15 साल में आठ गुणा बढ गए एड्स रोगी

अमर उजाला ब्यूरो/हिसार Updated Thu, 01 Dec 2016 12:44 AM IST
Civil hospital hisar, HIV, hisar
एड्स
सिविल अस्पताल में जांच में सामने आए एड्स रोगियों की संख्या 15 साल में आठ गुणा बढ़ गई है। यह खुलासा अस्पताल के वीसीटीसी के सन 2002 से अब तक के आंकड़ों का आंकलन करने से हुआ है।  हालांकि पिछले चार साल में हर साल एड्स रोगियों की संख्या लगभग बराबर मिली है।
   हरियाणा राज्य एड्स कंट्रोल सोसायटी द्वारा सिविल अस्पताल में एड्स के खात्मे के लिए वीसीटीसी स्थापित है। कोई मेल या फिमेल यहां आकर एड्स की जांच करा सकता है। इसमें मेल और फिमेल काउंसलर तैनात हैं। वे आने वाले लोगों की शंकाओं के सवालों का जवाब देकर दूर करते हैं। इसके अलावा वहां एड्स की जांच की जाती है। वीसीटीसी में अप्रैल 2002 से अब तक के हर साल के आंकड़े देखने से पता चलता है कि इन 15 सालों में यहां एड्स रोगी आठ गुणा बढ़ गए हैं। यह रिपोर्ट स्वास्थ्य विभाग के हाथ-पांव फुलाने वाली है।

यहां भी होती है एड्स की जांच
सिविल अस्पताल में एड्स की जांच होती है। हरियाणा एड्स कंट्रोल सोसायटी ने एड्स जांच के लिए यहां के सिविल अस्पताल के अलावा महाराजा अग्रसेन मेडिकल कॉलेज अग्रोहा तथा हांसी, आदमपुर, बरवाला, नारनौंद और टीबी अस्पताल में केंद्र खोल रखे हैं। वे केंद्र सिविल अस्पताल में रिपोर्ट न भेजकर डायरेक्ट विभाग मुख्यालय में भेजते हैं।

ये हैं एड्स के सामान्य लक्षण
डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. कुलदीप डाबला ने बताया कि एक माह से अधिक समय तक लगातार खांसी बनी रहना, खाना निगलने में कठिनाई महसूस होना, लगातार सिरदर्द रहना, खुजली होना आदि इसके सामान्य लक्षण हैं।

मुख्य लक्षण हैं ये
--एक महीने में शरीर के वजन में लगभगत 10 प्रतिशत से अधिक की कमी होना
--एक महीने से अधिक समय तक लगातार या रुक रुककर बुखार बना रहना
--एक महीने से अधिक समय तक या रुक रुककर या लगातार होने वाले दस्त
--गंभीर टीबी रोग का होना और सांस लेने में परेशानी होना

यौन रोगों का बचाव एवं उपचार
--यौन रोग से बचाव के लिए असुरक्षित यौन संपर्क से बचना चाहिए।
--सुरक्षित यौन संपर्क के लिए कंडोम का इस्तेमाल करना चाहिए।
--एक ही साथी के साथ यौन संपर्क रखें।
--जांचे हुए खून का ही इस्तेमाल करें।
--हो सके तो नई सुई का ही इस्तेमाल करें।
--यौन संक्रमणों का समय पर इलाज कराएं।
--यौन रोग होने पर अपना व साथी का इलाज कराएं।

सिविल अस्पताल में इतने आए रोगी
1 वर्ष   2002              25
2 वर्ष   2003              61
3 वर्ष   2004              69
4 वर्ष   2005              80
5 वर्ष   2006             121
6 वर्ष   2007             122
7 वर्ष   2008             109
8 वर्ष   2009             122
9 वर्ष   2010             152
10 वर्ष  2011            132
11 वर्ष 2012             136
12 वर्ष 2013             188
13 वर्ष 2014             191
14 वर्ष 2015             190
15 वर्ष 2016 सित. तक 119

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Rampur Bushahar

स्प्रिंगडेल स्कूल में रही वार्षिक समारोह

स्प्रिंगडेल स्कूल में रही वार्षिक समारोह

25 फरवरी 2018

Related Videos

CCTV : लट्टू बन गई कार, दो की हालत गंभीर, दो महीने की बच्ची भी घायल

हरियाणा के बालसमंद में हुए एक कार एक्सीडेंट का सीसीटीवी फुटेज सामने आया है। इस एक्सीडेंट में अनियंत्रित हुई कार एक के बाद एक कई बार सड़क से किनारे तक गुलाटी खाती है, मानो कोई खिलौना हो।

24 फरवरी 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen