‘रमजान में भी कर सकते हैं रक्तदान’

अमर उजाला ब्यूरो, गोरखपुर। Updated Sun, 04 Jun 2017 01:54 AM IST
दान के रक्त से बचती है दूसरों की जान
दान के रक्त से बचती है दूसरों की जान - फोटो : Amar Ujala
ख़बर सुनें
मुकद्दस रमजान के बीच इस बार विश्व रक्तदान दिवस पड़ रहा है। गरीबों, मजलूमों की मदद करके इस पाक माह में जकात के जरिए रब की रहमत पाने के तलबगार रक्तदान करके बेहिसाब शबाब पा सकते हैं। रोजेदार भी निसंकोच महादान कर सकते हैं। इससे रोजे में कोई फर्क नहीं पड़ेगा।
सातवें रोजे के दिन एक रोजेदार ने यह सवाल नार्मल स्थित दरगाह हजरत मुबारक खां शहीद में बनी रमजान हेल्पलाइन पर पूछा। रोजेदार की मंशा विश्व रक्तदान दिवस पर रक्तदान करने की है। लेकिन वह पशोपेश में था कि इससे कहीं रोजा न टूट जाए। जवाब में मुफ्ती अख्तर हुसैन ने उसकी शंका को सिरे से खारिज किया। बताया कि रक्तदान से रोजा नहीं टूटता। इसके साथ ही रोजेदारों के कुछ और रोचक फोन आए। इनमें आई ड्रॉप डालने समेत इंजेक्शन लगवाने आदि के संबंध में पूछताछ की गई।

मुफ्ती हुसैन समेत अन्य धर्मगुरुओं ने सभी के सवालों का जवाब शरीयत की रौशनी में तफसील से दी। बताया गया कि आंख में दिक्कत हो तो रोजे के दौरान आई ड्रॉप डाली जा सकती है। अगर इंजेक्शन लगना जरूरी है तो उसे लगवाने से भी रोजे पर असर नहीं पड़ता है। वहीं एक रोजेदार ने रोजे के दौरान ‘कै’ (उल्टी) होने पर फोन किया था। मुफ्ती ने उन्हें बताया कि इससे रोजा नहीं टूटता तो उन्हें तसल्ली हुई।

14 को मिलेगा रक्तदान करने का मौका
गोरखपुर। ‘अमर उजाला’ फाउंडेशन की ओर से विश्व रक्तदान दिवस के मौके पर 14 जून को ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन जिला अस्पताल में होगा। इस मौके पर रक्तदान करके आप महादानी बनकर किसी जरूरतमंद को जीवनदान दे सकेंगे। ‘अमर उजाला’ फाउंडेशन महादानियों को रक्तदान के बाद प्रमाणपत्र एवं प्रशस्ति पत्र भी देगा। ‘अमर उजाला’ फाउंडेशन सभी महादानियों को कैंप में शिरकत करने के लिए आमंत्रित करता है।

रमजान में मस्जिदों में चल रहा कुरआन का पाठ
रमजान में सभी मस्जिदों दरगाहों व घरों में कुरआन की तिलावत हो रही है। अल्लाह की इबादत में लोग मशगूल हैं। तुर्कमानपुर स्थित मदरसा में कुरआन शरीफ की आयतें सीखने रोजाना लगभग 25 लोग आ रहे हैं। शनिवार को कुरआन पढ़ना सीखने पहुंचे लोगों में छह लोगों को सही उच्चारण के साथ कुरआन पढ़ाना सिखाया गया। 

इफ्तार की दुआ अल्लाह कुबूल करते हैं 
रमजान की नमाज और दुआएं अल्लाह जल्दी कुबूल करते हैं। रोजेदार कितना खुशनसीब होता है कि वह हर वक्त अल्लाह की रजा हासिल करता है। इफ्तार के समय मांगी गई हर दुआ सीधे अल्लाह तक पहुंचती है और कुबूल की जाती है। ये बातें जाफरा बाजार के पेश इमाम हाफिज रहमत अली निजामी ने रमजान के पाक मौके पर सजदे को लेकर कहीं। ऐसे में इफ्तार समय से करना चाहिए और इस मौके पर दुआ करनी चाहिए।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Shimla

दिव्यांग छात्रा को दाखिला न देने पर रजिस्ट्रार हाईकोर्ट में तलब

हिमाचल हाईकोर्ट ने दिव्यांग छात्रा को दाखिला न दिए जाने से जुड़े मामले में रजिस्ट्रार को तलब करने के आदेश दिए हैं।

20 मई 2018

Related Videos

VIDEO: जब गांव के दो लोगों पर झपट पड़ा तेंदुआ

बस्ती के हर्रैया थानाक्षेत्र के गांव फरदापुर में घुसे तेंदुए ने दो लोगों पर हमला कर दिया। घटना से घबराए लोगों ने मामले की सूचना पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस और वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची, देखिए ये रिपोर्ट।

13 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen