डीएवी में छापा, मिले जानवरों के अवशेष

Ghaziabad Updated Wed, 09 May 2012 12:00 PM IST
वाइल्ड लाइफ एक्ट में हुआ मामला दर्ज
पीएफए और वन विभाग की टीम ने मारा छापा
स्कूल प्रबंधन ने कहा, अवशेष 25 साल पुराने

साहिबाबाद। पीएफए और वन विभाग की संयुक्त टीम ने राजेंद्र नगर के डीएवी स्कूल पर छापा मारकर बायोलॉजी लैब की जांच की। वहां कई पशु-पक्षियों के अवशेष मिले, जिन्हें कब्जे में ले लिया गया। संयुक्त टीम ने स्कूल प्रबंधन के खिलाफ साहिबाबाद थाने में वाइल्ड लाइफ एक्ट के अंतर्गत एफआईआर दर्ज करा दी।
एसएचओ साहिबाबाद ने बताया कि पीएफए संस्था के पदाधिकारियों को सूचना मिली थी कि स्कूल की लैब में कई जानवरों को गलत तरीके से काटा जा रहा है। इसके बाद पीएफए की टीम ने वन रेंजर एमके मीना के साथ स्कूल में छापेमारी की। स्कूल इन अवशेषों के डॉक्युमेंट भी नहीं दिखा सका। पुलिस ने जांच कर वाइल्ड लाइफ प्रोटेक्शन एक्ट की धारा 9, 12, 39, 40, 50 और 51 के अंतर्गत प्रबंधन के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया। उधर स्कूल के एडमिन ऑफिसर बीबी त्रिपाठी का कहना है कि बॉयोलॉजी लैब में मिले अवशेष करीब 25 साल पुराने हैं। इनकी परचेज स्लिप भी पीएफए और वन विभाग को दिखा दी थी। इसके बाद वे वापस लौट गए थे। उन्होंने स्कूल को सही ठहराते हुए कहा कि अगर उनका स्कूल जिम्मेदार है तो मेडिकल कॉलेज और अन्य स्कूल भी दोषी हैं। वहां भी ऐसे ढेरों अवशेष मिल जाएंगे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: जब पुलिस की ‘दबंगई’ पर भारी पड़ी युवती की बहादुरी

गाजियाबाद के थाना मसूरी क्षेत्र में पुलिस की दबंगई का एक युवती ने मुंहतोड़ जवाब दिया।

23 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls