खारिज कर दिया

नेता प्रतिपक्ष ने शहीद के परिजनों से बदसलूकी, मुजफ्फरपुर में मारे गए युवक के लिए मंत्री को हटाने जैसे मुद्दों के साथ उठाया। साथ ही बिहार पर बढ़ रहे अपराध को लेकर भी सरकार को घेरा। विधानसभा अध्यक्ष ने पूछा कि विरोध दल क्या प्रश्न काल नहीं चलने देना चाह रही। इसी बीच भाजपा विधायक सदन में सरकार के विरोध में नारेबाजी करने लेगे। 

तमिलनाडु जाकर पिकनिक मनाते हैं उपमुख्यमंत्री
नेता प्रतिपक्ष विजय सिन्हा ने कहा कि तमिलनाडु में हमारे लोगों की हत्या हो रही है। पीटा जा रहा है और हमारे उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव वहां पिकनिक मानने जाते हैं। इससे पहले विधानसभा परिसर में भाजपा विधायकों ने जमकर हंगामा किया।

विधायक हरिभूषण ठाकुर बचौल ने कहा कि तमिलनाडु में बिहार के मजदूरों की हत्या हो रही है। बिहारी लोगों को पीटा जा रहा है, उन्हें अपमानित किया जा रहा है। और तेजस्वी जी चार्टर्ड प्लेन में बैठकर केक खा रहे हैं। 

मुख्यमंत्री नीतीश बोले-  मजदूरों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्दश
इधर, भाजपा विधायकों द्वारा तमिलनाडु में बिहारी मजदूर की हत्या को लेकर प्रदर्शन के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ट्वीट किया। उन्होंने कहा कि मुझे समाचार पत्रों के माध्यम से तमिलनाडु में काम कर रहे बिहार के मजदूरों पर हो रहे हमले की जानकारी मिली है। मैंने बिहार के मुख्य सचिव एवं पुलिस महानिदेशक को तमिलनाडु सरकार के अधिकारियों से बात कर वहां रह रहे बिहार के मजदूरों की सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है।


माले विधायकों ने किया हंगामा, भाजपा विधायक पर कार्रवाई की मांग
माले विधायकों ने कहा कि बुधवार को भाजपा के विधायक संजय सरावगी ने विधायक महबूब आलम को जिन्ना और मीर जाफर की औलाद कहा था। ये आपत्तिजनक बयान है। हमलोग सदन से भाजपा नेता पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। अगर उनपर कार्रवाई नहीं हुई तो हमलोग हंगामा करेंगे। 

तीसरे दिन भी भाजपा विधायकों ने किया था प्रदर्शन
इधर, बिहार विधानमंडल के सत्र के तीसरे दिन की बात करें तो बुधवार को दोनों सदन की कार्यवाही के दौरान विपक्ष में बैठी भाजपा ने जमकर हंगामा किया। विधानसभा की कार्यवाही शुरू होती ही भाजपा विधायक शहीद जय कुमार सिंह के पिता की गिरफ्तारी को लेकर हंगामा करने लगे। वेल में जाकर हंगामा किया। यहां तक कुर्सिंया तक उठा ली। इसके बाद तेजस्वी यादव ने इस मामले में सरकार की ओर सफई दी। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि रक्षा मंत्री ने फोन कर सेना के परिजनों के बारे में बताया और अधिकारियों को कहा ऐसा क्यों किया। इस मामले में DSP को तलब किया गया। मुख्यमंत्री के संबोधन के दौरान ही भाजपा नेता सदन से वॉकआउट कर गए। 
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

फॉन्ट साइज चुनने की सुविधा केवल
एप पर उपलब्ध है

बेहतर अनुभव के लिए
4.3
ब्राउज़र में ही
एप में पढ़ें

क्षमा करें यह सर्विस उपलब्ध नहीं है कृपया किसी और माध्यम से लॉगिन करने की कोशिश करें

Followed