Hindi News ›   World ›   the jarramplas festival in spain maria hernandothe first woman to wear the traditional jarramplas costume, during the jarramplas festival on january 19 2022 in piornal of Spain

The Jarramplas Festival In Spain: स्पेन के जैरम्पलास फेस्टविल में महिला शैतान बनकर घूमती रही, लोग उस पर शलजम बरसाते रहे

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली, Published by: प्रतिभा ज्योति Updated Sat, 22 Jan 2022 07:03 PM IST

सार

इस फेल्टिवल का किशोरों में इतना क्रेज है कि वे राक्षस मवेशी चोर के रूप में तैयार होने का सपना देखते रहते हैं। जब कोई दूसरा जैरम्पलास बन जाता है, तो वे दो टन से अधिक शलजम उस पर फेंकते हैं।
जैरम्पलास की भूमिका निभाने वाली  मारिया हर्नाडो
जैरम्पलास की भूमिका निभाने वाली मारिया हर्नाडो - फोटो : Twitter : @maria_hernandos
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

स्पेन में जैरम्पलास फेस्टिवल यूं तो हर साल मनाया जाता है, लेकिन इस बार इसकी दुनिया भर में अलग वजहों से चर्चा हो रही है। क्योंकि जैरम्पलास की भूमिका पहली बार किसी महिला ने निभाई है। इस भूमिका के लिए महिला को 50 किलो का कपड़ा पहनना पड़ा। जैरम्पलास की भूमिका निभाने वाले को अपने शरीर पर कई किले कपड़े लपेटने होते हैं क्योंकि लोग शलजम से उस पर वार करते हैं। अब तक यह भूमिका मुख्य रूप से पुरुष ही निभाते रहे हैं। 


स्पेन में पिछल एक सदी से भी ज्यादा समय से हर साल 19 और 20 जनवरी को यह उत्सव मनाया जाता है। इसका नायक एक अजीब वेशभूषा पहनकर और राक्षस का मुखौटा पहनकर जैरम्पलास बनता है। इसकी बड़ी नाक होती है और मुखौटे में सींग लगा होता है। यह नाम स्पेनिश शब्द अरमप्लर से लिया गया है, जिसका अर्थ है चोरी करना। वह गलियों में घूमता है और लोग उस पर शलजम फेंककर प्रहार करते हैं।

स्पेन का जैरम्पलास फेस्टिवल
स्पेन का जैरम्पलास फेस्टिवल - फोटो : social Media
जैरम्पलास की कहानी क्या है? 
स्पेन में एक किंवदंती है कि जैरम्पलास एक ऐसा व्यक्ति था जो लोगों के जानवरों को चुराने के लिए शहर आता था, लेकिन स्थानीय लोग उसे पकड़ नहीं  पाते थे। एक बार वह पकड़ा गया तो लोगों ने चोर को भगाने के लिए मवेशियों के चारे के लिए इस्तेमाल की जाने वाली शलजम से उस पर मारना शुरू किया। कहा जाता है कि तब से हर साल इस उत्सव को मनाया जाता है। हालांकि कुछ लोग कहते हैं कि वह एक योद्धा था जो ईसाई धर्म में विश्वास करने के कारण मारा गया।

हालांकि अधिकांश लोग यही मानते हैं कि वह एक शैतान था जो मवेशियों को लूटने आता था।  इस उत्सव को बुराई पर अच्छाई की जीत के रूप में मनाया जाता है। इस फेस्टिवल को लेकर लोगों में बहुत आस्था है इसलिए 2047 तक के शैतानों के नाम पहले ही तय हो चुके हैं।   

कोरोना महामारी के कारण यह फेस्टिवल पिछले साल रद्द कर दिया गया था। अंतरराष्ट्रीय मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इस बार लोगों में इसे लेकर जबरदस्त उत्साह था और लोगों ने मोहल्लों में कई टन शलजम जमा कर लिए थे।   

स्पेन का जैरम्पलास फेस्टिवल
स्पेन का जैरम्पलास फेस्टिवल - फोटो : social Media
जैरम्पलास की भूमिका निभाने वाली महिला कौन है? 
खेती-किसानी के लिए मशहूर स्पेन के पिओरनल शहर में ऐसा पहली बार हुआ जब स्पेन में किसी महिला ने जैरम्पलास की भूमिका निभाई है। महिला का नाम मारिया हर्नाडो है। वह 27 साल की है। मारिया शैतान बनकर गली में घूमती रहीं और लोगों ने उसपर 23 हजार किलो से ज्यादा शलजम बरसा दिए। बहरहाल, वह शैतान बनकर खुश हैं और अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर उन्होंने अपनी खुशी का इजहार भी किया है।

इससे पहले उनके पिता जैरम्पालस बनते थे। जैरम्पालस बनने के लिए पिता ने बेटी को कुछ टिप्स भी दिए थे। पिता ने उन्हें सलाह दी कि शैतान बनने के लिए भारी कपड़े पहनने होंगे और सीधे चलना होगा। मारिया का सोशल मीडिया प्रोफाइल देखकर ऐसा लगता है कि वह किसी टीवी चैनल के लिए काम करती हैं। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get latest World News headlines in Hindi related political news, sports news, Business news all breaking news and live updates. Stay updated with us for all latest Hindi news.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00