85 हजार के गबन में फंसे बैंक प्रबंधक

Gonda Updated Tue, 30 Oct 2012 12:00 PM IST
गोंडा। किसान क्रेडिट कार्ड के खाता में हेराफेरी करके 85 हजार रुपये निकालने के मामले में बैंक के शाखा प्रबंधक के खिलाफ थाना कटरा बाजार में नामजद रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। कटरा बाजार थाना क्षेत्र के तिलका गांव के मजरा पाण्डेय पुरवा निवासी रामजग ने दर्ज कराई रिपोर्ट में कहा है कि एक सितंबर 2009 को उसने इलाहाबाद बैंक की तिलका शाखा से किसान क्रेडिट कार्ड बनवाया था। जिस पर 24 हजार रुपये ऋण आहरण सीमा निर्धारित थी। रामजग ने बताया कि उसने खाता से 23 हजार रुपये निकाले थे और उसी की अदायगी और नवीनीकरण के लिए एक सप्ताह बाद तिलका शाखा गया था। वहां शाखा प्रबंधक से मिला तो उन्होंने बैंक पासबुक ले ली और फॉर्म और कुछ सादे कागज पर हस्ताक्षर करा लिए। रामजग के मुताबिक शाखा प्रबंधक ने उसे एक सप्ताह बाद बुलाया। रामजग ने बताया कि इस बीच वह नवीनीकरण के लिए शाखा प्रबंधक से कई बार मिला तो उन्होंने उसे दो पासबुक थमा दीं और उसके नाम से एक अन्य किसान क्रेडिट कार्ड बनाकर उसके खाते से 85 हजार रुपये निकाल लिए। रामजग ने बताया कि जब उसे पता चला कि उसके खाते से जालसाजी करके 85 हजार रुपये निकाल लिए गए हैं तो वह बैंक गया। वहां शाखा प्रबंधक और बैंक के अन्य कर्मियों ने उसे धमकाकर भगा दिया। इस मामले में रविवार को रामजग ने शाखा प्रबंधक अमरेंद्र झा के खिलाफ थाना कटरा बाजार में जालसाजी व गबन की रिपोर्ट दर्ज कराई है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

उन्नाव: यूपी पुलिस के हाथ लगी बड़ी सफलता, किया नकली शराब कंपनी का भंडाफोड़

लखनऊ एसटीएफ और उन्नाव पुलिस के हाथ बड़ी सफलता लगी है। दरसअल लखनऊ एसटीएफ और उन्नाव पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में एक नकली देशी शराब बनाने वाली फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। इस फैक्ट्री में बनने वाली नकली शराब आसपास के कई जिलों में सप्लाई की जाती थी।

2 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls