कानपुर में ट्रेन पलटाने की साजिश, सीबीआई को सिमी पर शक

टीम डिजिटल, अमर उजाला, कानपुर Updated Sat, 14 Jan 2017 03:09 PM IST
turned train simi plot suspect
सीबीआई को सिमी पर शक
कानपुर-फर्रूखाबाद रेल ट्रैक पर मंधना स्टेशन के पास 31 दिसंबर की देर रात पटरी काटकर और पैंड्रॉल क्लिप खोलकर ट्रेन पलटाने की साजिश में आतंकी वारदात से पूरी तरह इनकार नहीं किया जा सकता है। आशंका है कि 2 जनवरी को लखनऊ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से पहले ऐसा करने में आतंकियों ने सिमी के स्लीपिंग माड्यूल्स का इस्तेमाल किया। शुक्रवार को घटना की जांच करने लखनऊ से आई सीबीआई टीम ने शुरुआती जांच के बाद ये आशंकाएं व्यक्त की हैं। केंद्र सरकार के निर्देश पर जांच करने आई सीबीआई टीम अपनी रिपोर्ट दिल्ली भेजेगी। वहां के निर्देश के बाद आगे जांच होगी। इस मामले में अमर उजाला ने पहले ही आतंकी साजिश होने की आशंका जताते हुए खबरें प्रकाशित कीं थीं। दोपहर करीब 12:10 बजे सीबीआई की पांच सदस्यीय टीम मंधना रेलवे स्टेशन से कल्याणपुर की ओर दो किलोमीटर दूरी पर स्थित घटनास्थल खंभा नंबर 16/1 पर पहुंची। टीम ने वारदात के बाद घटनास्थल पर सबसे पहले पहुंचे ट्रैकमैन संजीव कुमार, रामराज, सीनियर सेक्शन इंजीनियर जहीर खान और मंधना स्टेशन मास्टर दर्शन सिंह से वारदात की पड़ताल की। टीम ने घटना के सीन को रीक्रिएट कराया। आसपास के गांवों, स्कूल-कॉलेज, यहां रहने वालों, पटरी तक पहुंचने के रास्तों, उस दिन के मौसम, पैंड्रॉल क्लिपों, जॉगल फिश प्लेट (दो पटरियों को जोड़ने के लिए लगाई गई क्लिप) आदि की डिटेल जुटाई। टीम ने आरपीएफ और स्थानीय पुलिस की जांच के निष्कर्षों से बारे में भी जाना। आरपीएफ और स्थानीय बिठूर थाने के जांच अधिकारियों के बयान दर्ज किए। आरपीएफ और बिठूर थाने में दर्ज एफआईआर की कॉपी भी ली। टीम ने बगदौधी बांगर गांव के ग्राम प्रधान से भी पूछताछ की।
लखनऊ से आई पांच सदस्यीय सीबीआई टीम ने मंधना में घटनास्थल पर की जांच पड़ताल

Spotlight

Most Read

Nainital

बाइक सवारों को लूटने वालों का सुराग नहीं

बाइक सवारों को लूटने वालों का सुराग नहीं

26 फरवरी 2018

Related Videos

VIDEO: यूपी में खेल में बच्चों संग भेदभाव, यहां टीचर्स भिड़ गए आपस में

यूपी के हमीरपुर में बेसिक शिक्षा की खेलकूद व योगासन प्रतियोगिता के दौरान बांदा और चित्रकूट के शिक्षकों ने निर्णायक टीम पर भेदभाव का आरोप लगाया और मामले की जांच कराए जाने की मांग की।

25 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen