लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR ›   Shaheen Bagh Protest Delhi News: political analyst gunja kapoor allegedly filming protesters

Shaheen Bagh Protest: गुंजा कपूर पर बुर्का पहनकर वीडियो बनाने का आरोप, चेकिंग में खुला राज

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली Published by: पूजा त्रिपाठी Updated Wed, 05 Feb 2020 04:26 PM IST
Shaheen Bagh: गुंजा कपूर बुर्का पहन पहुंची शाहीन बाग
Shaheen Bagh: गुंजा कपूर बुर्का पहन पहुंची शाहीन बाग - फोटो : एएनआई
विज्ञापन
ख़बर सुनें

दिल्ली के शाहीन बाग में बुधवार दिन में उस वक्त हड़कंप मच गया जब प्रदर्शनकारी महिलाओं ने राजनीतिक विश्लेषक गुंजा कपूर पर बुर्का पहनकर वीडियो बनाने का आरोप लगाया। यह खबर फैलते ही वहां अफरा-तफरी मच गई।



पुलिस को जैसे ही इस बात की जानकारी मिली तो उन्होंने गुंजा कपूर को वहां से बाहर निकाला। ताजा जानकारी के अनुसार इस वक्त दिल्ली पुलिस गुंजा कपूर से पूछताछ कर रही है। वह बुर्का पहनकर प्रदर्शनस्थल पर आई थी।


गौरतलब है कि शाहीन बाग में इन दिनों सुरक्षा व्यवस्था चौकस कर दी गई है। इस दौरान कोई भी शख्स बिना चेकिंग के नहीं अंदर नहीं जा सकता। जब गुंजा कपूर वहां बुर्का पहनकर पहुंची तो महिलाएं उसकी चेकिंग करने लगीं। जब उसने अपना बदला नाम बताया। चेकिंग कर रही महिलाओं को शक हुआ तो उन्होंने आईडी कार्ड दिखाने को कहा जिसमें उसका नाम गुंजा कपूर ही था।

गुंजा का कहना है कि वो वहां सिर्फ वीडियो बनाना चाहती थी और डर रही थी कि बिना बुर्के के जाएगी तो कोई उसे वीडियो बनाने नहीं देगा। वहीं प्रदर्शनकारी महिलाओं का आरोप है कि उसने नाम बदलकर वीडियो बनाने की कोशिश की।




 
मंच से भाषण देने के लिए 10वीं पास होना जरूरी
शाहीन बाग में सीएए के खिलाफ आए विवादित बयानों को देखते हुए आयोजकों ने 10वीं पास से कम योग्यता रखने वाले वक्ताओं के मंच से भाषण देने पर रोक लगा दी है। प्रदर्शनकारियों ने मंच से भाषण देने के लिए एक शपथ पत्र जारी किया है। वक्ताओं को इसे भरने के बाद ही मंच पर जाने की इजाजत है।

सोशल मीडिया पर शाहीन बाग में विवादित बयान के वीडियो लगातार वायरल होने के बाद मंच से भाषण देने वालों के लिए नियम सख्त कर दिए गए हैं। आयोजकों का शपथ पत्र जारी करने के पीछे कहना है कि 10वीं से ऊपर पढ़े वक्ता ही सीएए-एनआरसी के खिलाफ भीड़ को समझा सकते हैं। महिलाओं का कहना है कि कुछ लोग मंच पर आकर विवादित बयान देते हैं, जिससे पूरा शाहीन बाग प्रदर्शन बदनाम होता है।

भाषण देने के लिए नियम सख्त करने के पीछे शरजील इमाम का देशविरोधी वीडियो है। इसमें उसने असम को देश से अलग करने की बात कही थी। शुरुआत में इस वीडियो को शाहीन बाग से जुड़ा बताकर सोशल मीडिया पर प्रसारित किया गया था। इसके बाद कई दूसरे विवादित वीडियो भी शाहीन बाग से जुड़े बताए गए थे। हालांकि यह बात अलग है कि शरजील इमाम इतनी पढ़ाई करने के बाद भी देशविरोधी मानसिकता का शिकार हो गया।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00