विज्ञापन
विज्ञापन

किसानों की गिरफ्तारी को गई पुलिस पर बरसे पत्थर, दो एसओ सहित दर्जनों सिपाही घायल

टीम डिजिटल/ अमर उजाला, कानपुर Updated Sun, 18 Dec 2016 11:38 PM IST
डेमो
डेमो
ख़बर सुनें

खास बातें

दस से अधिक पुलिसकर्मी घायल, हमीरपुर में भर्ती 
सीएम की जनसभा के उत्पातियों को पकड़ने गई थी 
एसएसपी कानपुर भारी पुलिस बल के साथ मौके पर 
आंदोलनकारी किसानों ने रविवार की शाम गिरफ्तार करने आए पुलिस दल पर जमकर पथराव किया। हमले में सजेती, हमीरपुर, मौदहा, बिधनू एसओ के अलावा हमीरपुर एसओजी प्रभारी सहित दस से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो गए।। गंभीर घायल आठ पुलिस कर्मियों को जिला अस्पताल हमीरपुर में भर्ती कराया गया है। किसानों की जबरदस्त तैयारी के चलते पुलिस को मौके से पीछे हटने को मजबूर होना पड़ा। 
विज्ञापन
वहीं, बवाल  की सूचना पर एसएसपी (कानपुर) आकाश कुलहरि और एसपी (ग्रामीण) राजेश सिंह भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। किसानों के धरनास्थल से दो किलोमीटर पहले पुलिस बल के साथ मौजूद अधिकारी कई घंटे तक खड़े होकर अग्रिम रणनीति बनाने में जुटे रहे। 
बता दें कि नेयवेली पावर प्लांट में अधिग्रहीत भूमि का नई दरों पर मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को नौकरी दिलाए जाने की मांग को लेकर इलाके के किसान भाकियू के बैनर तले 21 नवंबर से आंदोलन कर कर रहे हैं। नेयवेली के साइट आफिस के ठीक बगल में बने जानकी धर्मशाला में उनका प्रदर्शन जारी है। 

15 नवंबर को किसानों ने हमीरपुर में सीएम अखिलेश यादव के कार्यक्रम में जमकर उत्पात मचाया था, जिसका मुकदमा वहां दर्ज हुआ है। रविवार की शाम करीब 3.30 बजे सीओ घाटमपुर राजेश पांडेय की अगुवाई में हमीरपुर कोतवाली, थाना मौदहा और सुमेरपुर की पुलिस धरना स्थल पर नामजद किसान नेताओं की गिरफ्तारी करने पहुंची। साथ में सजेती एसओ एपी वर्मा भी थे। 

इधर, किसानों को इसकी भनक पहले ही लग गई और वह पूरी तैयारी के साथ धरने पर डटे थे। लाठी-डंडों और ईंट-पत्थर के साथ ही हंसिया, खुर्पी, फावड़ा, कुल्हाड़ी और फरसे के साथ ही असलहे भी  लिए थे। जैसे ही पुलिस धरनास्थल पर घुसने लगी उन्होंने पथराव शुरू कर दिया। 

महिलाओं और युवकों ने पुलिस वालों पर जमकर पथराव किया और लाठियां भांजीं, जिसमें सजेती एसओ एपी वर्मा, हमीरपुर कोतवाल प्रमोद कुमार, कुरारा कोतवाल अभिमन्यु सिंह यादव, बिधनू एसओ और एसओजी हमीरपुर प्रभारी के अलावा दरोगा सत्यप्रकाश, सिपाही वेदप्रकाश, राजेश यादव, महिला सिपाही दीपिका और संध्या सहित दस से अधिक पुलिसकर्मी घायल हो गए। 

 
विज्ञापन

Recommended

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार ही है कॉमकॉन 2019 की चर्चा का प्रमुख विषय
Invertis university

अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार ही है कॉमकॉन 2019 की चर्चा का प्रमुख विषय

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर
Astrology Services

सर्वपितृ अमावस्या को गया में अर्पित करें अपने समस्त पितरों को तर्पण, होंगे सभी पूर्वज प्रसन्न, 28 सितम्बर

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
सबसे विश्वशनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Kanpur

पटरी चटकने से आधा घंटे बाधित रहा दिल्ली हवाड़ा रूट

पटरी चटकने से आधा घंटे बाधित रहा दिल्ली हवाड़ा रूट

20 सितंबर 2019

विज्ञापन

जादवपुर विश्वविद्यालय में बाबुल सुप्रियो का घेराव, राज्यपाल धनखड़ ने बताया गंभीर मामला

जादवपुर विश्वविद्यालय में छात्रों के एक समूह ने केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो का घेराव किया था और उन्हें काले झंडे दिखाए थे। पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने इसे गंभीर मुद्दा बताया है।

19 सितंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree