बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

अब नगला महासिंह गांव में जातीय टकराव

अमर उजाला ब्यूरो आगरा Updated Sun, 21 May 2017 11:31 PM IST
विज्ञापन
वारदात
वारदात - फोटो : buerue

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
फतेहाबाद के पारौली सिकरवार गांव के बाद अब बरहन के नगला महासिंह में जातीय टकराव का मामला सामने आया है। यहां बघेल और दलित समाज के लोगों के बीच रविवार रात करीब आठ बजे मारपीट हुई। इसमें कई लोगों को मामूली चोट आईं।
विज्ञापन


सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों ओर के पांच-पांच लोग हिरासत में ले लिए। गांव में फोर्स तैनात कर दी गई है। इस कार्रवाई के बावजूद तनाव बना हुआ है।

गांव में प्रधान राकेश बघेल भागवत कथा करा रहे हैं। इसमें शेर सिंह जाटव भी पहुंचे थे। रविवार दोपहर करीब चार बजे हल्ला मचा कि शेर सिंह ने महिला कथा वाचक को अपमानजनक शब्द कहे हैं। इस पर लोग जमा हो गए। शेर सिंह ने कहा कि उन्होंने ऐसा कुछ नहीं कहा है लेकिन लोग नहीं माने।


उनका घेराव किया। वह उस समय वहां से किसी तरह चले गए। गांव में जगह जगह बघेल और जाटव समाज के लोगों में चर्चा होने लगी। रात करीब आठ बजे दोनों ओर के लोग आमने सामने आ गए। उनमें टकराव हो गया। कई लोगों को चोटें आई हैं। सूचना पर पुलिस भी पहुंच गई। मौके से दोनों ओर के लोग पकड़ लिए गए।

देर रात तक किसी भी पक्ष ने तहरीर नहीं दी थी। पुलिस ने कहा कि अगर तहरीर नहीं आती है तो पुलिस अपनी ओर से कार्रवाई करेगी। दोनों पक्षों के लोग शांति भंग में पकड़े जाएंगे। उन्हें मुचलकों में पाबंद किया जाएगा। बता दें, इससे पहले फतेहाबाद के पारौली सिकरवार में क्षत्रिय और निषाद समाज के लोगों के बीच टकराव हुआ था। इसमें कई दिन से तनाव बना हुआ है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us