'रावण' के समर्थकों की जेल में भूख हड़ताल जारी

अमर उजाला ब्यूरो/ मेरठ Updated Fri, 10 Nov 2017 08:29 PM IST
'Raavan' supporters continue hunger strike in jail
भीम आर्मी के सदस्यों की भूख हड़ताल - फोटो : अमर उजाला ब्यूरो
सहारनपुर में भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ रावण पर रासुका लगाए जाने के विरोध में जेल में बंद भीम आर्मी के जिलाध्यक्ष कमल वालिया एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता मंजीत नौटियाल की भूख हड़ताल दूसरे दिन भी जारी रही। उन्होंने भूख हड़ताल के संबंध में जेल प्रशासन को भी अवगत कराया। उधर, पुलिस और प्रशासन ने इस दावे को सिरे से खारिज किया है और इसे कोरी अफवाह करार दिया।
सहारनपुर हिंसा के आरोपी एवं भीम आर्मी के संस्थापक रावण पर रासुका लगाए जाने के विरोध में भीम आर्मी के पदाधिकारी कमल सिंह वालिया एवं मंजीत सिंह ने बृहस्पतिवार से भूख हड़ताल शुरू कर दी थी। भीम आर्मी के पदाधिकारी दावा कर रहे हैं कि दोनों पदाधिकारियों की भूख हड़ताल दूसरे दिन भी जारी रही। बताया जा रहा है कि दोनों पदाधिकारियों को बैरक नंबर 5 से बैरक नंबर 9 में शिफ्ट कर दिया गया है। भीम आर्मी के पदाधिकारी दावा कर रहे हैं कि नई बैरक में भी दोनों पदाधिकारियों की भूख हड़ताल जारी है और इस मामले में जेल अधीक्षक को भी अवगत करा दिया गया है। इस मामले में वरिष्ठ जेल अधीक्षक डाक्टर वीरेश शर्मा का कहना है कि उन्हें भूख हड़ताल के संबंध में कोई सूचना नहीं दी गई है और न ही जेल में किसी ने कोई भूख हड़ताल की है। यहां सभी सामान्य हैं। कुछ लोग अफवाह के जरिए गलत सूचनाएं दे रहे हैं।

पढ़ें : 'रावण' ने पेशी के बाद कहा, रासुका से नहीं लगता डर
आगे पढ़ें

रासुका हटाए जाने की मांग

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Jhajjar/Bahadurgarh

धनखड़, बराला व कैप्टन की मंशा खराब, नहीं चाहते प्रदेश में बने भाईचारा

धनखड़, बराला व कैप्टन की मंशा खराब, नहीं चाहते प्रदेश में बने भाईचारा

19 फरवरी 2018

Related Videos

यूपी में अपराधियों के मन में एनकाउंटर का खौफ, सार्वजनिक रूप से मांग रहे माफी

यूपी में अपराधियों के मन में पुलिस के एनकाउंटर का खौफ पूरी तरह बैठ गया है। यहां लगातार हो रहे एनकाउंटर को देखकर दो अपराधियों ने सार्वजनिक तौर पर अपने करनामों के लिए माफी मांगी है। इन दोनों पर हत्या और लूट के नौ मामले दर्ज है।

17 फरवरी 2018

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen