विज्ञापन

चिंतपूर्णी में आधा दर्जन श्रद्धालुओं की काटीं जेबें

Shimla	 Bureauशिमला ब्यूरो Updated Sun, 17 Mar 2019 10:39 PM IST
ख़बर सुनें
अमर उजाला ब्यूरो
विज्ञापन
विज्ञापन
भरवाईं (ऊना)। चिंतपूर्णी मंदिर माथा टेकने आ रहे हैं, तो जरा संभलकर आइएगा। चिंतपूर्णी मंदिर में भीड़ वाले दिन जेबकतरें आपकी जेबों पर हाथ साफ कर सकते हैं। यदि मंदिर परिसर में लगे कैमरों की रिकॉर्डिंग में आप चोरी हुई घटना को देखना चाहेंगे तो आपको ये कहकर टाल दिया जाएगा कि रिकॉर्डिंग रूमबंद है। रविवार को भी करीब आधा दर्जन श्रद्धालुओं की जेबें काटीं। इनमें से एक श्रद्धालु ने ही मंदिर प्रशासन के पास शिकायत दर्ज करवाई।

जालंधर के श्रद्धालु हरविंद्र सिंह ने बताया कि वह गर्भ गृह के पास माथा टेकने के लिए लाइन में खड़े थे, इसी दौरान किसी ने उसकी जेब से दो हजार रुपये सहित अन्य सामान उड़ा लिया है। श्रद्धालु ने बताया कि जब उसने मंदिर परिसर में लगे कैमरों की रिकॉर्डिंग देखने के लिए मौके पर तैनात सुरक्षा कर्मियों को कहा तो उन्होंने सीसीटीवी कैमरों की फुटेज नहीं दिखाई। सुरक्षाकर्मियों ने ये कहकर इन्हें टाल दिया कि कैमरों की फुटेज देखने वाला रिकॉर्डिंग रूम बंद पड़ा हुआ है। जिसके बाद पीड़ित हरविंद्र सिंह ने मंदिर कार्यालय में लिखित शिकायत की है। मंदिर अधिकारी जीवन कुमार ने कहा कि मंदिर परिसर में जेब कटने की सूचना नहीं मिली।

10 हजार श्रद्धालुओं ने नवाया शीश
शक्तिपीठ चिंतपूर्णी में रविवार को श्रद्धालुओं की अच्छी खासी भीड़ देखने को मिली। करीब दस हजार श्रद्धालुओं ने मां के दर पर शीश नवाया। मां के दर पर शनिवार रात से ही श्रद्धालुओं की चहल-पहल बनी हुई थी। सुबह मंदिर परिसर में मां के दर्शनों को श्रद्धालुओं की लाइनें लगनी शुरू हो गई थी। मैड़ी मेले के चलते मां के भक्त चिंतपूर्णी मंदिर में भी माता रानी के दर्शनों को पहुंच रहे हैं। रविवार को मंदिर प्रशासन को भीड़ को नियंत्रित करने में काफी मशक्कत करनी पड़ी। श्रद्धालुओं की भीड़ बढ़ने के साथ ही मंदिर परिसर में जेबकतरे भी सक्रिय हो गए हैं। लेकिन जेब कटे श्रद्धालुओं को कैमरों की रिकॉर्डिंग देखने को नहीं मिल पा रही है।

कैमरों के रिकॉर्डिंग रूम में ताला लटका हुआ है। इस समस्या को अमर उजाला ने प्रमुखता से समाचार पत्र में प्रकाशित भी किया था कि चिंतपूर्णी मंदिर में लगे कुछ कैमरे जहां खराब हैं वहीं कैमरों को ऑपरेट करने वाला ओपरेटर पिछले कई दिनों से नहीं आ रहा है। जिस कारण रिकॉर्डिंग रूम में ताला लटका हुआ है। लेकिन इसके बाद भी मंदिर ट्रस्ट अभी तक जागा नहीं हैं और भीड़ को लेकर पुख्ता प्रबंधों की पोल खुलती नजर आ रही है।

Recommended

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पाएं हमारे अनुभवी ज्योतिषाचार्य से
ज्योतिष समाधान

क्या आप अपने करियर को लेकर उलझन में हैं ? समाधान पाएं हमारे अनुभवी ज्योतिषाचार्य से

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पाएं हमारे अनुभवी ज्योतिषाचार्य से
ज्योतिष समाधान

जानें क्यों होता है बार-बार आर्थिक नुकसान? समाधान पाएं हमारे अनुभवी ज्योतिषाचार्य से

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

हिमाचल में बारिश और बर्फबारी ने मचाया कहर, अभी है फिलहाल ये हालात

हिमाचल में भारी बारिश-बर्फबारी से दूसरे दिन भी जनजीवन अस्तव्यस्त रहा। कुल्लू, लाहौल, किन्नौर, शिमला, मंडी और चंबा में बर्फबारी और अन्य इलाकों में बारिश के चलते हालात खराब हैं। हिमाचल प्रदेश में मौसम की पूरी जानकारी देखिए इस रिपोर्ट में।

22 फरवरी 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election