हॉस्टल में घुसा व्यक्ति, लड़कियों ने दिखाई बहादुरी और पकड़कर पुलिस को सौंपा

ब्यूरो/अमर उजाला, संगरूर(पंजाब) Updated Thu, 15 Feb 2018 08:24 PM IST
सरकारी नर्सिंग होस्टल की सुरक्षा सवालों के घेरे में
molestation
संगरूर में स्थानीय सरकारी मल्टीपर्पज हेल्थ वर्कर फीमेल ट्रेनिंग स्कूल में सिखलाई लेने वाली छात्राओं की सुरक्षा सवालों के घेरे में उस समय आ गई, जब बुधवार रात छात्राओं ने हॉस्टल में घुसे एक व्यक्ति को दबोचकर पुलिस के हवाले किया। वीरवार को छात्राओं ने इसके विरोध में शहर में रोष मार्च निकाला और डीसी दफ्तर के सामने धरना लगाकर नारेबाजी की। हालांकि हॉस्टल प्रबंधक मामले को दबाने की कोशिश में लगे रहे।
डीसी दफ्तर के बाहर प्रदर्शन कर रही छात्राओं ने कहा कि वह सरकारी मल्टीपर्पज हेल्थ वर्कर फीमेल ट्रेनिंग स्कूल में नर्सिंग का कोर्स कर रही हैं किंतु उनके स्कूल में छात्राओं की सुरक्षा के लिए कोई पुख्ता बंदोबस्त नहीं हैं। कालेज की इमारत के शीशे टूटे हुए हैं, इमारत की बाहरी दीवार ज्यादा उंची नहीं है, जिसकी वजह से रात के समय लड़कियों के होस्टल में अकसर बाहरी लोग घुस जाते हैं।

हालांकि छात्राओं ने इस संबंधी कालेज प्रबंधकों तथा विभाग के अधिकारियों को कई बार शिकायत की, लेकिन हर बार प्रबंधक छात्राओं को इसके लिए जिम्मेदार ठहराकर मामले को रफा दफा कर देते थे। बुधवार रात के बाद होस्टल में घुसे लोगों में से एक व्यक्ति को छात्राओं ने दबोच लिया और उसे पुलिस के हवाले कर दिया। उन्होंने मांग की कि उनकी सुरक्षा को बढ़ाया जाए, ताकि वह खुद को सुरक्षित महसूस कर सकें।

नर्सिंग कालेज की प्रिंसिपल राजिंदर कौर ने स्वीकार किया कि छात्राओं की सुरक्षा के लिए सुरक्षा गार्डों की जरूर है। थाना सिटी के प्रभारी विनोद कुमार ने कहा कि छात्राओं ने जिस व्यक्ति को पकड़कर पुलिस के हवाले किया है उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

Spotlight

Most Read

Pilibhit

चोरों ने समेटा दो घरों से लाखों का सामान

कोतवाली क्षेत्र के कसगंजा गांव में दी दस्तक

23 फरवरी 2018

Related Videos

VIDEO: दो गुटों में चली सरेआम गोलियां, CCTV में कैद हुई वारदात

लुधियाना में दो गुटों के बीच सरेआम गोलीबारी का एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो को पंजाब में होने वाले नगर निगम चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है।

21 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen