बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

नकली नोट छापने वाले गिरोह का एक बदमाश फिर हत्थे चढ़ा 

ब्यूरो/ अमर उजाला, गुरुग्राम Updated Tue, 06 Jun 2017 12:53 PM IST

सार

नकली नोट छापने वाले गिरोह का एक बदमाश फिर हत्थे चढ़ा 
विज्ञापन
one more arrested in fake currency case in gurugram
- फोटो : google

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें

विस्तार

पुन्हाना पटाकपुर गांव में नकली नोट छापने वाले अंतरराज्यीय गिरोह के मास्टरमाइंड मुबारिक के भाई जाकिर को पुलिस ने सोमवार को उपमंडल न्यायिक दंडाधिकारी मोबाइल कोर्ट रितु यादव की अदालत में पेश किया जहां से उसे 9 जून तक पुलिस रिमांड पर लिया गया है।
विज्ञापन


सीआईए के जवानों ने इस मामले में एक अन्य आरोपी को दो हजार के एक नकली नोट के साथ दबोचा है। बता दें कि मेवात के पुन्हाना पटाकपुर में दो-दो हजार के नकली नोट छापने वाले मास्टरमाइंड  मुबारिक के भाई जाकिर को सीआईए के जवानों ने रविवार को पिनगवां के पास से दबोचा था।


पुलिस ने इसके पास से दो-दो हजार के पांच नकली नोट, फर्जी ड्राइविंग लाइसेंस, एक वाहन की फर्जी आर सी बरामद की थी। जाकिर ने पुलिस को बताया कि उसके भाई ने लाखों रुपये की नकली करेंसी रनियाला पटाकपुर में घर पर छापकर प्रदेश में कई  लोगों को दी है।

हालांकि पुलिस इस मामले को बड़ी गंभीरता से ले रही है। नकली नोटों को देश के कई प्रदेशों में चलाने वालों को पुलिस तलाश रही है। हालांकि पुलिस ने इस मामले में फिलहाल छह लोगों के खिलाफ भादस की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

अदालत से जाकिर को पुलिस रिमांड पर लेने के बाद पुलिस पता लगा रही है कि जाकिर ने किस-किस को नकली नोट दिए हैं। वहीं दूसरी ओर जाकिर को पुलिस द्वारा गिरफ्तार करने के बाद मुबारिक ने अपने घर से कंप्यूटर, प्रिंटर एवं नोट छापने वाला कागज भी कहीं और छिपा दिया है।

जाकिर को साथ रखकर पुलिस इस मामले के अन्य आरोपियों को दबोचने के साथ-साथ इससे कंप्यूटर, प्रिंटर, नोट छापने वाले कागज को बरामद करेगी। सीआईए के जवानों ने इस मामले के अन्य आरोपी आरिफ को उसके रहपुआ रोड पिनगवां से दबोच लिया है। सीआईए के जवानों ने इसके पास से दो हजार का एक नकली नोट बरामद किया है।

जाकिर को पुलिस रिमांड लेने के बाद इसके भाई एवं इस गिरोह के मास्टरमाइंड मुबारिक और अन्य आरोपियों को दबोचा जाएगा। जिस कंप्यूटर, प्रिंटर व कागज से ये नकली करेंसी बनाते थे उसको भी बरामद करना है।
रतनलाल, सीआईए इंचार्ज, फिरोजपुर झिरका।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us