तस्वीरें: विदेशों में कीमत लाखों, शहर में हेरिटेज फर्नीचर बना कबाड़

ब्यूरो/अमर उजाला, चंडीगढ़(सुमित सिंह श्योराण) Updated Thu, 20 Oct 2016 12:59 AM IST
chandigarh heritage furniture condition ,government college hostel
चंडीगढ़ में हेरिटेज फर्नीचर बना कबाड़ - फोटो : अमर उजाला
ली कार्बूजिए और पियरे जेनरे निर्मित हेरिटेज फर्नीचर ने चंडीगढ़ को दुनिया भर में नई पहचान दी है। लेकिन शहर में हेरिटेज फर्नीचर की सुरक्षा राम भरोसे है। शहर के शैक्षणिक संस्थानों से हेरिटेज फर्नीचर लगातार चोरी हो रहा है। लेकिन चंडीगढ़ प्रशासन आंखें मूदे बैठा है। इस पूरे मामले में चंडीगढ़ प्रशासन के अधिकारियों की लापरवाही पर कोई जवाब तलब करने वाला नहीं है। 

सेक्टर-11 स्थित पोस्ट ग्रेजुएट गवर्नमेंट कॉलेज के सेक्टर 15 स्थित ब्वॉयज हॉस्टल से 10 अक्तूबर को हेरिटेज फर्नीचर चोरी के बाद भी यूटी प्रशासन के अधिकारियों की नींद नहीं खुली है। लाखों की हेरिटेज कुर्सियां चोरी होने के मामले के बाद भी कोई प्रशासनिक अधिकारी मामले की जांच के लिए हॉस्टल नहीं पहुंचा। एसएसपी ने मामले की जांच के लिए गठित टीम शांत बैठ गई है।  

 अमर उजाला ने हेरिटेज फर्नीचर के रख रखाव में अनियमितताओं के मामले को लगातार उठाया है। शहर के सबसे  पुराने और प्रतिष्ठित जीसी-11 कॉलेज में करोड़ों की कीमत का हेरिटेज फर्नीचर हैं। लेकिन फर्नीचर की सेफ्टी को लेकर कोई पुख्ता इंतजाम नहीं है। हेरिटज से जुड़ा काफी सामान जगह की कमी के कारण कई सालों से कॉलेज के पार्किंग स्टैंड में पड़ा हुआ है। जबकि कुछ फर्नीचर लाइब्रेरी और हॉस्टल में रखे हैं। फर्नीचर की अनदेखी के कारण काफी कुर्सियां और स्टडी टेबल खराब हो चुकी हैं।

 मामले में कॉलेज प्रिंसिपल प्रो.जेके सहगल का कहना है कि पार्किंग स्टैंड में उनके चार्ज संभालने से काफी पहले से फर्नीचर रखा हुआ है। जल्द ही फर्नीचर के लिए नई जगह तलाश की जाएगी। उधर, सेक्टर-15 स्थित ब्वॉयज हॉस्टल में सुरक्षा पुख्ता करने के लिए कॉलेज प्रबंधन ने मुख्य गेट की दीवार ऊंची करने के लिए चीफ इंजीनियर को चिट्ठी लिखी है। 
आगे पढ़ें

30 करोड़ से अधिक के चोरी के फर्नीचर नीलाम

Spotlight

Most Read

Lucknow

ओपी सिंह कल संभालेंगे यूपी के डीजीपी का पदभार, केंद्र ने किया रिलीव

सीआईएसएफ के डीजी ओपी सिंह को रिलीव करने की आधिकारिक घोषणा रविवार को हो गई।

21 जनवरी 2018

Related Videos

नशे के शिकार लोगों को ऐसे सही रास्ता दिखाने का काम कर रहे हैं ये दो भाई

पूरा पंजाब नशे की गिरफ्त में हैं। बेरोजगारी और आसानी से मिलने वाला नशे का सामान इसके लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार माना जाता है।

20 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper