मिला आश्वासन तो दो घंटे में टूटी अनिश्चितकालीन हड़ताल

अमर उजाला, जालंधर Updated Fri, 31 Jan 2014 09:48 PM IST
assurance, broken, indefinite, strike
मंडल शिक्षा आफिसर हुकम सिंह और सुपरिंटेंडेंट दविंदर पाल कौर की लड़ाई में एक बार फिर महिला सुपरिंटेंडेंट को आश्वासन मिला है। दविंदर पाल कौर ने मिनिस्टीरियल सर्विसेज यूनियन (शिक्षा विभाग) के समर्थन से शुक्रवार को विधायक मनोरंजन कालिया के घर के सामने भूख हड़ताल शुरू की थी। अनिश्चितकालीन समय के लिए शुरू की गई भूख हड़ताल में यूनियन के जिला प्रधान भी बैठे।


पुलिस ने दो घंटे में ही अनिश्चितकालीन हड़ताल तुड़वा दी। अब पुलिस ने यूनियन को 7 फरवरी तक का समय मांगा है। यूनियन ने पुलिस को यह समय देते हुए 9 फरवरी से पंजाब भर में इस रोष प्रदर्शन को शुरू करने का दावा किया है।


सुबह 11 बजे शुरू हुई हड़ताल को दोपहर 2 बजे बंद करवा दिया गया। इस दौरान विधायक मनोरंजन कालिया दो बार अपने घर गए और बाहर आए मगर, उन्होंने प्रदर्शनकारियों की तरफ देखा भी नहीं। इससे पहले जारी प्रेस नोट में दविंदरपाल कौर ने साथ किया था कि इस बार आश्वासन के साथ बात नहीं बनेगी। लेकिन आश्वासन देने के बाद पुलिस इस प्रदर्शन को रोकने में कामयाब हो गई।



इस मौके पर मौजूद मिनिस्टीरियल स्टाफ सब ऑफिस प्रधान रजिंदर सिंह, स्टेट मिनिस्टीरियल सर्विसेज एसोसिएशन के जिला प्रधान सुखजीत सिंह ने कहा कि एडीसीपी नरेश डोगरा ने सात फरवरी तक कार्रवाई करने का विश्वास दिया है। यदि इस बार भी कोई फैसला नहीं निकला तो स्टेट मिनिस्टीरियल एसोसिएशन आठ फरवरी को बैठक कर अगली रणनीति तैयार करेगी।



इस मौके पर प्रितपाल सिंह, हेल्थ विभाग के प्रधान दिनेश कुमार, पेंडू मजदूर यूनियन ऑफ पंजाब के जिला सचिव कश्मीर सिंह घुग्शोर, उपप्रधान बलविंदर कौर, जवान भारत सभा के तहसील प्रधान सरपंच जसबीर गोरा, स्त्री जागृति मंच की प्रदेश प्रेस सचिव जसबीर जस्सी, बीर मेहरबान सहित स्टाफ के सदस्य मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Ballia

अभाविप ने फूंका केरल सरकार का पुतला

कार्यकर्ता की हत्‍या के विरोध में फूटा गुस्सा

21 जनवरी 2018

Related Videos

लेडी खली कविता ने खोला राज, बताया कैसे पहुंची WWE तक

WWE में पहुंचनेवाली पहली भारतीय महिला कविता देवी ने अपने इंटरव्यू में की कई अहम मुद्दों पर खुलकर बात। कविता ने बताया कि उन्हें द ग्रेट खली से कितना सपोर्ट मिला और उन्हें ट्रेनिंग के कितने कड़े शेड्यूल से होकर गुजरना पड़ा।

21 अक्टूबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper