विज्ञापन
विज्ञापन
जानें सूर्य का राशि परिवर्तन किन राशियों की लव लाइफ के लिए रहेगा शुभ
Rashifal

जानें सूर्य का राशि परिवर्तन किन राशियों की लव लाइफ के लिए रहेगा शुभ

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Digital Edition

बिहार: जान का खतरा बताने पर जेडीयू विधायक गोपाल मंडल ने भाजपा एमएलए को कहा ‘बैल’

गोपालपुर से जदयू विधायक गोपाल मंडल गोपालपुर से जदयू विधायक गोपाल मंडल

साइबर ठगी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़, एटीएम क्लोनिंग कर उड़ाते थे पैसे

बिहार के भागलपुर में एटीएम की क्लोनिंग कर उससे ठगी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़ कर  पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल की है। मामले में पुलिस ने भागलपुर शहर के ही एक चर्चित होटल में रूम लेकर रुके तीन ठगों को गिरफ्तार कर लिया। भागलपुर पुलिस ने सोमवार को इसकी जानकारी दी।

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए तीनों ठगों के पास से दर्जनों एटीएम कार्ड, स्वाइप मशीन, नकद, मोबाइल और एक कार बरामद की गई है। गिरफ्तार लोगों में गया जिला और झारखंड के कोडरमा जिला के लोग शामिल हैं।  पुलिस ने बताया कि विगत डेढ़ वर्षों में भागलपुर जिला के विभिन्न थानों में एटीएम क्लोनिंग कर साइबर ठगी करने के एक दर्जन से भी अधिक मामले संज्ञान में आ चुके हैं।

भागलपुर के एसएसपी ने बताया कि शनिवार रात उन्हें गुप्त सूचना मिली कि जोगसर थाना क्षेत्र स्थित एक होटल में चार लोग ठहरे हुए हैं। उनके पास कई एटीएम कार्ड हैं। उक्त गिरोह के एटीएम क्लोन करने वाले गिरोह के सदस्यों के होने की आशंका पर एसएसपी ने फौरन सिटी एसपी के नेतृत्व में विशेष छापेमारी टीम का गठन किया। विशेष टीम ने देर रात छापेमारी में होटल के कमरे में ठहरे तीन लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। उनसे कई सामान भी बरामद भी किए गए।
 
... और पढ़ें

खरमास में सियासत के अहम फैसले: तय होगा सुशील मोदी का भविष्य, एमएलसी मनोनयन और जदयू का विस्तार

प्रदर्शन करते किसान
हिंदू पंचांग के तहत 15 दिसंबर से खरमास का महीना शुरू हो गया है, जो 14 जनवरी तक रहेगा। इस महीने में भले ही नए काम नहीं किए जाते हैं, लेकिन बिहार की राजनीति से लेकर केंद्र सरकार के अहम फैसले 15 दिसंबर से 14 जनवरी तक ही लिए जाएंगे। इस दौरान राजनीतिक गतिविधियां काफी तेज रहेंगी। दरअसल, बिहार में मंत्रिमंडल विस्तार होना है, जिसके लिए नए चेहरों का फैसला इसी माह होगा। इसके अलावा केंद्र सरकार में भी मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चा जोरों पर है। 

बिहार में होगा मंत्रिमंडल विस्तार

बता दें कि 17वीं विधानसभा चुनाव के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सिर्फ 15 विधायकों के साथ शपथ ग्रहण की थी। अभी उनकी कैबिनेट में 21 और मंत्रियों को एंट्री होनी है। ऐसे में नए चेहरों पर फैसला इसी महीने किया जा सकता है, जिससे बाकी मंत्रियों पर विभागों का बोझ कम किया जा सके।

राज्यपाल कोटे से एमएलसी मनोनयन

गौरतलब है कि राज्यपाल कोटे से विधान परिषद सदस्यों के मनोनयन की बात भी अटकी हुई है, जिस पर फैसला इसी महीने में होना तय है। दरअसल, अशोक चौधरी और मुकेश सहनी बिना किसी सदन के सदस्य बने मंत्रिमंडल में शामिल हुए। ऐसे में नए एमएलसी के लिए चयन का काम भी इसी महीने होगा।

केंद्र में मंत्रिमंडल विस्तार

रामविलास पासवान के बाद खाली हुए मंत्रालय के लिए केंद्र सरकार को फैसला लेना बाकी है। हालांकि, यहां के लिए सबसे ज्यादा चर्चा सुशील मोदी के नाम की है। किसान आंदोलन का दंश झेल रही केंद्र सरकार भी मंत्रिमंडल का विस्तार करेगी। रामविलास पासवान के मंत्रालय के लिए सबसे ज्यादा चर्चा सुशील मोदी के नाम पर ही है। माना जा रहा है कि सुशील मोदी का भविष्य और कुछ मंत्रालयों के फेरबदल के फैसले इसी महीने ही लिए जाएंगे, लेकिन उन पर मुहर अगले महीने लगेगी।
... और पढ़ें
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X