बनास नदी में अवैध खनन पर मांगा जवाब

अमर उजाला टीम​ डिजिटल/जयपुर Updated Wed, 04 Oct 2017 07:18 PM IST
Notice issued on illegal mining in Banas river
डेमो इमेज
राजस्थान हाईकोर्ट ने टोंक जिले के चौथ का बरवाडा स्थित कुछ गांवों में बनास नदी के किनारे अवैध खनन करने पर प्रमुख खान सचिव, सवाईमाधोपुर कलक्टर व खननकर्ता मंगलसिंह सौलंकी को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है।

न्यायाधीश केएस झवेरी और न्यायाधीश वीके व्यास की खंडपीठ ने यह आदेश धनपाल मीणा व अन्य की ओर से दायर जनहित याचिका पर प्रारंभिक सुनवाई करते हुए दिए। याचिका में अधिवक्ता दीपेश ओसवाल ने अदालत को बताया कि मंगलसिंह को चार गांवों में बनास नदी के किनारे बजरी खनन की अनुमति मिली हुई है। जबकि खननकर्ता वर्ष 2013 से यहां के साथ-साथ छह अन्य गांवों में भी बजरी खनन कर रहा है। याचिका में कहा गया कि अवैध खनन से सरकार को हर साल 360 करोड़ रुपए का राजस्व नुकसान हो रहा है।

ऐसे में अवैध खनन को रुकवाकर अब तक किए गए राजस्व के नुकसान की वसूली की जाए। जिस पर सुनवाई करते हुए खंडपीठ ने संबंधित अधिकारियों को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है।

Spotlight

Most Read

Madhya Pradesh

MP निकाय चुनाव: कांग्रेस और भाजपा ने जीतीं 9-9 सीटें, एक पर निर्दलीय विजयी

मध्य प्रदेश में 19 नगर पालिका और नगर परिषद अध्यक्ष पद पर हुए चुनाव में कांग्रेस और भाजपा के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला।

20 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: मुरादाबाद ‘मल कांड’ पार्ट टू... जयपुर से

आपको याद होगी मुरादाबाद की वो तस्वीर जब खुले में शौच कर रहे लोगों पर स्वच्छता अभियान के तहत लोगों को जागरुक करने के लिए तैनात वॉलिंटियर का कहर टूटा।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper