लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi NCR ›   Noida News ›   Amar Ujala Influencer Meet: Patience and confidence are the first condition of success

अमर उजाला इंफ्लूएंसर मीट:  धैर्य और आत्मविश्वास हैं सफलता की पहली शर्त, ट्रोल्स को करें नजरअंदाज

अमर उजाला ब्यूरो, नोएडा Published by: विक्रांत चतुर्वेदी Updated Wed, 24 Aug 2022 01:29 PM IST
सार

अमर उजाला इंफ्लूएंसर मीट में इंफ्लूएंसर बोले - लगातार प्रयास से ही कामयाबी मिलेगी।  सेक्टर-59 स्थित अमर उजाला कार्यालय में आयोजित इंफ्लूएंसर मीट के दौरान ऐसे ही कुछ सोशल मीडिया स्टार्स ने अनुभव साझा किए।

इंफ्लूएंसर मीट में पहुंचे प्रतिभागी
इंफ्लूएंसर मीट में पहुंचे प्रतिभागी - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

हैशटैग और इंस्टा स्टोरी के इस दौर में सोशल मीडिया एक प्रभावशाली माध्यम बनकर उभरा है। यूट्यूब और इंस्टाग्राम जैसे लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई ऐसे चेहरे नजर आते हैं, जो किसी सितारे से कम नहीं लगते हैं। लाखों लोगों के चहेते इन इंफ्लूएंसर की कड़ी मेहनत उन्हें कमाई के साथ लोगों को प्रभावित करने की ताकत भी देती है। जिले में भी कई ऐसे सितारे हैं जिन्हें सोशल मीडिया पर लाखों की तादाद में लोग फॉलो ही नहीं करते बल्कि एक सेलेब्रिटी की तरह पलकों पर बैठाते हैं। सेक्टर-59 स्थित अमर उजाला कार्यालय में आयोजित इंफ्लूएंसर मीट के दौरान ऐसे ही कुछ सोशल मीडिया स्टार्स ने अनुभव साझा किए। कंटेंट के पीछे छिपी मेहनत के साथ ही सामने आने वाली चुनौतियों पर इंफ्लूएंसरों ने खुलकर बातें कीं और नए कंटेंट क्रिएटरों को मेहनत करते रहने का संदेश दिया। 


मां बनने के साथ शुरू हुआ नया सफर
momof_boiz - 37 हजार फॉलोवर इंस्टाग्राम
सोनाक्षी सहानी - मॉम ब्लॉगर 

ग्लैमर से जुड़ी गतिविधियों में हिस्सा लेते वक्त मुझे हमेशा डर सताता था कि लोग क्या कहेंगे। शादी के बाद जब गर्भवती हुई तो खाली समय गुजारना मुश्किल लगता था। पति ने कहा कि तुम्हें सोशल मीडिया में रुचि है तो इसी से जुड़कर कुछ कर सकती हो। उसके बाद थोड़ा बहुत पोस्ट करने का सिलसिला शुरू हुआ। जब बच्चा बड़ा हुआ तो वो भी सोशल मीडिया पर खासा सक्रिय था। वो पढ़ाई और सोशल मीडिया के बीच बैलेंस रखे यह जिम्मेदारी भी है। मैंने ज्यादातर मां बनने से जुड़े अनुभवों को शेयर किया है।

सफलता का मंत्र - समय और निरंतरता का रखें ख्याल

साझा किए अपने अनुभव
mommypuri - 35 हजार फॉलोवर 
सोनम पुरी - शिक्षा से जुड़ी कंटेंट क्रिएटर

मैं एक छोटे शहर से थी। जब एनसीआर में आई तो अपने अनुभवों को स्माल टाउन गर्ल इन मेट्रो नाम से एक ब्लॉग के जरिए साझा किया, लेकिन ब्लॉगिंग का यह सफर जॉब मिलने के बाद रुक गया। शादी और बच्चे के बाद एक नई पारी की शुरुआत हुई। जहां मैंने मां बनने के सफर में आई चुनौतियों को शेयर किया। मैं शिक्षा व सामाजिक मुद्दों से जुड़े कंटेंट भी साझा करती हूं। मां के साथ इंफ्लूएंसर होना दोहरी चुनौतियां लेकर आता है। लोग कई बार आपको लेकर ज्यादा जजमेंटल हो जाते हैं। 
सफलता का मंत्र - लोगों की नहीं अपनी सोच को दें तरजीह 

बदलावों को किया आत्मसात
sundays with sandy एक लाख फॉलोवर यूट्यूब
संदीप मलिक - अभिनेता

मैंने 25 साल कॉरपोरेट कंपनी में काम किया। सोचता था कि जब रिटायर होऊंगा तो अपने अनुभव सोशल मीडिया पर साझा करूंगा। जिससे और लोगों को उनका लाभ मिल सके। लेकिन कोविड के दौरान एहसास हुआ कि जो करना है अभी करना है। जीवन बेहद अनिश्चित है। मैंने पहले अपने अनुभव व जानकारियों को सोशल मीडिया पर साझा करना शुरू किया। धीरे-धीरे अभिनय करना भी शुरू किया क्योंकि मुझे बचपन से अभिनय में रुचि रही है। सोशल मीडिया के जरिए अब मुझे फिल्म इंडस्ट्री तक पहुंच रहा हूं।
सफलता का मंत्र - बदलावों से डरिए मत, थोड़ा पागलपन भी सफलता के लिए जरूरी है

मूंछ ने दिलाई पहचान
muchoman306 72 हजार फॉलोवर इंस्टाग्राम
दक्ष चौधरी - अभिनेता

मेरे दोस्त सोशल मीडिया पर सक्रिय थे। मुझे समझ नहीं आता था कि इतना क्यों पोस्ट करते हैं। कभी लगा नहीं कि सोशल मीडिया से इतना प्यार, सम्मान व पहचान मिल सकती है। मुझे मूंछें बढ़ाने और उससे जुड़ी प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने का शौक था। एक दिन मूंछों को दर्शाते हुए दोस्त के एक वीडियो में शौकिया काम किया। उस पर लोगों की बहुत अच्छी प्रतिक्रियाएं आईं। इसके बाद लगा कि यह कितना बेहतर और ताकतवर माध्यम है। शुरुआती दौर में फॉलोवर कम थे, लेकिन धीरे-धीरे पहचान बनती गई। 
सफलता का मंत्र - लगातार करें प्रयास, खुद पर रखें विश्वास 

आर्ट को दुनिया के सामने लाने की ललक
shivangi.sah 46.6 हजार फॉलोवर इंस्टाग्राम
शिवांगी शाह - आर्ट क्रि एटर

मुझे आर्ट और डिजाइन में रुचि रही है। पेशे से एक डिजाइनर हूं। कई बार लगा कि कला के विभिन्न पहलुओं को लोगों के सामने लाने की जरूरत है। सोशल मीडिया के रूप में एक ऐसा माध्यम मिला जहां मैं मनचाही, सामग्री, भावनाएं और जानकारी साझा कर सकती हूं। लेकिन आपके कौन से कंटेंट को लोग पसंद करेंगे कौन सा नहीं, कोई कह नहीं सकता है। आज मैं एक फैशन और लाइफ स्टाइल क्रिएटर के रूप में लोकप्रियता पा रही हूं। इसमें परिवार का भी काफी सहयोग रहा है। मां ने हमेशा कुछ बेहतर करने के लिए प्रेरित किया।
विज्ञापन
सफलता का मंत्र : रुचि के अनुसार कंटेंट चुनें

पैसों के लिए खुद के लिए भी करें काम
wickedbavi - 60 हजार फॉलोवर इंस्टाग्राम
भवी डिल्लो सहगल - फूड ब्लॉगर

मैं कॉरपोरेट में जॉब करती थी। शादी के बाद बदलती जिम्मेदारियों और जगह की वजह से नौकरी छोड़ दी, लेकिन सक्रिय रहना पसंद था। खाने में रुचि के चलते मैंने फूड कंटेंट पोस्ट करना शुरू किया। साथ ही अन्य कई विषयों जिनमें मेरी रुचि थी उन पर लिखा और पोस्ट किया। कई लोग कहते हैैं कि आप संपन्न परिवार से हैं आपको क्या जरूरत है यह करने की, लेकिन किसी भी काम की जरूरत सिर्फ पैसों के लिए नहीं बल्कि खुद के विकास के लिए होती है। साथ ही अपने पसंदीदा क्षेत्र की ओर बढ़ने का हक सभी को है।  
सफलता का मंत्र - खुद पर रखें विश्वास, जो पसंद हो उसे दे तरजीह 

एक साथ निभा सकते हैं कई जिम्मेदारियां
thekainmommy 14 हजार फॉलोवर इंस्टाग्राम
सोनल - मॉम ब्लॉगर 

मैंने 11 साल एमएनसी में काम किया। मां बनने के दौरान महसूस किया कि यह बड़े बदलावों का दौर है। जिन्हें मैं लोगों के साथ साझा करना चाहती थी। जब सोशल मीडिया का सफर शुरू हुआ तो कई चुनौतियां थीं। कई लोगों को लगता है कि मां यदि काम कर रही है तो बच्चे का अच्छा ख्याल नहीं रखेगी। जबकि एक साथ कई जिम्मेदारियां निभाना हम महिलाओं की खूबी है। बच्चा तो हर मां की प्राथमिकता हमेशा ही रहता है। लेकिन फिर भी लोग बोलते हैं कि बच्चे पर ध्यान दो, सोशल मीडिया पर नहीं। 
सफलता का मंत्र - खुद तय करें अपने दायरे व प्राथमिकताएं, ट्रोल को करें नजरअंदाज

लोगों के मुद्दे करते हैं प्रभावित
rashtrasamachar - 2.76 लाख फॉलोवर यूट्यूब
ब्रह्मानंद - फैक्ट क्रिएटर

मैंने काफी समय प्रोफेशनली एक धर्मगुरु के साथ काम किया। उनके निधन के बाद बड़ा सवाल था कि जीवन में आगे क्या करना है। मुझे समाज से खबरों से जुड़ना पसंद है। साथ ही मासकॉम का विद्यार्थी भी रहा हूं, इसलिए यूट्यूब पर खबरों को साझा करना शुरू किया। खासकर उन लोगों व मुद्दों तक पहुंचने का प्रयास करता हूं जो लोगों की परेशानियां से जुड़े हैं और मेन स्ट्रीम मीडिया में नहीं आए हैं या कम आए हैं। मैं लोगों की तकलीफें कम करने या समाज की बेहतरी में थोड़ा भी योगदान दे सकूं तो अच्छा है।
सफलता का मंत्र - धैर्य व जुनून के बिना कामयाबी नहीं मिलती। लगातार करें प्रयास 

हर आयु वर्ग का मिलता है प्यार
devika029  9 लाख फॉलोवर इंस्टाग्राम, 15 लाख यूट्यूब 
देविका गुप्ता - इंटरटेनमेंट क्रिएटर

मैं 18 साल की थी तो भुवन बाम जैसे कई क्रिएटरों को देखना बहुत पसंद था और कई बार उनकी नकल करते हुए या अपना कुछ ओरिजनल भाई-बहनों और दोस्तों को शेयर करती थी। दोस्तों ने कहा कि मुझे भी सोशल मीडिया पर आना चाहिए। ज्यादातर ऐसा कंटेंट शेयर करने की कोशिश करती हूं जो लोगों का मनोरंजन कर सके। जब कहीं बाहर जाओ और बच्चों से लेकर बडे़ जब आपकी तारीफ करें, आपको सबका प्यार मिले तो बहुत अच्छा लगता है। लेकिन इस प्यार को पाने के लिए मेहनत जरूरी है।
सफलता का मंत्र - हर अनुभव से लें सीख, आलोचना को ना होने दें खुद पर हावी
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00