विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को
Astrology Services

सुखी वैवाहिक जीवन के लिए इस जन्माष्टमी मथुरा में कराएं राधा-कृष्ण युगल पूजा, 24 अगस्त को

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

छत्तीसगढ़

गुरूवार, 22 अगस्त 2019

छत्तीसगढ़ में हाथी ने दो लोगों को कुचलकर मार डाला

छत्तीसगढ़ के सूरजपुर जिले में अलग-अलग घटनाओं में हाथी ने दो लोगों को रौंद डाला, जिससे उनकी मौत हो गयी। मरने वालों में एक महिला भी शामिल है। संभागीय वन अधिकारी भानु प्रताप सिंह ने बताया कि मवेशियों के साथ प्रतापपुर के जंगल में गए सोमनाथ कोडकू का शुक्रवार को हाथी से सामना हुआ था। कोडकू प्रतापपुर के ही रहने वाले थे। यह स्थान कोरबा से करीब 200 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

उन्होंने बताया कि हाथी ने पहले कोडकू को सूंड़ में लपेटकर जमीन पर पटक दिया और फिर उन्हें पैरों से कुचल कर मार डाला। कोडकू जब घर नहीं लौटे तब कुछ स्थानीय लोगों ने वन विभाग से संपर्क किया, जिन्होंने तलाश अभियान चलाया। सिंह ने बताया कि शनिवार सुबह जंगल में उनका शव मिला।

दूसरी घटना में शनिवार को सरहरी गांव के पास के वनक्षेत्र में मशरूम इकट्ठा करने के दौरान कुछ ग्रामीणों पर उसी हाथी ने हमला किया। डीएफओ ने बताया कि समूह के बाकी लोग किसी तरह भागने में सफल रहे लेकिन रुक्मिणी चेरवा उसकी चपेट में आ गयीं और हाथी ने उन्हें भी कुचलकर मार डाला।

उन्होंने बताया कि मृतकों के आश्रितों को तत्काल 25,000 रुपये की राहत राशि दी गयी है और जल्द ही मुआवजे की शेष राशि भी दे दी जाएगी। उत्तरी छत्तीसगढ़ के सरगुजा, सूरजपुर, कोरबा, रायगढ़, जसपुर, बलरामपुर और कोरिया जिलों के घने जंगलों में मानव-हाथी के संघर्ष की घटनाएं सामने आती रहती हैं। ... और पढ़ें

छत्तीसगढ़ : सशस्त्र बल कमांडर ने खुद को गोली मारकर की आत्महत्या

छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल (सीएएफ) के एक 42 वर्षीय अधिकारी ने दंतेवाड़ा जिले में अपनी सर्विस राइफल से गोली मारकर कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने रविवार को यह जानकरी दी।

पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने बताया कि रायपुर से लगभग 400 किलोमीटर दूर दंतेवाड़ा में अपनी बैरक में शनिवार की रात सीएएफ की 9वीं बटालियन के सहायक प्लाटून कमांडर राजू गुरुंग ने अपनी सर्विस राइफल से खुद को गोली मार ली। 

उन्होंने बताया कि जब उनके साथियों ने बंदूक की आवाज सुनी, तो वे भागकर उनके बैरक में पहुंचे जहां उनके साथियों ने उन्हें खून से लथपथ पाया। पल्लव ने बताया कि गुरुंग को फौरन स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

उन्होंने बताया कि घटनास्थल से कोई सुसाई़ड नोट बरामद नहीं हुआ है। आत्महत्या के पीछे के कारण का पता लगाने के लिए जांच की जा रही है। उनके परिवार वालों को घटना की जानकारी दे दी गई है।

अधिकारी ने बताया कि प्रारंभिक सूचना के अनुसार, बिलासपुर जिले के अमेरी गांव के रहने वाले राजू गुरुंग ने पहले भी आत्महत्या करने की कोशिश की थी, जिसके बाद उनके खिलाफ विभागीय जांच चल रही थी।
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़ : पुलिस ने एक लाख के इनामी नक्सली समेत चार नक्सलियों को किया गिरफ्तार

पुलिस ने छत्तीसगढ़ से चार नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने शनिवार को बीजापुर जिले से एक लाख के इनामी, माओवादियों के फ्रंटल विंग के प्रमुख सहित चार नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। बीजापुर के एसपी दिव्यांग पटेल ने कहा कि सुरक्षा बलों की एक संयुक्त टीम ने बासागुड़ा पुलिस थाना क्षेत्र के चिलकापल्ली गांव के जंगल से शुक्रवार शाम को इन नक्सलियों को पकड़ा गया है।

उन्होंने कहा कि कोबरा, सीआरपीएफ और जिला बल इस कार्रवाई में शामिल थे। गिरफ्तार किए गए चार नक्सलियों में ओयम मुत्ता (40) शामिल है जो तिमापुर इलाके में आदिवासी किसान मजदूर संगठन के प्रमुख के रूप में सक्रिय था। उसके सर पर एक लाख रुपये का इनाम था। अन्यों की पहचान पुनेम सन्नू (37), अनिल मडकम (22) और कुंजम मारा (45) के रूप में की गई है।
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़ व्यापम और अन्य परीक्षाओं में लोगों का पैसा लूटने वाले गिरोह का भांडाफोड़

छत्तीसगढ़ पुलिस ने सीजी व्यापम और अन्य प्रतियोगिताओं में फिशिंग कॉल करके पैसा लूटने वाले गिरोह को पकड़ा है। रायपुर के एसएसपी आरिफ शेख ने बताया कि हमनें छत्तीसगढ़ व्यापम और अन्य प्रतियोगिताओं में फिशिंग कॉल करके लोगों का पैसा लूटने वाले गिरोह को पकड़ा है।


गिरोह के मास्टर माइंड दीपक कुमार को दिल्ली से गिरफ्तार कर रायपुर लाया गया है। आरोपी के 15 से ज्यादा बैंकों में फर्जी खाते हैं। गिरोह सीजीएसएससी के नाम पर वाटरमैन और स्वीपर पद के फर्जी  नियुक्ति पत्र जारी कर लोगों से करोड़ों रुपये की लूट को अंजाम दे चुका है। यह गिरोह तमिलनाडु, यूपी, हरियाणा समेत कई राज्यों में सक्रिय था।
  ... और पढ़ें
रायपुर एसएसपी आरिफ शेख रायपुर एसएसपी आरिफ शेख

छात्रावास अधीक्षिका के पति ने महिला सफाईकर्मी को नवजात बच्ची के साथ घसीटा, वीडियो वायरल

छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले में महिला सफाईकर्मी और उसके मासूम बच्चे के साथ मारपीट की घटना सामने आई है। कोरिया जिले के जनकपुर ब्लॉक के बड़वाही कन्या आश्रम में महिला सफाई कर्मचारी के साथ छात्रावास अधीक्षिका स्मिता सिंह के पति रंगलाल सिंह ने बदसलूकी की और कमरे से घसीटकर बाहर निकाल दिया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। हालांकि, वीडियो वायरल होने के बाद प्रशासन ने कार्रवाई की और अधीक्षिका और उसके पति को निलंबित कर दिया है।

वीडियो में छात्रावास अधीक्षिका का पति रंगलाल महिला को घसीटकर बाहर निकालता दिख रहा है। दरअसल, रंगलाल ने उन्हें कमरा खाली करने को कहा। मना करने पर उसने जबरदस्ती की। सफाईकर्मी की तीन महीने की नवजात बच्ची को कपड़ों में लपेटकर जमीन पर रखवा दिया। फिर  सारा सामान भी बाहर फेंक दिया। 
 
पुलिस ने रंगलाल के खिलाफ मामला दर्ज किया है। हालांकि अभी तक रंगलाल अपनी पत्नी के साथ पुलिस के गिरफ्त से बाहर है। मामले में क्षेत्रीय विधायक और कलेक्टर ने भी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। आदिवासी विभाग भी अपने स्तर पर जांच कर रहा है। 

 
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़ में आठ लाख के इनामी और एक दंपति समेत चार नक्सलियों ने किया आत्मसमर्पण 

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में सोमवार को चार नक्सलियों ने पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। इसमें एक दंपति नक्सली भी हैं। बीजापुर के पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल और उप महानिरीक्षक (सीआरपीएफ) कोमल सिंह ने कहा कि उनमें से दो नक्सलियों के सिर पर कैश इनाम थे।

आत्मसमर्पण करने वाले नक्सलियों में 26 वर्षीय राकेश उइका है, जो पीपुल्स लिबरेशन गुरिल्ला आर्मी (पीएलजीए) बटालियन नंबर वन के सेक्शन कमांडर था। वह सबसे खूंखार नक्सली कैडर था, जिसके सिर पर आठ लाख रुपये का इनाम था। वहीं, भाईरामगढ़ क्षेत्र कमेटी के मिलिट्री पलटून नंबर 13 का डिप्टी कमांडर कुककेम सुक्कु के सिर पर भी तीन लाख रुपये का इनाम था। 

सुक्कु की पत्नी 32 वर्षीय सोमरी कादति और 30 वर्षीय बुधुरु मोदियाम ने भी आत्मसमर्पण कर दिया। सभी को राज्य सरकार की पुनर्वास योजना के तहत सहायता मुहैया कराई जाएगी। आत्मसमर्पण करने वाले सभी नक्सलियों को 10000-10000 रुपये बतौर इनाम दिया गया। 
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़: नर्स ने डिलिवरी के दौरान तोड़ दिया नवजात का हाथ, पेट में ही बच्चे की मौत

छत्तीसगढ़ में नर्स की लापरवाही से डिलिवरी के दौरान नवजात की मौत हो गई। दरअसल, डिलिवरी के दौरान नर्स ने बच्चे का हाथ तोड़ दिया जिससे मां के पेट में ही नवजात की मौत हो गई।

दंपती ने आरोप लगाया कि नर्स की लापरवाही के कारण प्रसव के दौरान उनके बच्चे की मौत हुई है। दंपती ने यह भी आरोप लगाया कि अस्पताल जाने के दौरान एम्बुलेंस चालक ने उसे अस्पताल पहुंचाने के बजाय नर्स के घर जाने का सुझाव दिया गया था। 

ब्लॉक मेडिकल ऑफिस प्रतापपुर के पद पर कार्यरत राजेश ने कहा कि मुझे वरिष्ठ अधिकारियों से इस घटना के बारे में एक पत्र मिला है। हम दोनों पक्षों से पूछताछ करने जा रहे हैं और फिर कार्रवाई करेंगे।

  ... और पढ़ें

छत्तीसगढ़: दंतेवाड़ा के अस्पताल में लगी आग, कोई हताहत नहीं

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा जिले के गीदम में स्थित महिला एवं बाल अस्पताल में आज आग लग गई है। घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है। आग अब दमकलकर्मियों को नियंत्रण में है। आग लगने की वजहों का फिलहाल पता नहीं लगा है।


... और पढ़ें

छत्तीसगढ़: कुष्ठ रोगियों की सेवा के लिए पद्मश्री से सम्मानित समाजसेवी दामोदर गणेश बापट का निधन

अस्पताल में आग को बुझाते लोग
कुष्ठ रोगियों की सेवा करने के लिए पद्मश्री से सम्मानित समाजसेवी दामोदर गणेश बापट का शुक्रवार देर रात निधन हो गया। गणेश बापट लंबे समय से बीमार चल रहे थे। 87 वर्षीय दामोदर गणेश बापट ने रात 2.37 मिनट पर बिलासपुर के अपोलो अस्पताल में आखिरी सांस ली। 
कुष्ठ रोगियों के लिए अपनी पूरी जिंदगी समर्पित करने वाले बापट ने असहाय और मरीजों के लिए कात्रेनगर चांपा के सोंठी आश्रम का निर्माण किया था, जहां उनका पार्थिव शरीर अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने पिछले साल नई दिल्ली के राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में समाज सेवी गणेश बापट को पद्मश्री से सम्मानित किया था। चांपा के सोंठी आश्रम में भारतीय कुष्ठ निवारक संघ द्वारा संचालित आश्रम में कुष्ठ पीड़ितों की सेवा के लिए उन्होंने अपना संपूर्ण जीवन समर्पित कर दिया था। 

कुष्ठ आश्रम की स्थापना सन 1962 में कुष्ठ पीड़ित सदाशिवराव गोविंदराव कात्रे द्वारा की गई थी, जहां वनवासी कल्याण आश्रम के कार्यकर्ता श्री बापट सन 1972 में आश्रम पहुंचे। 

गणेश बापट ने कुष्ठ पीड़ितों के इलाज और उनके सामाजिक-आर्थिक पुनर्वास के लिए सेवा के अनेक योजनाओं की शुरूआत की। प्रमुख रूप से उन्होंने कुष्ठ रोग के प्रति लोगों को जागृत करने के अलावा कुष्ठ रोगियों की सेवा व आर्थिक व्यवस्था करने का कार्य किया है।
... और पढ़ें

नक्सली हमले में शहीद जवान की राइफल को कॉन्स्टेबल बहन ने बांधी राखी, लिया बदला लेने का संकल्प

रक्षाबंधन के मौके पर छत्तीसगढ़ पुलिस में कार्यरत कॉन्स्टेबल बहन ने नक्सली हमले में शहीद हुए अपने भाई की राइफल को राखी बांधी। कॉन्स्टेबल कविता कौशल, अक्टूबर 2018 में नक्सली हमले में शहीद हुए सहायक कांस्टेबल राकेश कौशल की बहन है। राकेश अरणपुर में एक नक्सली हमले में दो अन्य पुलिसकर्मी और एक कैमरापर्सन के साथ शहीद हो गए थे। 

राकेश के शहीद होने के बाद उसकी बहन कविता को अनुकंपा के आधार पर नौकरी मिली। दिलचस्प बात यह है कि कविता को उसके भाई की ही राइफल आवंटित की गई। कांस्टेबल कविता कौशल ने कहा, 'मुझे अपने भाई के स्थान पर छत्तीसगढ़ पुलिस में नौकरी मिली। मैंने विभाग से अनुरोध किया था कि मैं उसी बंदूक का उपयोग करना चाहती हूं जो मेरे भाई सेवा में इस्तेमाल करते थे। नक्सली कायर होते हैं। मैं दंतेश्वरी सेनानियों से जुड़ना चाहती हूं और मेरे भाई की मौत का बदला लेना चाहती हूं।

एसपी अभिषेक पल्लव ने इस संबंध में बताया कि कविता को अनुकंपा के आधार पर नौकरी दी गई। पहले उसने कार्यालय के काम के लिए अनुरोध किया था, लेकिन अन्य महिला कमांडो को देखकर उसने ऑपरेशन में शामिल होने की इच्छा व्यक्त की। उसने अपने भाई की राइफल के लिए भी अनुरोध किया।
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़: सिपाहियों ने बालक के साथ की पिटाई और अश्लील हरकत, निलंबित

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के एक रेलवे स्टेशन में एक संगीन मामला सामने आया है। सिपाहियों द्वारा एक बालक के साथ मारपीट करने और अश्लील हरकत करने का कथित वीडियो वायरल होने के बाद वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने तीनों सिपाहियों को निलंबित कर दिया है। 

रायपुर जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अरिफ शेख ने बुधवार को बताया कि शहर के सरोना रेलवे स्टेशन में लगभग 10 वर्षीय बालक के साथ मारपीट करने के आरोप में तीन सिपाहियों अनिल राजपूत, मुकेश ठाकुर और कृष्णा राजपूत को निलंबित कर दिया गया है। तीनों आरक्षक वर्तमान में अलग-अलग थानों कबीर नगर, सरस्वती नगर और आमानाका थाना में पदस्थ हैं।

शेख ने बताया कि हमें जानकारी मिली है कि गत नौ अगस्त को तीनों सिपाहियों ने सरोना रेलवे स्टेशन में एक बालक को जेबकतरा होने के आरोप में पकड़ा और उसकी पिटाई कर दी। सिपाहियों ने बालक के साथ अश्लील हरकत भी की।

उन्होंने बताया कि इस दौरान वहां से गुजर रही एक ट्रेन में सवार एक यात्री ने घटना का वीडियो बनाया और इसे सोशल मीडिया में डाल दिया। वीडियो वायरल हो गया।

शेख ने बताया कि मंगलवार की रात को उन्होंने वीडियो देखा और तत्काल तीनों सिपाहियों को निलंबित करने का फैसला किया। सिपाहियों के खिलाफ विभागीय जांच भी की जाएगी। 
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़ में ओबीसी को अब 27 फीसदी और एससी को 13 फीसदी आरक्षण

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य में अनुसूचित जाति को 13 फीसदी तथा अन्य पिछड़ा वर्ग को 27 फीसदी आरक्षण देने की घोषणा की है। बघेल ने गुरुवार को स्वतंत्रता दिवस पर राजधानी रायपुर के पुलिस परेड मैदान में ध्वजारोहण कर परेड की सलामी ली।

मुख्यमंत्री ने इस दौरान समारोह को संबोधित करते हुए कहा, यह कहते हुए खुशी हो रही है कि हमारे प्रदेश का अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग तबका काफी शांतिप्रिय ढंग से अपने अधिकारों की बात करता रहा है। उनके संविधान सम्मत अधिकारों की रक्षा करना हमारा कर्त्तव्य है। इस दिशा में एक बड़ा कदम उठाते हुए आज मैं यह घोषणा करता हूं कि अब प्रदेश निवासी अनुसूचित जनजाति को 32 प्रतिशत, अनुसूचित जाति को 13 प्रतिशत तथा अन्य पिछड़ा वर्ग को 27 प्रतिशत आरक्षण प्रदान किया जाएगा।

आदिवासी बहुल छत्तीसगढ़ में अनुसूचित जनजाति को 32 फीसदी आरक्षण की सुविधा है। वहीं अनुसूचित जाति को 12 फीसदी तथा अन्य पिछड़ा वर्ग को 14 फीसदी आरक्षण का लाभ मिल रहा है। राज्य सरकार की घोषणा के बाद अब अनुसूचित जाति को 13 फीसदी तथा अन्य पिछड़ा वर्ग को 27 फीसदी आरक्षण का लाभ मिलेगा। मुख्यमंत्री ने इस दौरान राज्य में जंगली हाथी की समस्या से निपटने के लिए ‘लेमरू एलीफेंट रिजर्व’ बनाने, ‘गौरेला- पेण्ड्रा-मरवाही’ के नाम से नया जिला बनाने तथा 25 नई तहसीलें बनाने जैसी अन्य कई घोषणाएं की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में हाथियों की आवाजाही से कई बार जान-माल की हानि होती है। इसकी एक बड़ी वजह हाथियों को उनकी पसंदीदा जगह पर रहने की सुविधा नहीं मिल पाना भी है। इस दिशा में भी राज्य सरकार ने गंभीरता से विचार किया है।

उन्होंने इस दौरान ‘लेमरू एलीफेंट रिजर्व’ बनाने की घोषणा की और कहा कि यह दुनिया में अपनी तरह का पहला ‘एलीफेंट रिजर्व’ होगा जहां हाथियों का स्थाई ठिकाना बन जाने से उनकी अन्य स्थानों पर आवाजाही तथा इससे होने वाले नुकसान पर भी अंकुश लगेगा। इससे जैव विविधता तथा वन्य प्राणी की दिशा में राज्य का योगदान दर्ज होगा।

उन्होंने कहा कि आज मैं एक और बहु-प्रतीक्षित मांग पूरी करते हुए एक नए जिले के निर्माण की घोषणा करता हूं। यह जिला ‘गौरेला- पेण्ड्रा-मरवाही’ के नाम से जाना जाएगा। इस तरह अब छत्तीसगढ़ 28 जिलों का राज्य बन जाएगा। इसके अलावा 25 नई तहसीलें भी बनाई जाएंगी।
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़ः नक्सलियों ने यात्री बस में लगाई आग, फोन और पैसे भी लूटे

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित नारायणपुर जिले में संदिग्ध नक्सलियों ने एक यात्री बस में आग लगा दी तथा यात्रियों से लूटपाट की। नारायणपुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के बेनूर थाना क्षेत्र में संदिग्ध नक्सलियों ने निजी यात्री बस में आग लगा दी और यात्रियों से मोबाइल फोन और पैसे लूट लिए।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि बीती रात नारायणपुर जिला मुख्यालय से पड़ोसी जिला कोंडागांव के लिए यात्री बस रवाना हुई थी। बस जब बेनूर थाना क्षेत्र के अंतर्गत काकोड़ी पुल के पास पहुंची तब हथियारबंद संदिग्ध नक्सलियों ने बस को घेर लिया और सभी यात्रियों को नीचे उतार दिया।

अधिकारियों ने बताया कि यात्रियों और बस चालक और परिचालक के नीचे उतारने के बाद संदिग्ध नक्सलियों ने बस में पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी। घटनास्थल से भागने से पहले उन्होंने यात्रियों से उनका मोबाइल फोन और पैसे भी लूट लिया।

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि इस घटना में किसी के भी हताहत होने की सूचना नहीं है।
... और पढ़ें

छत्तीसगढ़: बाराद्वार रेलवे स्टेशन के करीब अफ्रीकी फुटबॉल खिलाड़ी अबुबकर का शव मिला

छत्तीसगढ़ के जांजगीर चांपा जिले में पुलिस ने रेल पटरी के करीब अफ्रीका के आइवरी कोस्ट देश के निवासी फुटबॉल खिलाड़ी का शव बरामद किया है।

जांजगीर चांपा जिले के पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जिले के बाराद्वार रेलवे स्टेशन के करीब पुलिस ने इस महीने की नौ तारीख को आइवरी कोस्ट निवासी फुटबॉल खिलाड़ी डायमंड अबुबकर का शव बरामद किया है। बाराद्वार रेलवे स्टेशन मुंबई हावड़ा रेल मार्ग पर स्थित एक स्टेशन है। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि पुलिस को इस महीने की नौ तारीख को रेल पटरी के करीब एक व्यक्ति की लाश पड़ी होने की सूचना मिली थी। 

सूचना के बाद पुलिस दल को घटनास्थल के लिए रवाना किया गया था। पुलिस दल ने जब शव की तलाशी ली तब वहां से एक मोबाइल फोन मिला, जिसमें वीसा की फोटो थी। वीसा के आधार पर शव की शिनाख्त की गई। उन्होंने बताया कि अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक अबुबकर को इस वर्ष जुलाई महीने में भारत में फुटबॉल खेलने आने के लिए वीसा जारी किया गया था।

पुलिस को अनुमान है कि अबुबकर इस महीने की आठ तारीख को मुंबई आया था और वह रेल से कलकत्ता के लिए रवाना हुआ था। पुलिस अधिकारी ने बताया कि अभी तक यह जानकारी नहीं मिली है कि वह किस रेलगाड़ी में सफर कर रहा था। पुलिस रेल विभाग से संपर्क में है कि क्या मुंबई से हावड़ा पहुंचने वाली रेलगाड़ी से कोई लावारिस बैग मिला है। अभी तक इस संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली है।  ... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
विज्ञापन