बेनी ने कहा मोदी-मुलायम का राजनीतिक मैच फिक्स

अखिलेश वाजपेई/अमर उजाला, लखनऊ Updated Sun, 26 Jan 2014 09:08 AM IST
modi mulayam political match fix
केंद्रीय इस्पात मंत्री और कांग्रेस नेता बेनी प्रसाद वर्मा ने मुलायम सिंह यादव और नरेंद्र मोदी के बीच मैच फिक्स हो गया है।

दोनों हिंदुओं और मुसलमानों के वोट अपने बीच बांट लेना चाहते हैं। इसीलिए दोनों नेताओं ने गोरखपुर और वाराणसी की रैलियों में एक-दूसरे पर तीखे आरोप लगाए।

भाजपा के प्रदेश प्रभारी अमित शाह ने दोनों के भाषण लिखे थे। बेनी शनिवार को यहां पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

उन्होंने कहा मुलायम ने तो मोदी को लेकर इस तरह के शब्द इस्तेमाल किए जिनकी किसी सभ्य आदमी से उम्मीद नहीं की जा सकती। ऐसे शब्द बोले जिससे मुसलमानों को लगे कि उनकी रक्षा सिर्फ मुलायम ही कर सकते हैं।

मुलायम ने सेना के लिए 35 लाख का ट्रक 1.15 करोड़ में खरीदवाया
बेनी ने सपा सुप्रीमो पर बड़े घोटाले का आरोप लगाते हुए कहा कि जो ट्रक 35 लाख रुपये में मिलता है, उसे मुलायम के रक्षामंत्री रहते हुए 1.15 करोड़ रुपये में खरीदा गया।

मुलायम कांग्रेस की सरकार नहीं आने देना चाहते। उन्हें लगता है कि कांग्रेस की सरकार बनी तो राहुल के कठोर रुख के चलते उन पर कड़ी कार्रवाई हो सकती है।

इसलिए मुलायम चाहते हैं कि मोदी की सरकार बन जाए। मुसलमान, मुलायम के पक्ष में लामबंद हो जाएं और हिंदू मोदी के पक्ष में। मुलायम और भाजपा पुराने दोस्त हैं।

मुलायम ने डर के कारण नहीं उतारे रायबरेली व अमेठी में प्रत्याशी
वर्मा ने उत्तर प्रदेश में लोकसभा की सभी 80 सीटों पर कांग्रेस प्रत्याशी उतारने का ऐलान किया। कहा कि मुलायम ने डर के कारण रायबरेली और अमेठी में उम्मीदवार नहीं उतारे, पर कांग्रेस मुलायम या सपा को रियायत नहीं देगी।

मैनपुरी, कन्नौज में भी कांग्रेस उम्मीदवार चुनाव लड़ेंगे। इस सवाल पर कि भाजपा ने कांग्र्रेस और सपा में मैच फिक्स होने का आरोप लगाया है। बेनी ने प्रतिप्रश्न किया, ‘क्या मैं मुलायम से मिला हुआ लग रहा हूं?’

कुछ क्षण रुककर फिर बोले, ‘मिला होता तो यह सब न बोलता। इसलिए जब मैं नहीं मिला हुआ हूं तो बाकी के नेताओं का उत्तर प्रदेश में क्या मतलब।’

कहा कि सोनिया गांधी और राहुल गांधी के बाद उत्तर प्रदेश से वही एकमात्र ऐसे नेता हैं जो कांग्रेस के नीति निर्धारक फोरम के सदस्य हैं। इसलिए जो वे कह रहे हैं, वही कांग्रेस का अधिकृत रुख है।

दावा किया कि चुनाव में यूपी में कांग्रेस को 50 सीटें मिलेंगी। सपा साफ हो जाएगी। भाजपा 10 सीटों के अंदर सिमट जाएगी।
खूब बोले बेनी बाबू
मुलायम ने 1990 में अयोध्या के टेढ़ी बाजार में खोले थाने का नाम जान-बूझकर ‘राम जन्मभूमि थाना’ रखा और भाजपा की मदद की।

ढांचा ध्वंस करने के आरोपी आडवाणी व अन्य कुछ लोगों को निर्दोष बताते हुए सरकार की तरफ से हलफनामा लगवा दिया। मुलायम अब ब्राह्मण और मुस्लिम कार्ड खेल रहे हैं, पर जब बैकवर्ड और दलितों के नहीं हुए तो ब्राह्मणों के क्या होंगे।

पिछली सरकार में सिपाहियों की भर्ती में मुसलमानों सेपांच-पांच लाख रुपये लिए गए। मुलायम चाहते हैं कि सिर्फ वे रहें और भाजपा रहे। बाकी दल न रहें।

मुलायम मुसलमानों के हमदर्द नहीं हैं। बेनी ने कहा, ‘मुझसे बहुत बड़ी गलती हुई जो मैं दोस्ती निभाने के चक्कर में जल्दी मुलायम से अलग नहीं हो पाया।

चाहता तो मैं मुख्यमंत्री बन सकता था, पर दोस्ती के नाम पर मुलायम को मुख्यमंत्री बनवाया। मुझे पछतावा है कि मैं पहले मुलायम को नहीं छोड़ पाया। मुलायम ने ढांचा गिरवा दिया’।

स्टील कंज्यूमर कॉन्फ्रेंस 3 को लखनऊ में
केंद्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा ने बताया कि 3 फरवरी को ताज होटल में स्टील कंज्यूमर कॉन्फ्रेंस होगी, जिसमें प्रदेश में स्टील उद्योग को बढ़ावा पर चर्चा होगी।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

संघर्ष से लेकर यूपी के डीजीपी बनने तक ऐसा रहा है ओपी सिंह का सफर

कई दिनों के इंतजार के बाद ओपी सिंह ने आखिरकार उत्तर प्रदेश के डीजीपी पद का भार संभाल लिया। पद ग्रहण करने के बाद डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि अपराधी सामने आएंगे, गोली चलाएंगे तो पुलिस उनसे निपटेगी।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls