बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

पाक: अनुच्छेद 370 हटाने से गुस्साए दो लोगों ने महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा तोड़ी, गिरफ्तार

वर्ल्ड डेस्क, अमर उजाला Published by: योगेश साहू Updated Sun, 11 Aug 2019 02:58 AM IST

सार

  • झुंझलाहट से भरे पाकिस्तानी नागरिकों ने उठाया कदम, पुलिस ने गिरफ्तार कर सलाखों के पीछे डाला
  • अनुच्छेद 370 को लेकर पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी कोई खास तवज्जो नहीं मिल रही
  • पाक के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) और जम्मू-कश्मीर से लगती सीमा पर दर्जनभर आतंकी शिविर फिर सक्रिय
  • खुफिया रिपोर्ट में कहा गया है कि करीब 150 से ज्यादा आतंकी भारत में घुसपैठ के लिए तैयार हैं
विज्ञापन
शेर-ए-पंजाब रणजीत सिंह
शेर-ए-पंजाब रणजीत सिंह
ख़बर सुनें

विस्तार

पाकिस्तान के लाहौर के किले में शनिवार को महाराजा रणजीत सिंह की प्रतिमा को क्षतिग्रस्त करने का मामला सामने आया है। इस प्रकरण में स्थानीय पुलिस ने दो लोगों को गिरफ्तार भी किया है। बता दें महाराजा की इस नौ फुट ऊंची प्रतिमा का अनावरण लाहौर किले में जून में किया गया था।
विज्ञापन


समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, पुलिस ने इस मामले के दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर ईशनिंदा कानून के तहत उनके खिलाफ मामला दर्ज किया है। बताया जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर से विशेष दर्जा वापस लिये जाने को लेकर आरोपी दोनों व्यक्ति क्रोधित थे। महाराजा रणजीत सिंह सिख साम्राज्य के नेता थे, जिन्होंने 19 वीं शताब्दी में उपमहाद्वीप के पश्चिमोत्तर में शासन किया था।


गिरफ्तार किए गए आरोपी पाकिस्तान में मौलाना खैम रिज्वी के तहरीक-लब्बैक नाम के संगठन से जुड़े बताए गए हैं। उधर, इस घटना से अचंभित किले की देखरेख का जिम्मा निभाने वाली अर्ध सरकारी संगठन वाल्ड सिटी ऑफ लाहौर अथॉरिटी ने ईद के बाद प्रतिमा को जल्द से जल्द ठीक कराने की बात कही है। 

वाल्ड सिटी ऑफ लाहौर अथॉरिटी की प्रवक्ता तानिया कुरैशी ने पीटीआई से कहा कि यह काफी दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। भविष्य में ऐसी घटनाओं को होने से रोकने के लिए किले की सुरक्षा बढ़ाई जाएगी। प्रतिमा को अगले हफ्ते तक दोबारा ठीक करा लिया जाएगा। एक बार सबकुछ पहले जैसा हो जाने पर इसे आम लोगों के देखने के लिए खोल दिया जाएगा।

पीओके में जुटे 150 आतंकी
जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35-ए खत्म होने के बाद पाकिस्तान लगातार भारत में अशांति फैलाने की साजिश रच रहा है। खबर है कि पाक के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) और जम्मू-कश्मीर से लगती अंतरराष्ट्रीय सीमा पर दर्जन भर आतंकी शिविरों को फिर सक्रिय कर दिया गया है। करीब 150 से ज्यादा आतंकी भारत में घुसपैठ के लिए तैयार हैं। 

दरअसल, फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (एफएटीएफ) की मई 2019 तक की समयसीमा देखते हुए लगभग पूरी तरह बंद हुए आतंकी शिविरों में पिछले सप्ताह के दौरान सक्रियता बढ़ गई है। शीर्ष खुफिया सूत्रों के मुताबिक पीओके के कोटली, रावलकोट, बाघ और मुजफ्फराबाद में आतंकी शिविर फिर सक्रिय हो गए हैं। इसे देखते हुए भारतीय सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

पाकिस्तान को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी नहीं मिल रही कोई खास तवज्जो

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X