विज्ञापन
विज्ञापन

विधायक की बेटी साक्षी को पड़ोस की महिला ने पीटा, धक्के देकर घर से निकाला

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बरेली Updated Mon, 11 Nov 2019 05:57 AM IST
साक्षी मिश्रा-पिता पप्पू भरतौल
साक्षी मिश्रा-पिता पप्पू भरतौल - फोटो : अमर उजाला
ख़बर सुनें
घर से भागकर भाई के दोस्त अजितेश के साथ प्रेमविवाह करने के बाद देश भर में चर्चित हुई साक्षी मिश्रा का विवादों से पीछा नहीं छूट रहा है। शादी के बाद दिवाली पर पति के घर लौटी साक्षी ने अब पड़ोस की एक महिला पर मारपीट करने का आरोप लगाया है। उसने इस मामले में थाना इज्जतनगर में रिपोर्ट भी दर्ज करा दी लेकिन बाद में समझौता भी कर लिया।
विज्ञापन
साक्षी और अजितेश ने शादी के बाद शहर छोड़ दिया था और सुरक्षा को कारण बताते हुए दिल्ली में रह रहे थे। दिवाली से पहले दोनों ने लौटकर वीरसावरकरनगर में अजितेश के पैतृक घर में रहना शुरू किया है। साक्षी का आरोप है कि बरेली लौटने के बाद से पड़ोस की एक महिला उन्हें और उनके परिवार को बदनाम कर रही है। फेसबुक और व्हाट्सएप पर उसके बारे में गलत कमेंट करने के साथ कॉलोनी में भी विवादित बातें करती है। उसने पहले महिला के पति से शिकायत की तो उन्होंने उसे समझाने को कहा लेकिन महिला फिर भी नहीं मानी।

साक्षी के मुताबिक शनिवार को उसके ससुर और कुछ संभ्रांत लोगों ने महिला को समझाने के लिए घर बुलाने को कहा तो वह उसे बुलाने उसके घर पहुंची। महिला उसे देखते ही गर्म हो गई। इस पर वह लौटने लगी तो उसने पीछे से आकर उसे धक्का देकर गिरा दिया और उनसे मारपीट कर गला दबाने की कोशिश की। साक्षी ने तहरीर में कहा है कि मारपीट में उसे कई जगह खुली और गुम चोटें लगी हैं। अजितेश ने आकर उसे बचाया। सूचना दी तो इज्जतनगर पुलिस पहुंच गई। इसके बाद उसने तहरीर देकर एनसीआर दर्ज करा दी।

तमाशा देखते रहे छह सुरक्षा कर्मी
साक्षी और अजितेश को पुलिस सुरक्षा हासिल है। उनके घर पर दो गनर और चार पुलिसकर्मी हर वक्त मौजूद रहते हैं। शनिवार को जब यह घटना हुई तब भी सुरक्षाकर्मी मौजूद थे लेकिन महिलाओं की मारपीट का मामला था इसलिए उन्होंने दखलंदाजी नहीं की। इज्जतनगर पुलिस को सूचना जरूर दे दी।

पुलिस पर जबरन फैसला कराने का आरोप
साक्षा ने पुलिस पर भी इस मामले में जबरन समझौता कराने का आरोप लगाया है। साक्षी का कहना है कि महिला ने उनके साथ मारपीट कर गला दबाने की कोशिश की। उसके खिलाफ रिपोर्ट लिखकर कार्रवाई होनी चाहिए थी। पुलिस ने एनसीआर लिखी और फिर समझौता भी करा दिया। अब वह परिवारवालों से बात कर रही हैं, जरूरत पड़ी तो अधिकारियों से शिकायत करेंगे।

इन लोगों को हम भी सबक सिखाएंगे
साक्षी और अजितेश ने अब बरेली में ही रहने का फैसला कर लिया है। अजितेश का कहना है कि उन्हें और साक्षी को पुराने मामले में किसी से कोई शिकायत नहीं है। वे किसी विवाद में नहीं पड़ना चाहते और नए सिरे से जीवन जीना चाहते हैं मगर कुछ लोग जानबूझकर उनकी शांतिभंग कर रहे हैं। ऐसे लोगों को वह भी सबक सिखा देंगे।

वीडियो कैमरे में कैद हुई घटना
साक्षी और पड़ोस की महिला के बीच हुई घटना वीडियो कैमरे में भी कैद हो गई। जो फुटेज अखबारों को दी गई है उसमें साक्षी अपने घर से निकलकर पड़ोस के घर में जाती दिख रही है। अजितेश भी वहीं पास में टहलता दिख रहा है। बमुश्किल एक मिनट बाद ही आगे साक्षी और पीछे आरोपी महिला पड़ोस के घर से निकलती दिख रही हैं। महिला साक्षी को धक्का भी दे रही है। फुटेज सीसीटीवी के बजाय वीडियो कैमरे की है, लिहाजा यह पुष्टि भी हो रही है कि कोई इस घटनाक्रम की सुनियोजित ढंग से वीडियोग्राफी भी कर रहा था।

साक्षी का पड़ोस के घर में जाने का फैसला ही गलत था। फुटेज में महिला सिर्फ साक्षी को धक्का देकर घर से निकालती दिख रही है। फिर भी साक्षी की तहरीर पर उसके खिलाफ एनसीआर लिख ली थी। साक्षी और उनके पति ने खुद की कार्रवाई न करने की बात कहकर समझौता लिखकर दे दिया। इसमें पुलिस का क्या दोष है। - केके वर्मा, इंस्पेक्टर इज्जतनगर
विज्ञापन

Recommended

पीरियड्स है करोड़ों लड़कियों के स्कूल छोड़ने का कारण
NIINE

पीरियड्स है करोड़ों लड़कियों के स्कूल छोड़ने का कारण

विनायक चतुर्थी पर सिद्धिविनायक मंदिर(मुंबई ) में भगवान गणेश की पूजा से खत्म होगी पैसों की किल्लत 30-नवंबर-2019
Astrology Services

विनायक चतुर्थी पर सिद्धिविनायक मंदिर(मुंबई ) में भगवान गणेश की पूजा से खत्म होगी पैसों की किल्लत 30-नवंबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Bareilly

रात के अंधेरे में 70 साल की बहन को छोड़कर चले गए भाई

बड़े घराने की बेटी रंजना अब दर दर की ठोकरें खानें को मजबूर हैं। रात में उन्हें एक भाई सड़क पर छोड़ गए तो बाकी भाइयों ने भी अपने दरवाजे बंद कर लिए।

20 नवंबर 2019

विज्ञापन

105 साल की बुजुर्ग महिला ने दी चौथी कक्षा की परीक्षा, केरल के कोल्लम की हैं भागीरथी अम्मा

केरल के कोल्लम की रहनेवालीं 105 साल की बुजुर्ग महिला ने चौथी कक्षा की परीक्षा दी। जिन्होंने एक नई मिसाल कायम कर दी।

20 नवंबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election