यूपी प‌रिवहन निगम की एसपीवी योजना अधर में

अमर उजाला, नोएडा Updated Wed, 29 Jan 2014 12:08 PM IST
UP transport corporation step back from SPV plan
ग्रेटर नोएडा और नोएडा के बीच यात्रियों को बेहतर बस सुविधा मुहैया कराने को लेकर गठित स्पेशल परपज व्हीकल (एसपीवी) में शामिल उत्तर प्रदेश परिवहन निगम ने नुकसान के मद्देनजर हाथ खींच लिए हैं। ऐसे में एसपीवी के शुरू होने पर संशय बना हुआ है।

नफा नुकसान को ध्यान में रखते हुए यूपी परिवहन निगम ने एसपीवी में शामिल होने से मना कर दिया है। एसपीवी के गठन के लिए अंशधारिता 10 करोड़ रुपये रखी गई थी। जिसमें नोएडा और ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण को 45-45 प्रतिशत जबकि उत्तर प्रदेश परिवहन निगम को 10 प्रतिशत अंशदान करना था।

एसपीवी के कुशल संचालन व देखरेख के लिए सात सदस्यीय बोर्ड ऑफ डायरेक्टर का भी गठन किया गया था। जिसमें यूपी परिवहन निगम के एमडी को भी निदेशक बनाया गया था।

एसपीवी के तहत नोएडा-ग्रेटर नोएडा के बीच करीब 190 बसें चलाई जानी थी। जिसमें पहले चरण में एक सौ बसें आनी थीं। इस योजना में पांच-पांच मिनट की अवधि में बस सेवा मुहैया कराए जाने की बात कही गई थी। इसके अलावा पीपीपी मॉडल पर उच्चस्तरीय बस स्टैंड भी बनाने की बात कही गई थी।

ग्रेटर नोएडा डिपो के एआरएम सतेंद्र वर्मा ने बताया कि यूपी परिवहन निगम के बोर्ड के फैसले के बाद एसपीवी में शामिल नहीं होने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने बताया कि सिटी बस रूट पर हुए घाटे का करीब नौ करोड़ रुपये प्राधिकरण पर बकाया है।

Spotlight

Most Read

Chandigarh

हरियाणाः यमुनानगर में 12वीं के छात्र ने लेडी प्रिंसिपल को मारी तीन गोलियां, मौत

हरियाणा के यमुनानगर में आज स्कूल में घुसकर प्रिंसिपल की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मामले में 12वीं के एक छात्र को गिरफ्तार किया गया है।

20 जनवरी 2018

Related Videos

छात्रों से केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने किया ये ‘अनुरोध’

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुग्राम के SGT विश्वविद्यालय के पांचवें दीक्षांत समारोह में शिरकत की। यहां उन्होंने छात्रों को संबिधित भी किया।

20 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper