जेडीए ने 800 दुकानदारों को भेजा नोटिस

ब्यूरो/अमर उजाला, जम्मू Updated Tue, 31 Mar 2015 09:33 PM IST
jda strict on defaulters
ख़बर सुनें
जम्मू विकास प्राधिकरण (जेडीए) की ढीली प्रक्रिया का फायदा उठाते हुए किरायेदार दुकानदारों ने करोड़ों रुपये का भुगतान नहीं किया है, जिसकी वजह से जेडीए ने दुकानदारों पर नकेल कसने के लिए आठ सौ दुकानदारों को नोटिस भेजे हैं, लेकिन ऐसा कई बार किया जा चुका है, अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाया जा सका है।
जेडीए ने शहर के अलग-अलग हिस्सों में भवनों, कांप्लेक्स, हाल तथा दुकानें आदि बनाकर लोगों को कामधंधा चलाने के लिए किराये पर दे रखी है, लेकिन ढीली प्रक्रिया के चलते दुकानदारों ने जेडीए को लंबे समय से किराये का भुगतान नहीं किया है। बस स्टैंड, बीसी रोड, वेयर हाउस, जानीपुर, त्रिकुटानगर, रूप नगर, नेहरू मार्केट, ट्रांसपोर्ट नगर, बाहु प्लाज, रेलवे स्टेशन शिव मार्केट, अप्पू घर सहित 1700 दुकानें हैं। अधिकतर दुकानदारों का कई-कई माह का किराया बनता है।

जेडीए की ओर से बहुत ही सामान्य सा किराया लिया जाता है, बावजूद दुकानदारों की ओर से उसका भुगतान नहीं किया जा रहा है। भुगतान किए जाने वाला किराया अब करोड़ों रुपये में पहुंच गया है। बस स्टैंड में जेडीए की 262 के करीब दुकानें हैं, जिसे लोगों ने आगे हजारों रुपये प्रतिदिन के हिसाब से किराये पर चढ़ा रखा है।

जेडीए ने भी किराया वसूल करने के लिए कोई ठोस कदम नहीं उठाए हैं। हर बार की तरह नोटिस जारी किए जाते हैं। इस बार भी ऐसा ही किया गया है। नतीजतन ठोस कार्रवाई नहीं होने से मामला लटक कर रह जाता है।

सख्त कार्रवाई के लिए सूचियां बनाई जा रहीं: डीएलएम
डायरेक्टर लैंड मैनेजमेंट गुरविंद्र जीत सिंह के मुताबिक डिफाल्टरों की सूचियां बनाई जा रही हैं। फिलहाल 800 दुकानदारों को नोटिस दिए गए हैं। पैसे अदा नहीं करने वालों के साथ सख्ती से पेश आया जाएगा।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

मामाजी, कृपया जाति को शिक्षा में न लाएं, छात्रों ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कहा

ऐसा अक्सर नहीं होता है कि आप शैक्षिक संस्थानों में आरक्षण और छात्रों की जाति के आधार पर मुफ्त लैपटॉप जैसी सुविधाएं देने जैसे संवेदनशील विषय पर एक मुख्यमंत्री से सवाल पूछ सकें। 

22 मई 2018

Related Videos

60 सेकेंड में जाने एशिया की सबसे बड़ी सुरंग जोजिला टनल के बारे में

जम्मू-कश्मीर में एशिया की सबसे बड़ी टनल यानि कि जोजिला टनल दुनिया की चंद सबसे बड़ी परियोजनाओं में शामिल है। इस परियोजना का मकसद कश्मीर घाटी और लद्दाख के बीच हर मौसम में संपर्क बनाए रखना है। देखिए आखिर क्यों खास है ये टनल।

19 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen