मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर अवंतिका ने जताया रोष

Rohtak Bureau Updated Fri, 09 Feb 2018 01:28 AM IST
अमर उजाला ब्यूरो
सिरसा।
कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष डॉ. अशोक तंवर के हुडा स्थित आवास में घुसकर उनकी धर्मपत्नी अवंतिका माकन तंवर को जान से मारने की धमकी देने के मामले में मुख्य आरोपियों की अभी तक गिरफ्तारी न होने को लेकर अवंतिका माकन तंवर ने रोष प्रकट किया है। उन्होंने कहा है कि शहर सिरसा पुलिस की कार्यप्रणाली को लेकर अब उन्हें संदेह होने लगा है कि किसी दवाब के तहत पुलिस अभी तक मुख्य आरोपियों डॉ. देवकिशन मेघवाल, जगरूप को गिरफ्तार नहीं कर पाई है।
माकन तंवर ने यह भी कहा है कि इस मामले के मुख्य आरोपी सरेआम बेखौफ खूले घूम रहे हैं, क्योंकि इसका जीता-जागता उदाहरण यह भी है कि शहर पुलिस की ढीली कार्रवाई के चलते आरोपियों ने स्थानीय अदालत में अग्रिम जमानत की याचिका भी दायर की, मगर अदालत ने मामले की गंभीरता को देखते हुए उनकी जमानत याचिका को खारिज कर दिया। शहर पुलिस को चाहिए था कि वह शीघ्र आरोपियों को गिरफ्तार करती। अवंतिका ने यह भी कहा है कि वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को इस मामले में कड़ा संज्ञान लेना चाहिए और इस मामले में लापरवाही व कोताही बरतने वाले पुलिस कर्मचारियों के खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई भी करनी चाहिए। उन्होंने कहा है कि एक तरफ तो हरियाणा पुलिस यह कहती है कि महिलाओं की सुरक्षा के प्रति वह गंभीर हैं, परंतु उनके मामले में महिला आयोग के संज्ञान लेने के बावजूद भी मुख्य आरोपियों की गिरफ्तारी का न होना हरियाणा पुलिस की विश्वसनीयता पर सवालिया निशान लगाती है। अवंतिका माकन तंवर ने जिला पुलिस के आलाधिकारियों से यह भी कहा है कि वह इस मामले में कड़ा संज्ञान लें, अन्यथा उन्हें मजबूरन आगामी रूपरेखा तैयार करनी पड़ेगी। वहीं इस पूरे प्रकरण में शहर थाना प्रभारी ने कहा कि इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। जल्द ही अन्य आरोपी भी गिरफ्तार कर लिए जाएंगे।

अवंतिका बोलीं- दबाव में पुलिस मुख्य आरोपी को नहीं कर रही गिरफ्तार
अशोक तंवर की पत्नी अवंतिका को घर में घुसकर जान से मारने की धमकी देने का मामला

Spotlight

Most Read

Gonda

सकरी पुलिया में घुसी बाइक, दो युवकों की मौत

सकरी पुलिया में घुसी बाइक, दो युवकों की मौत

25 फरवरी 2018

Related Videos

61 दिन बाद डेरा लौटा राम रहीम का शाही परिवार, बेटे ने संभाली कमान

साध्वियों से रेप मामले में जेल में बंद डेरा प्रमुख राम रहीम का शाही परिवार अपने डेरा परिसर में वापस लौट आया है। 25 अगस्त को राम रहीम के दोषी करार होने के बाद से ही परिवार ने डेरा छोड़ दिया था।

29 अक्टूबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen