लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Chitrakoot News ›   kahi mamera bhai to premi nahi

आशंका: कहीं ममेरा भाई ही तो आशिक नहीं, खोजबीन जारी

Kanpur	 Bureau कानपुर ब्यूरो
Updated Sat, 29 May 2021 11:28 PM IST
kahi mamera bhai to premi nahi
विज्ञापन
चित्रकूट। तरौंहा कस्बे के महापात्र मोहल्ले में प्राइवेट वाहन चालक होरीलाल निषाद की हत्या में शामिल पत्नी व उसके प्रेमी ममेरे भाई की तलाश में पुलिस जुटी हुई है। पुलिस को अभी तक प्रेमी का पता नहीं लगा सकी है।

शुक्रवार की रात को जो युवक होरीलाल के घर आया था वह उसकी पत्नी का ममेरा भाई था या उसका आशिक था इसकी अभी पुष्टि नहीं हो रही है। कोतवाल वीरेंद्र त्रिपाठी ने बताया कि मृतक की मां के बयान के अनुसार उसने बहू के मुंह से जो सुना वहीं बताया है। पुलिस इसकी भी जानकारी कर रही है। मृतक की फरार पत्नी बुधनिया उर्फ पूजा के मामा के घर फोन कर पूरी जानकारी जुटाई जा रही है। यह निश्चित है कि प्रेम प्रसंग के चलते ही दोनों ने मिलकर होरीलाल की हत्या कर यहां से फरार हो गये हैं। जल्द ही दोनों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इन्हें पकड़ने के लिए पुलिस टीम काम कर रही है।

चित्रकूट। होरीलाल के शव की हालत देख अंदाजा लगाया जा सकता है कि किस बेरहमी से उसकी हत्या की गई। पुलिस सूत्रों की माने तो घर में देर रात तक पार्टी चली थी और पूरी संभावना है कि शराब भी पी गई। खाना खाने के बाद नशे की हालत में जैसे ही होरीलाल चारपाई में लेटा तो उसकी पत्नी बुधनिया उर्फ पूजा ने अपने कथित ममेरे भाई के साथ योजना के अनुसार उसके दोनों हाथ बांधकर मुंह में कपड़ा ठूंस दिया। साफी से गला घोटने के बाद उसके हाथ खोल दिये और मौत होने की पुष्टि के लिए कमरे में रखे सिलबटटे से उसके चेहरे पर कई वार किये। जिससे लगता है कि हत्यारे पूरी तरह यह पुष्ट कर लेना चाहते थे कि होरीलाल की मौत हो चुकी है कहीं वह जिंदा न बच जाए। पुलिस को पत्नी व उसके यहां आये युवक का मोबाइल नहीं मिला है।
होरीलाल निषाद का विवाह लगभग पांच साल पहले मऊ के मवई गांव की बुधनियादेवी उर्फ पूजा से हुआ था। उनके एक दो साल का पुत्र अन्नू है। परिजनों के अनुसार पति पत्नी के बीच पहले भी विवाद हुआ था। जिस पर पत्नी के कहने पर पति दो साल तक अपनी ससुराल में ही रहा था। इसके बाद उसके परिवार को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत कालोनी आवंटित हुई है। इसी भवन में मवई से लौटकर पत्नी के साथ रहने लगा था। इस घर में दो दरवाजे हैं। पिछवाडे़ के ही रास्ते से पत्नी कथित ममेरे भाई को लेकर आई थी और इसी रास्ते दोनों फरार भी हुए जिससे आगे के दरवाजे के पास वाले कमरे में सोई मृतक की मां व आसपास के लोगों को भनक तक नहीं लगी।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00