बच्चों की सुरक्षा में कोताही को जिम्मेदार होंगे स्कूल प्रबंधन

अमर उजाला ब्यूरो Updated Sun, 05 Mar 2017 02:13 AM IST
You will be responsible for the safety of children in school management negligence
शनिवार को कलक्ट्रेट बैठक में मौजूद स्कूल संचालक। - फोटो : अमर उजाला
शनिवार को कलक्ट्रेट सभागार में स्कूल संचालकों की बैठक में स्कूली वाहनों को लेकर सख्त दिशा निर्देश जारी किए गए। स्कूल संचालकों को निर्देशित गया कि विद्यालय में आने वाले प्रत्येक बच्चे को सुरक्षित घर तक भेजने की जिम्मेदारी विद्यालय प्रबंधन की है, इसमें जरा भी चूक होगी तो स्कूल नहीं चल पाएगा।


डीएम के निर्देश पर बुलाई बैठक में पहुंचे एआरटीओ, डीआईओएस ने सभी स्कूल प्रधानाचार्यों, प्रबंधकों तथा वाहन मालिकों को निर्देश दिए कि वह स्कूली छात्र-छात्राओं को गंतव्य तक सुरक्षित पहुंचाने में परिवहन सुविधा देने में किसी भी प्रकार की कोताही न बरतें। 


छात्र- छात्राओं, अभिभावकों, वाहन चालक मालिकों तथा अन्य सामान्य नागरिकों को सड़क सुरक्षा के संबंध में जागरूक करने के साथ ही बच्चों को घर ले जाने व आने के संबंध में परिवहन आयुक्त द्वारा दिए निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन सुनिश्चित करें।


जिला विद्यालय निरीक्षक प्रेम प्रकाश मौर्य ने कहा कि प्रत्येक विद्यालय में बच्चों को लाने और ले जाने वाले वाहन  उच्चतम न्यायालय के निर्धारित मानक के अंतर्गत हो। यदि अभिभावक के व्यक्तिगत वाहन हैं तो वाहन स्वामी का आधार कार्ड व बच्चे से उनके संबंध में एक शपथ पत्र भी वाहन में रखना होगा। इसकी समय- समय पर जांच के लिए भी उपलब्ध कराना होगा।


इस आशय का विद्यालय द्वारा स्वयं घोषणापत्र देना होगा। स्कूल प्रबंधक वाहन स्वामी को स्पष्ट रूप से बताएगा कि स्कूली बच्चों को कैसे व सुरक्षित उसके गंतव्य तक लेकर आएं व जाएं।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाले में लालू की नई मुसीबत, चाईबासा कोषागार मामले में आज आएगा फैसला

चारा घोटाला मामले में रांची की स्पेशल सीबीआई कोर्ट बुधवार को सुनवाई करेगी। स्पेशल कोर्ट जज एस एस प्रसाद इस मामले में फैसला देंगे।

24 जनवरी 2018

Related Videos

माता के इस मंदिर में ‘सब्जी’ चढ़ाने से होगी मनोकामना पूरी

कानपुर के बिरहाना रोड में मां तपेश्वरी मंदिर में नवरात्र पर भक्तों की भीड़ उमड़ पड़ी। इस मंदिर का यहां चढ़ाए जाने वाले चढ़ावे की वजह से अलग ही महत्व है। मां तपेश्वरी मंदिर में प्रसाद के तौर पर सब्जियों को चढ़ाने की मान्यता है।

5 अप्रैल 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper