लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Bihar ›   Kidnapped young man dead body found in Bihar

बिहार में बरामद हुआ अपहृत युवक का शव, बोलेरो सवार बदमाशों ने गोरखपुर से किया था अपहरण

अमर उजाला ब्यूरो, गोरखपुर। Published by: vivek shukla Updated Tue, 08 Sep 2020 01:20 PM IST
सांकेतिक तस्वीर। (इनसेट में मृतक की फाइल फोटो)
सांकेतिक तस्वीर। (इनसेट में मृतक की फाइल फोटो) - फोटो : अमर उजाला।
विज्ञापन
ख़बर सुनें

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के रामगढ़ताल इलाके से एक माह पूर्व बोलेरो सवार बदमाशों द्वारा अपहृत 35 वर्षीय सर्वेश सिंह उर्फ राज सिंह की सिरकटी लाश बिहार के गया जिले के बेलागंज थाने की पुलिस ने बरामद किया है। बेलागंज एसएचओ अभिनाश कुमार सोमवार को रामगढ़ताल पहुंचे। शव की फोटो और कपड़े के आधार पर परिजनों ने पहचान की है।



आलम यह है कि मां द्वारा तहरीर दिए जाने के बावजूद रामगढ़ताल पुलिस ने अपहरण का केस दर्ज किए जाने की बात तो दूर गुमशुदगी तक दर्ज नहीं की है। थाने पहुंचने पर युवक की मां को अपमानित भी किया गया था जिसके बाद उसने पांच सितंबर को एसएसपी और सीओ कार्यालय पहुंचकर कार्रवाई की गुहार लगाई थी।


बेलागंज एसएचओ ने बताया कि थानाक्षेत्र में एनएच 3 के पूर्व रिसौध नहर के पास धान के खेत में एक अज्ञात युवक का शव 10 अगस्त, 2020 को बरामद किया गया था। शव बोरे में था। गर्दन अलग और धड़ अलग थी।

एक आरसी पेपर के सहारे वह सोमवार को गोरखपुर गाड़ी वालों की गिरफ्तारी के लिए पहुंचे थे। जहां इस बात का पता चला कि गाड़ी का नंबर फर्जी था। जिस घर का नाम मिला उसी परिवार के युवक का अपहरण कर ले जाकर कहीं हत्या कर शव को उनके थाना क्षेत्र में फेंककर बदमाश फरार हो गए हैं। 

बता दें कि बेलघाट इलाके के पिपरसंड़ी गांव की मूल निवासी किशोरी देवी ने रामगढ़ताल पुलिस को तहरीर देकर बताया था कि वह अपने फौजी पति और परिवार के अन्य सदस्यों के साथ रामगढ़ताल इलाके के फुलवरिया में रहती है। छह अगस्त की अपराह्न दो से तीन बजे के बीच उसका बेटा सर्वेश सिंह उर्फ राज सिंह घर में मौजूद था। इस दौरान मैरून रंग की बोलेरो में सवार तीन चार लोग पहुंचे। दरवाजा खुलवाया और बेटे को बाहर बुलवाया।

बेटे के बाहर आते ही उन्होंने 9335578353 बताकर पूछा कि क्या यह उसका नंबर है। बेटे के हां कहते ही उक्त लोग उसे पीटने लगे और तमंचा सटाकर उसे जबरन बोलेरो में बैठाकर लेकर कहीं चले गए। किशोरी देवी थाने गई जहां उसके साथ पुलिसकर्मियों ने बदसलूकी की। इसके पूर्व महिला ने स्थानीय चौकी प्रभारी को भी तहरीर दी थी।

महिला ने यह भी बताया कि उसके बेटे के खिलाफ सुल्तानपुर जिले के कादीपुर कोतवाली में पूर्व में एक हत्या का केस दर्ज था। इसमें उसे जमानत मिली थी और वह लॉकडाउन के पूर्व से ही घर पर ही रह रहा था। रामगढ़ताल प्रभारी सत्य सान्याल शर्मा ने कहा कि मामले की जांच की जा रही है। बिहार पुलिस आई थी।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00