पुण्यतिथि विशेष: मिर्जा गालिब ने ही काशी को कहा था काबा-ए-हिंदुस्तान

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, वाराणसी Updated Thu, 15 Feb 2018 02:24 PM IST
mirza ghalib death anniversary he said first time kaba e hindustan
मिर्जा गालिब - फोटो : self
तआ’ल अल्लाह बनारस चश्म-ए-बद-दूर। बहिश्त-ए-खुरर्म-ओ-फिरदौस-ए-मा’मूर। हे प्रभु बनारस को बुरी नजर से दूर रखना, क्योंकि यह आनंददायिनी और फिरदौस-ए-मा-मूर (सात स्वर्गों में से एक का नाम, भरा पूरा स्वर्ग) है। जाने-माने शायर मिर्जा गालिब ये बातें अपने एक महीने के बनारस प्रवास के अनुभवों के आधार पर लिखी थी। 
उनका मानना था कि यहां की आबोहवा में उस शक्ति का अनुभव होता है, जो न केवल हर तकलीफ दूर कर देती है बल्कि इसमें वह ताकत है, जो मृत लोगों को भी जीवित कर देती हैं। इसीलिए उन्होंने काशी को काबा-ए-हिंदुस्तान कहा था। अब गालिब की शायरी और गजलों की जानकारी ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पहुंचाने के लिए बीएचयू परिसर में इनके नाम पर चेयर (शोध पीठ) स्थापित कराने की तैयारी है। उर्दू विभाग ने इसकी पहल शुरू कर दी है।

गालिब का बनारस से एक खास लगाव था। नवंबर, 1827 में कानपुर, लखनऊ, इलाहाबाद होते हुए गालिब बनारस पहुंचे। उनकी तबीयत ठीक नहीं थी, वह केवल दो-तीन दिन रहना चाह रहे थे, लेकिन बनारस की कला, संस्कृति, आध्यात्मिकता से वह इतने प्रभावित हुए कि एक महीने तक रुक गए। इसका चित्रण उन्होंने अपनी प्रसिद्ध कृति चराग-ए-दैर (मंदिर का दीया) में किया गया है।

उर्दू विभाग के अध्यक्ष डॉ. आफताब अहमद आफाकी ने बताया कि पूर्व कुलपति प्रो. पंजाब सिंह ने मार्च, 2008 में गालिब इंस्टीट्यूट दिल्ली की ओर से आयोजित कार्यक्रम में चेयर स्थापित करने की घोषणा की थी। इसके लिए अब मंत्रालय को पत्र लिखने की तैयारी है।

 उर्दू विभाग में गालिब की पुण्यतिथि (15 फरवरी) पर गोष्ठी, गजल और क्विज का आयोजन किया गया है। कला संकाय सभागार में आयोजन के पहले चरण में संगोष्ठी, दूसरे सत्र में दोपहर दो बजे से गालिब क्विज और गजल गायन का आयोजन होगा। 
आगे पढ़ें

ये हैं मिर्जा गालिब के सबसे मशहूर शेर..

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Patiala

यूनिक आईडी कार्ड जारी होगा दिव्यांगों को

यूनिक आईडी कार्ड जारी होगा दिव्यांगों को

20 फरवरी 2018

Related Videos

सख्ती के बावजूद भी यूपी के इस जिले में हुआ 10वीं का पेपर लीक

प्रदेश के महाराजगंज में पेपर लीक होने का मामला सामने आया है। सोमवार को देर शाम हाई स्कूल विज्ञान का पेपर लीक होते ही हड़कंप मच गया। आनन-फानन में डीआईओएस ने स्कूल जाकर पैकेट की जांच की तो पैकेट फटा हुआ मिला, देखिए रिपोर्ट।

20 फरवरी 2018

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen